• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नाम और पता एक होने पर पड़ोसन ने की खास प्लानिंग, ऐसे निकाल लिए लाखों रुपये

|

नई दिल्ली। बैंक से पैसे निकाले जाने और ठगी की घटनाएं लगातार सामने आती रहती हैं। ऐसे में बैंकों की ओर से भी ग्राहकों को खास सावधानी बरतने और अपनी कॉन्फिडेंशियल डिटेल्स किसी से भी शेयर नहीं करने की अपील की जाती रहती है। बावजूद इसके कई बार लोगों की लापरवाही उन्हें ठगी का शिकार बना देती हैं। ताजा मामला राजधानी दिल्ली का है, जहां एक महिला को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इस महिला पर आरोप है कि उसने अपने पड़ोस में रहने वाली एक महिला के बैंक अकाउंट से फर्जी हस्ताक्षर के जरिए करीब 3.62 लाख रुपये निकाल लिए। पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला और पड़ोस में रहने वाली महिला का नाम और पता लगभग एक होने की वजह से उसे ठगी में आसानी हुई।

बैंक खाते से निकाल लिए 3.62 लाख रुपये

बैंक खाते से निकाल लिए 3.62 लाख रुपये

दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि उत्तम नगर में द्वारका के विपिन गार्डन में रहने वाली शिकायतकर्ता महिला ने आरोप लगाया कि किसी ने उसके बैंक खाते से 3.62 लाख रुपये निकाल लिए थे। इस संबंध में जांच करने के दौरान बैंक से पता चला कि ठगी की इस घटना में लेन-देन चेक और एटीएम कार्ड के जरिए किया गया था, जो उन्हें कभी नहीं मिले। पुलिस ने बताया कि महिला ने फरवरी में चेकबुक और एटीएम कार्ड के लिए आवेदन किया था, लेकिन उसे बैंक से कोई कोरियर नहीं मिला।

कुरियर ब्वॉय की गलती से आरोपी महिला के हाथ लगे चेक बुक और एटीएम

कुरियर ब्वॉय की गलती से आरोपी महिला के हाथ लगे चेक बुक और एटीएम

डीसीपी एंटो अल्फोंस ने बताया कि जांच के दौरान, यह पाया गया कि कुरियर ब्वॉय की गलती से चेक बुक और एटीएम कार्ड आरोपी महिला को मिल गया, ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि महिला का नाम और पता लगभग एक ही था। इस वजह से ठग महिला का काम आसान हो गया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी महिला ने पूरी प्लानिंग के साथ नया एटीएम कार्ड इश्यू करवाया और इस कार्ड का इस्तेमाल शॉपिंग और कैश निकालने के लिए किया। जब इस ठग महिला को पुलिस के केस के बारे में पता चला तो इसने चुपचाप कुछ पैसे डिपॉजिट भी करवा दिए। पुलिस ने बताया कि फिलहाल इस मामले में पीड़ित महिला को हुए नुकसान की भरपाई हो गई है।

जब आरोपी महिला ने बैंक से किया संपर्क तो हुई उसकी गिरफ्तारी

जब आरोपी महिला ने बैंक से किया संपर्क तो हुई उसकी गिरफ्तारी

पुलिस ने बताया कि आरोपी को इस सप्ताह की शुरुआत में ही गिरफ्तार किया गया जब उसने बैंक से संपर्क किया था। पूछताछ के दौरान, आरोपी ने खुलासा किया कि वह करीब डेढ़ साल पहले किराए के आवास में रहने के लिए आई थी और शिकायतकर्ता को पता था कि वे एक ही नाम और पता साझा करते हैं। डीसीपी एंटो अल्फोंस ने बताया कि 49 वर्षीय आरोपी महिला पीड़िता के हस्ताक्षर को भी जानती थी, जो कि हिंदी में था और उसने कई बार इसका अभ्यास करके सीख लिया। आरोपी ने शिकायत का मोबाइल नंबर भी बदल दिया, जो पहले से खाते से जुड़ा हुआ था।

चेक से निकाले 50 हजार, एटीएम से निकाल लिए 97 हजार

चेक से निकाले 50 हजार, एटीएम से निकाल लिए 97 हजार

आरोपी ने इसके बाद उसने 50 हजार का चेक बैंक में लगाया और वह क्लीयर हो गया। इसके बाद उसने 4 और बार पैसे निकलवाए। इतना ही नहीं उसने एटीएम कार्ड भी इश्यू कराने के साथ ही मोबाइल नंबर भी बदलवा लिया। एटीएम से भी उसने 97000 रुपये निकलवा लिए और 15 हजार रुपये की खरीदारी की। पीड़ित महिला को अपने अकाउंट से पैसे निकलने का पता तब चला, जब उसने कुछ रिपेयर वर्क के लिए पैसे निकालने के लिए बैंक से संपर्क किया। इसी दौरान उसे पता चला कि उनका अकाउंट खाली है। फिलहाल पुलिस ने आरोपी महिला से पूरे पैसे अकाउंट में जमा करा दिए और साथ ही एटीएम कार्ड और चेक बुक भी बरामद कर लिया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Delhi woman arrested allegedly using forged signature withdraw Rs 3.62 lakh bank account her namesake.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X