• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नागरिकता कानून के विरोध में भारत रत्न भूपेन हजारिका के परिवार ने सम्मान लौटाने का किया ऐलान

|

नई दिल्ली। भारत रत्न से सम्मानित भूपेन हजारिका के परिवार ने सम्मान लौटाने का ऐलान किया है। गायक, संगीतकार और फिल्मकार भूपेन हजारिका को 25 जनवरी 2019 को मरणोपरांत देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया, लेकिन नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में उनके परिवार ने भारत रत्न सम्मान लौटाने का निर्णय लिया है।

 Bhupen Hazarika

आपको बता दें कि इस विधेयक को लेकर असम में विरोध प्रदर्शन का दौर चल रहा है। पिछले कई दिनों से विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इस नागरिक संशोधन बिल के विरोध में भूपेन हजारिका के परिवार ने सम्मान लौटाने का ऐलान किया है। आपको बता दें कि भूपेन हजारिका ने असम ने असम और पूर्वोत्तर भारत के संस्कृति और लोक संगीत को देश-दुनिया तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने हिंदी सिनेमा के माध्यम से असमिया संगीत को लोकप्रिय करने में अहम योगदान दिया। भूपेन हजारिका को संगीत और असम के विकास में योगदान के लिए इसी साल भारत रत्न से सम्मानित किया गया, लेकिन अब उनके परिवार ने इसे लौटाने का ऐलान कर दिया है।

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन विधेयक के जरिए पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से बिना वैध यात्रा दस्तावेजों के भारत आए या जिनके वैध दस्तावेजों की समय सीमा खत्म हो गई है उन्हें भारतीय नागरिकता प्राप्त करने लायक बनाता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Famed Assamese singer Bhupen Hazarika's family has decided to turn down the Bharat Ratna that was conferred to him by the Modi government this year, as a mark of protest against the Citizenship Bill.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X