• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

BTech-MTech में दाखिले से मोहभंग, BEd के प्रति रुझान में भारी इजाफा

|

नई दिल्ली- बीटेक, एमटेक जैसे प्रोफेशनल कोर्स के प्रति छात्रों का रुझान बहुत ही कम हो गया है। इन पाठ्यक्रमों में होने वाले दाखिलों में पिछले चार साल में सबसे ज्यादा गिरावट दर्ज की गई है। 2015-16 के सत्र से अंडरग्रैजुएट स्तर पर प्रोफेशनल कोर्स में नामांकन लेने वाले छात्रों की संख्या में करीब 9% की गिरावट देखी गई है। ये आंकड़े शनिवार को जारी किए गए ऑल इंडिया सर्वे ऑन हाइयर एजुकेशन के जरिए सामने आए है।

dip fall in B.Tech, M.Tech enrolment,some professional courses still attractive

खबर के मुताबिक इस सर्वे में कहा गया है कि पिछले पांच वर्षों में एमटेक कोर्स में दाखिले आधे से भी कम रह गए हैं। ऑल इंडिया सर्वे ऑन हाइयर एजुकेशन रिपोर्ट 2018-19 के मुताबिक 2014-15 में एमटेक कोर्स में दाखिलों की तादाद 2,89,311 थी, लेकिन 2018-19 में यह संख्या घट कर केवल 1,35,500 रह गई। जबकि इसी दौरान बीटेक में हुए नामांकन में 11% की गिरावट देखी गई। 2014-15 में बीटेक कोर्स में 42,54,919 छात्रों ने दाखिला लिया था, लेकिन 2018-19 में इनकी संख्या घट कर 37,70,949 रह गई है।

सर्वे में पाया गया है कि 2015-16 से प्रोफेशनल एजुकेशन में दाखिला लेने वाले छात्रों की संख्या में 7,21,506 की कमी आई है, जो कि करीब 9% के बराबर है। जहां तक पोस्ट ग्रैजुएट प्रोफेशनल प्रोग्राम की बात है तो 15-16 से 15-19 के बीच में इसमें करीब 32 % की गिरवाट देखी गई है, जो कि 18,07,646 से घटकर 12,36,404 रह गई है। ये गिरावट उस वक्त में है जब उच्च शिक्षा में नामांकन हमेशा के मुकाबले सबसे ज्यादा है। सर्वे के अनुसार उच्च शिक्षा में कुल दाखिला 3.74 करोड़ रहा है, जो कि एक साल पहले के 3.66 से अधिक है।

हालांकि एमबीए, एमबीबीएस, एलएलबी और बीएड जैसे प्रोफेशनल कोर्स में छात्रों का आकर्षण बरकरार है। बल्कि, बीएड के प्रति तो छात्रों में आकर्षण बहुत बढ़ गया है। मसलन, 2014-15 में एमबीए में दाखिला लेने वालों की संख्या 4,09,432 थी, जबकि 2018-19 में यह संख्या बढ़ कर 4,62,853 हो गई। सबसे खास तो बीएड का हाल रहा जिसमें एडमिशन में बहुत ज्यादा इजाफा दर्ज किया गया है। 2014-15 में बीएड में नामांकन लेने वालों की संख्या सिर्फ 6,57,194 थी, जबकि 2018-19 में यह बढ़ कर 11,75,517 हो गई।

इस सर्वे में यह भी सामने आया है कि देश में यूनिवर्सिटी की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है। इस समय देश में कुल 993 यूनिवर्सिटी हैं, जो कि एक साल पहले 903 और उससे भी एक साल पहले यानि 2017-18 में सिर्फ 864 ही थे। इनके अलावा देश में इस वक्त 39,931 और 10,725 स्वतंत्र शिक्षण संस्थान हैं। ये सर्वे इन सभी शिक्षण संस्थानों से मिले जवाब के आधार पर ही तैयार किया गया है।

इसे भी पढ़ें- Daughter's Day: देश की इस बेटी ने साबित किया कि ज्ञान से ही मिलती है मंजिल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
dip fall in B.Tech, M.Tech enrolment,some professional courses still attractive
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X