• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नाराज बांग्‍लादेश को भारत सरकार ने 25 हजार टन प्‍याज भेजकर मनाया

|
Google Oneindia News

नई दिल्‍ली। भारत सरकार ने फैसला किया है कि अतिरिक्‍त प्‍याज जो इस समय बंदरगाह पर पड़ा हुआ है, उसे बांग्‍लादेश समेत दूसरे देशों का निर्यात किया जाएगा। आपको बता दें कि पिछले दिनों केंद्र सरकार ने एक आदेश के बाद प्‍याज के निर्यात पर रोक लगा दी थी। शुक्रवार को सरकार के सूत्रों की तरफ से बताया गया है कि केंद्र सरकार के प्‍याज निर्यात रोकने वाले फैसले पर बांग्‍लादेश की तरफ से आपत्ति दर्ज कराई गई थी। अब सरकार ने बांग्‍लादेश अथॉरिटीज को राहत भरी खबर सुनाई है।

onion-india.jpg

यह भी पढ़ें-भारत-चीन के बीच रूस के पुतिन ने खेला मास्‍टरस्‍ट्रोकयह भी पढ़ें-भारत-चीन के बीच रूस के पुतिन ने खेला मास्‍टरस्‍ट्रोक

बांग्‍लादेश के विदेश सचिव- बोले थैंक्‍यू

सूत्रों की मानें तो इस समय करीब 20,089 मीट्रिक टन प्‍याज मुंबई के बंदरगाह पर पड़ा हुआ है। इसके अलावा त्रिची में 933 और नागपुर में 258 मीट्रिक टन प्‍याज बंदरगाहों पर पड़ा हुआ है। इमरजेंसी के आधार पर 25 हजार टन प्याज ढाका भेजा गया है। सूत्रों ने बताया कि भारत में प्याज के दाम बढ़ने की वजह से अस्थाई रूप से बांग्लादेश को निर्यात पर रोक लगाई गई थी। लेकिन इससे बांग्लादेश में प्याज की काफी कमी हो गई और वहां इसके दाम तेजी से बढ़ गए। इसके बाद बांग्लादेश सरकार के आग्रह पर फिलहाल 25 हजार टन प्याज ढाका रवाना किया गया है। यह बांग्लादेश को भारत की ओर से विशेष सम्मान है। जानकारी के मुताबिक प्याज से लदे करीब 250 ट्रक बांग्लादेश पहुंचने वाले हैं। इससे पहले भारत में तैनात बांग्लादेश के उच्चायुक्त ने अपने विदेश सचिव को अवगत कराया कि भारत सरकार ने इमरजेंसी के तौर पर उनके देश को प्याज का निर्यात बहाल कर दिया है। बांग्लादेश के विदेश सचिव ने आग्रह स्वीकार करने के लिए भारत सरकार का आभार जताया।

बांग्‍लादेश ने जताई थी नाराजगी

बांग्‍लादेश को भारत की तरफ से प्‍याज की सबसे ज्‍यादा मात्रा भेजी जाती है। जब पिछले दिनों भारत सरकार ने इसके निर्यात पर रोक लगाई तो वहां की सरकार काफी नाराज हो गई थी। भारत सरकार की तरफ से यह फैसला ऐसे समय में लिया गया जब बांग्‍लादेश ने त्‍योहारों के सीजन में लोकप्रिय हिल्‍सा मछली के निर्यात को मंजूरी दी थी। ढाका की तरफ से 1,457 टन हिल्‍सा मछली अक्‍टूबर तक सप्‍लाई की जाएगी। पिछले वर्ष भी सरकार की तरफ से प्‍याज के निर्यात को रोक दिया था। उस समय जब बांग्‍लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना भारत की यात्रा पर आई थीं तो उन्‍होंने एक कार्यक्रम में अपने दर्द का जिक्र किया था। उन्‍होंने कहा था, 'मुझे नहीं मालूम कि आपने अचानक प्‍याज का निर्यात क्‍यों रोक दिया। इसलिए अब मैंने अपने कुक को बोल दिया है कि वह खाने में प्‍याज का प्रयोग न करे।'

Comments
English summary
India allows the export of onions lying on ports to countries including Bangladesh.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X