• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पुणे-मुंबई हाइपरलूप प्रोजेक्ट पर क्या है उद्धव सरकार का प्लान, खुद डिप्टी सीएम अजित पवार ने किया खुलासा

|

मुंबई। महाराष्ट्र की जनता को फिलहाल भारतीय रेलवे और मेट्रो ट्रेन से ही संतुष्ट करना होगा क्योंकि हाइपरलूप ट्रेनों में सफर करने का सपना पूरा होने में काफी समय है। महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने शुक्रवार को कहा कि हाइपरलूप टेक्नोलॉजी का उपयोग अभी विश्व के किसी भी देश में नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि इसे हमारे सामने कहीं और स्थापित होने दें, एक बार जब यह सफल हो जएगा तो हम इसके बारे में सोच सकते हैं।

सरकार करे ये काम तो बन सकता है विश्व रेकॉर्ड

सरकार करे ये काम तो बन सकता है विश्व रेकॉर्ड

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में बीजेपी सरकार ने मुंबई और पुणे के बीच हाइपरलूप परियोजना को शुरू करने के लिए ऑरिजिनल प्रोजेक्ट प्रॉपनेंट (ओपीपी) को मंजूरी दे दी थी। लेकिन अब राज्य में सरकार गठबंधन की है और बीजेपी सरकार का हिस्सा नहीं है। ऐसे में अजित पवार के इस बयान से यही लगता है कि हाइपरलूप परियोजना को महाराष्ट्र में शुरू करने में अभी और कई साल लगेंगे। बता दें कि वर्जिन हाइपरलूप वन के मुताबिक अगर राज्य सरकार परियोजना को शुरू करती है तो वह दुनिया में हाइपरलूप प्रौद्योगिकी को समर्थन देने वाला पहला राज्य बन जाएगा।

पिछले साल साइन हुआ था करार

पिछले साल साइन हुआ था करार

मुंबई और पुणे के बीच हाइपरलूप चलाने को लेकर वर्जिन ग्रुप और महाराष्ट्र सरकार के बीच करार हुआ था। पिछले साल मई में वर्जिन ग्रुप ने महाराष्ट्र सरकार के साथ मेमोरेंडम फ अंडरस्टैंडिंग साइन किया था। इसके तहत 3 सालों में वर्जिन टेस्ट ट्रैक का निर्माण करेगा और 6 सालों में मुंबई-पुणे के बीच हाइपरलूप का काम पूरा किया जाएगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने रखी आधारशिला

रविवार को इसकी आधारशिला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रखी। महाराष्ट्र निवेशक सम्मेलन के पहले दिन वर्जिन ग्रुप के चेयरमैन रिचर्ड ब्रैन्सन ने कहा, 'हमने महाराष्ट्र के साथ हाइपरलूप का करार किया है। इसकी शुरुआत परीक्षण के लिए ट्रैक बनाने के साथ होगी। इसके जरिये 15 करोड़ यात्री सलाना सफर कर पाएंगे।' हाइपरलूप को मुंबई-पुणे के अलावा नवी मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से भी जोड़ा जाएगा। इसकी रफ्तार 1000 किलोमीटर प्रतिघंटा होगी। इसे देश के सबसे बिजी एक्सप्रेस-वे मुंबई-पुणे हाइवे के साथ-साथ बनाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: निर्भया केस: कोर्ट ने जारी किया नया डेथ वारंट, दोषियों को अब इस दिन दी जाएगी फांसी

English summary
Ajit Pawar said Hyperloop has never been constructed anywhere in the world till now
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X