• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

येदियुरप्पा ने बयान को तोड़-मरोड़कर पेश करने का आरोप लगाया, कांग्रेस जाएगी सुप्रीम कोर्ट

|

बंगलूरू। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा है कि कांग्रेस बागी विधायकों पर लीक ऑडियो क्लिप में उनके बयान को तोड़-मरोड़कर पेश कर रही है। वहीं विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने घोषणा की है कि वह बागी विधायकों की बगावत में भाजपा की कथित संलिप्तता के कारण आज राज्यभर में प्रदर्शन करेगी।

bs yediyurappa

कांग्रेस ने ये भी कहा है कि वह इस मामले को सोमवार को सुप्रीम कोर्ट के समक्ष लेकर जाएगी। इससे पहले कर्नाटक के 17 विधायकों की अयोग्यता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर 25 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। येदियुरप्पा ने कहा है कि जिन्होंने इस्तीफा दिया (अयोग्य विधायक) है, उन्होंने अपने कारणों से ऐसा किया है और इसमें उनकी पार्टी का कुछ लेना-देना नहीं है।

अपने बयान का बचाव किया

अपने बयान का बचाव किया

हुबली में दिए गए अपने बयान का बचाव करते हुए उन्होंने कहा, 'आगे क्या किया जाएगा ये हमारी पार्टी फैसला करेगी, जो मैंने कहा उसपर हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष फैसला लेंगे, और कुछ नहीं।' मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने इस बात से भी इनकार किया है कि उन्होंने इस्तीफा देने वाले विधायकों को टिकट देने की बात कही थी। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के समक्ष मामले को तोड़-मरोड़कर पेश किया जा रहा है। उन्होंने कहा, 'इसका कोई मतलब नहीं निकलता, अमित शाह से इस्तीफा मांगना बेवकूफी है। ये झूठा प्रचार है... लोग (कांग्रेस को) उपचुनाव में सबक सिखाएंगे।'

क्लिप में क्या बोल रहे हैं येदियुरप्पा?

क्लिप में क्या बोल रहे हैं येदियुरप्पा?

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस क्लिप में वह ये कहते हुए सुने जा सकते हैं, '17 बागी विधायकों के कारण हम सत्ता में हैं, 3.5 साल हम सत्ता में रहेंगे। हमने जो भी प्रयास किए वह आप सभी जानते हैं और यहां तक कि राष्ट्रीय अध्यक्ष भी जानते थे। हमने विधायकों को 2.5 महीने तक मुंबई में रखा। तीन महीने तक ये विधायक ना तो विधानसभा गए और ना ही अपने परिवारों से मिले।'

राष्ट्रपति को सौंपा गया ज्ञापन

राष्ट्रपति को सौंपा गया ज्ञापन

इस क्लिप के आने के बाद कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने कर्नाटक के राज्यपाल के माध्यम से राष्ट्रपति कोविंद को एक ज्ञापन सौंपा था, जिसमें बीएस येदियुरप्पा और गृहमंत्री अमित शाह को 'लोकतंत्र के हित में' मंत्रिपरिषद से बर्खास्त करने की मांग की गई है। ज्ञापन सौंपने के बाद कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्दारमैया ने कहा, हमने राज्यपाल से मुलाकात की और ज्ञापन सौंपा। आप यह जानते हैं कि मीडिया ने एक क्लिप ऑन एयर भी की थी। कोर कमेटी की बैठक में येदियुरप्पा ने कहा था कि अमित शाह के निर्देश पर दलबदल किया गया था। उन्होंने उन सभी विधायकों की निगरानी की जो मुंबई में थे। यह असंवैधानिक है।

हरियाणा के करनाल में पांच साल की बच्ची 50 फीट गहरे बोरवेल गिरी, बचाव अभियान जारीहरियाणा के करनाल में पांच साल की बच्ची 50 फीट गहरे बोरवेल गिरी, बचाव अभियान जारी

English summary
karnataka cm bs yediyurappa accused congress and said his statement is distorting in tape.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X