• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Global Hand washing Day: इस साल का 'हैंडवॉशिंग डे' सबसे ज्यादा रहा चर्चा में, जानते हैं क्यों?

|

नई दिल्ली: Global Hand washing Day 2020: आज 15 अक्टूब को ग्‍लोबल हैंडवॉशिंग डे (Global Handwashing Day) है। 2008 से हर साल 15 अक्टूबर को ग्‍लोबल हैंडवॉशिंग डे मनाया जाता है। इस दिन, दुनिया भर में बीमारियों से बचाव और जीवन को बचाने के लिए आसान, प्रभावी और सस्ती तरीके से साबुन से हाथ धोने की वकालत करते हैं। इस साल के ग्‍लोबल हैंडवॉशिंग डे का थीम है- 'Hand hygiene for all'. 'हैंडवॉशिंग डे' इस साल 2019-2020 में जितना ज्यादा चर्चा में रहा है उतना कभी नहीं रहा। जिसके पीछे की वजह है कोरोना वायरस महामारी।

Global Hand washing Day
    Handwashing Day 2020: Corona काल में कितनी ज़रूरी है हाथों की स्वच्छता ? | वनइंडिया हिंदी

    कोरोना ने बनाया Global Hand washing Day को और भी ज्यादा अहम

    कोरोना काल में लोगों ने हैंड सैनिटाइजेशन और हाथ धोने (हैंडवॉशिंग) को गंभीरता से लिया है। शायद इससे पहले कभी भी हाथों की सफाई पर इतना ज्यादा ध्यान नहीं दिया गया था और ना ही लोगों ने इसे जरूरी समझा था। कोरोना संक्रमण काल ने हाथ धोते रहने की प्रवृत्ति को और भी आगे बढ़ाने का काम किया है। कोरोना महामारी से पहले हैंडवाशिंग की आदत का पालन करना कभी भी इतना अधिक महत्वपूर्ण नहीं था।

    अपने हाथों को साफ रखना सबसे महत्वपूर्ण आदतों में से एक है और इसी आदत की वजह से हम कोविड-19 (covid-19) के संक्रमण को भी रोक सकते हैं। लोग महामारी के दौरान हैंडवॉशिंग पर अधिक ध्यान केंद्रित करते हैं। जुलाई 2020 में हुए एक सर्वेक्षण में पाया गया कि 88% अमेरिकियों ने कहा कि वे अपने हाथों को ज्यादा से ज्यादा बाद धो रहे थे। ताकी कोरोना ना फैले।

    हैंडवॉश को लेकर क्या कहते हैं एक्सपर्ट

    डॉक्टर हमेशा हमें दिन में हर एक से दो घंटे में हाथों को अच्छी तरह से धोने की सलाह देते हैं। डॉक्टर के मुताबिक हमारे हाथों में न जाने कितनी गंदगी छिपी होती है, जो किसी भी वस्तु को छूने, उसका इस्तेमाल करने और कई तरह के रोजमर्रा के कामों के कारण होती है।

    Global Hand washing Day

    एक रिसर्च के मुताबिक साबुन और पानी से हैंडवॉश करने से 3 लोगों में से 1 को दस्त से और 5 लोगों को सांस की बीमारी होने से रोका जा सकता है। यही वजह है कि हैंडवॉश करना बहुत महत्वपूर्ण है, विशेष रूप से बाथरूम का उपयोग करने के बाद, खाना बनाते समय। खाने से पहले, और खांसने, छींकने या अपनी नाक साफ करने के बाद।

    क्यों मनाया जाता है Global Hand washing Day

    हैंडवॉश डे मनाने के पीछे का मकसद था, हाथों की साफ-सफाई पर ध्यान देना और इससे फैलने वाली बीमारियों को रोकना। हैंडवॉश डे मनाने के पीछे स्वास्थ्य संगठनों का लक्षय है, हाथ धोने के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़े। इसके अलावा हाथों की गंदगी से होने वाली बीमारी जैसे डायरिया, आंख और त्वचा संबंधी बीमारियों से भी लोगों का बचाव करना।

    ग्लोबन हैंड वॉशिंग डे की स्थापना साल 2008 में ग्लोबल हैंड वॉशिंग पार्टनरशिप द्वारा की गई जिसका प्रयास साबुन से हाथ धोने के महत्व पर जागरूकता बढ़ाना था।

    ये भी पढ़ें-APJ Abdul Kalam Anniversary: अपनी राष्ट्रपति की तनख्वाह का क्या करते थे 'मिसाइल मैन'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Global Hand washing Day 2020: In covid 19 pandemic year's Handwashing Day is more important
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X