GST पर सरकार चलाएगी 6 दिन की मास्टर क्लास, 175 अफसरों की बनी कमेटी

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। वस्तु एवं सेवा कर (GST) लागू होने के बाद सरकार इस पर निगरानी के लिए 175 अफसरों की कमेटी बनाएगी। हर अधिकारी के पास 4-5 जिले की जिम्मेदारी होगी। यह जानकारी राजस्व सचिव हसमुख अढिया ने दी।

मंगलवार को एक प्रेस वार्ता के दौरान अढिया ने कहा कि GST पर निगरानी के लिए 15 विभागों के सचिवों की कमेटी बनाई जाएगी। उन्होंन जानकारी दी कि इसके जरिए सप्लाई और कीमत पर नजर रखी जाएगी।

GST पर सरकार चलाएगी 6 दिन की मास्टर क्लास, टोल टैक्स पर सरकार का बड़ा बयान

अढिया ने कहा कि देश ने GST को स्वीकार किया है और स्थिति पर हमारी नजर है। अढिया ने जानकारी दी कि GSTN में 2,02,000 आवेदन आए हैं जिसमें से 39 000 आवेदन स्वीकार कर लिए गए हैं।

इसके साथ ही 1,00,000 आवेदनों के पार्ट A ही भरे गए हैं और पार्ट B बाकी है। अढिया ने कहा कि जिन अफसरों की कमेटी बनेगी उन्हें फील्ड में नहीं जाना होगा।

GST: Finance Ministry to address Public queries on GST with direct communication | वनइंडिया हिंदी

ये भी पढ़ें:GST इफेक्ट : LPG सिलेंडर महंगा, इस महीने से देने होंगे 32 रुपये ज्यादा

6 दिन चलेगी क्लास

अढिया ने कहा कि GST पर लोगों के सवालों का जवाब देने के लिए 6 दिन की क्लास चलेगी। जिसे मास्टर क्लास का नाम दिया गया है। यह क्लास 6 जुलाई से चलेगी। जो शाम को 4:30 से 5:30 बजे तक चलेगी।

शुरू के 3 दिन क्लास हिन्दी में चलेगी और उसके बाद 3 दिन अंग्रेजी में और इसका प्रसारण डीडी न्यूज और डीडी नेशनल पर किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि 22 राज्यों में टोल नाके खत्म कर दिए गए, बाकी राज्यों में भी खत्म कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि टोल टैक्स , एंट्री टैक्स GST के दायरे में नहीं होगी।

जानकारी मुहैया कराई गई कि अगर किसी सामान का रेट बढ़ रहा है जो पैक्ड है तो उसके लिए निर्माता को दो अखबारों में विज्ञापन प्रकाशित कर यह बताना होगा कि अमुक कर बढ़ने के बाद इसका दाम बढ़ाया गया है।

ये भी पढ़ें: GST के विरोध में उतरे भाजपा के ही दो दिग्गज नेता, पढ़िए क्या कहा

देना होगा अखबार में विज्ञापन

बताया गया कि किसी चीज के MRP में GST शामिल होगी इसके साथ ही सामान पर नए और पुराने दाम दिखाने होंगे। अढिया ने कहा कि कई चीजों के दामों में कमी आई है। कहा गया कि कीमत पर निगरानी और जागरूकता के लिए टीम का गठन किया गया है। GST का उद्देश्य है कि महंगाई में कमी आए। जिन 175 अफसरों की कमेटी बनाई गई है, उनकी बैठक कल होगी।

ये भी पढ़ें: जीएसटी के बाद प्रीपेड यूजर्स को नहीं मिल रहा रिचार्ज पर सही दाम

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
After GST We are closely monitoring the price situation and supply situation-Adhia
Please Wait while comments are loading...