हरिद्वार में धमाका करने की योजना बनाने वाले ने हमले से पहले की थी रेकी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। इसी साल हरिद्वार में आतंकी हमला प्लान करने के आरोपी इस्लामिक स्टेट के आतंकी ने हरिद्वार की उस जगह पर रेकी की थी, जहां पर वह धमाका करने की योजना बना रहा था। यह हमला करके इस्लामिक स्टेट दुनिया को दिखाना चाहता था कि भारत में भी इस्लामिक स्टेट अपनी पैठ जमा चुका है।

terrorist

पैदा होने के 24 घंटे में बेच देते थे बच्चा, 8 लोग हुए गिरफ्तार

यह बात तब सामने आई है जब एक स्पेशल कोर्ट द्वारा इस्लामिक इस्टेट के इस आतंकी के खिलाफ आतंक और साजिश के चार्ज लगाए हैं। स्पेशल एनआईए कोर्ट के जिला और सेशन जज अमरनाथ ने हाल ही में 5 लोगों के खिलाफ चार्ज लगाए हैं।

यह चार्ज तब लगाए गए जब इस बात का खुलासा हुआ कि इन पांचों व्यक्तियों ने देवबंद और लखनऊ में मीटिंग की थी और यह योजना बनाई थी कि हवाला के जरिए देश में इस्लामिक स्टेट का नेटवर्क फैलाया जाएगा और पैसा पहुंचाया जाएगा।

सिमी के आतंकियों की कब्र पर लगाए शहादत के पत्थर

जांच एजेंसी को मिले सबूतों के हिसाब से यह बात सामने आई है कि इन लोगों ने देश में आतंक फैलाने के लिए करीब 6 लाख रुपए बांटे भी थे। साथ ही, इन लोगों ने हरिद्वार की 'हर की पौड़ी' की रेकी भी की थी।

इन पांचों लोगों के नाम हैं मोहम्मद अजीमुशान, मोहम्मद ओसामा, अखलाकुर रहमान, मोहम्मद मेराज और मोहसिन इब्राहिम सैयद। इन लोगों के खिलाफ आपराधिक षड़यंत्र और कई अन्य अपराधों के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां रोकने की धारा 1967 के तहत चार्ज दायर किए गए हैं।

भारत ने पाकिस्तान को दी चेतावनी, नहीं माने तो भुगतोगे परिणाम

उत्तराखंड और दिल्ली की पुलिस की एक ज्वाइंट टीम ने इस बात का दावा किया था कि उन्होंने अर्ध कुंभ के दौरान हरिद्वार में होने वाले एक आतंकी हमले को नाकाम किया था।

कोर्ट में दायर रिपोर्ट के मुताबिक इस आतंकी हमले के लिए युसुफ-अल-हिंदी नाम के एक शख्स ने निर्देश दिए थे, जो सीरिया में रहने वाला इस्लामिक स्टेट का हैंडलर है। आरोपियों के बयान के मुताबिक वे लोग हरिद्वार में और हरिद्वार आने वाली एक ट्रेन में धमाके करने की फिराक में थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
haridwar was recced by IS operatives
Please Wait while comments are loading...