• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अडानी की कंपनी ने रोके गांगुली के विज्ञापन, हार्ट अटैक के बाद सोशल मीडिया पर हो रही थी ट्रोल

|

नई दिल्ली। दिग्गज उद्योगपति गौतम अडानी(gautam adani) की कंपनी Adani Wilmar ने अपने फॉर्च्यून राइस ब्रान कुकिंग ऑयल(Fortune Rice Bran Cooking Oil) के उन सभी विज्ञापनों को रोक दिया है। जिन्हे टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई(BCCI) के प्रमुख सौरभ गांगुली(Sourav Ganguly ) प्रमोट करते थे। गांगुली को शनिवार को दिल का दौरा पड़ा था। इसके बाद सोशल मीडिया पर कंपनी के विज्ञापनों का मजाक उड़ाया जा रहा था। कंपनी का कहना है कि वह गांगुली के साथ काम करती रहेगी और वह कंपनी के ब्रांड एंबेसेडर बने रहेंगे।

कंपनी ने रोके गांगुली के विज्ञापन

कंपनी ने रोके गांगुली के विज्ञापन

दरअसल, सौरव गांगुली Adani Wilmar के एक तेल ब्रांड के विज्ञापन में नजर आए थे, जिसमें उस तेल को दिल के लिए सुरक्षित बताया गया था। गांगुल को हार्ट अटैक आने के बाद उस विज्ञापन की जमकर ट्रोलिंग हो रही है। कंपनी के विज्ञापन से करीबी से जुड़े एक सूत्र ने कहा कि गांगुली वाले विज्ञापन सभी प्लेटफॉर्म्स से हटा दिए गए हैं। ब्रांड की क्रिएटिव एजेंसी Ogilvy & Mather मामले को देख रही है और नए कैंपेन पर काम कर रही है। अडानी विल्मर उद्योगपति गौतम अडानी की कंपनी है। जो सोयाबीन, सरसों, राइस ब्रान और मूंगफली का तेल बेचती है।आंकड़ों के मुताबिक राइस ब्रान ऑयर मार्केट में फॉर्च्यून पहले स्थान पर है।

सौरव गांगुली को पिछले साल जनवरी में बनाया था ब्रांड एंबेसेडर

सौरव गांगुली को पिछले साल जनवरी में बनाया था ब्रांड एंबेसेडर

सौरव गांगुली को पिछले साल जनवरी में फॉर्च्यून राइस ब्रान ऑयल का ब्रांड एंबेसेडर बनाया गया था। गांगुली के हार्ट अटैक की खबर फैलते ही फॉच्यून ब्रांड सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गया। लोगों ने ब्रांड एंडोर्समेंट पर सवाल खड़े करने शुरू कर दिए। कंपनी के डिप्टी चीफ एग्जीक्यूटिव अंग्शु मलिक ने कहा, 'हम अपने प्यारे दादा, सौरभ गांगुली के जल्दी स्वस्थ होने की कामना करते हैं। वह हमारे ब्रांड एंबेसेडर बने रहेंगे। यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है और किसी के साथ ही ऐसा हो सकता है। हमने अपने टीवी विज्ञापनों पर अस्थायी रोक लगाई है। हम फिर उनके साथ काम करेंगे।

सोशल मीडिया पर जमकर हुई ट्रोलिंग

सोशल मीडिया पर जमकर हुई ट्रोलिंग

मलिक ने कहा, सौरभ गांगुली हमारे फॉर्च्यून राइसब्रान ऑयल के ब्रांड एंबेसेडर थे। राइसब्रान ऑयल कोई दवा नहीं है बल्कि केवल कुकिंग ऑयल है। कई कारणों से हार्ट की बीमारी प्रभावित होती है। इनमें खानपान और आनुवांशिक समस्याएं शामिल हैं। वहीं पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद ने ट्विटर पर गांगुली को जल्द स्वस्थ होने की शुभकामनाएं देते ब्रैंड के कैंपेन की आलोचना की। उन्होंने कहा, 'दादा आप जल्द स्वस्थ हों। हमेशा जांचे परखे प्रोडक्ट्स को प्रमोट कीजिए। सचेत रहें और सावधान रहें। ईश्वर की कृपा बनी रहे।

2 जनवरी को बिगड़ गई थी तबियत

2 जनवरी को बिगड़ गई थी तबियत

बता दें कि सौरव गांगुली की तबीयत शनिवार (2 जनवरी) सुबह अचानक खराब हो गई थी। गांगुली को अपने घर के जिम में वर्कआउट करने के दौरान सीने में दर्द हुआ। इसके बाद परिजनों ने उन्हें तुरंत कोलकाता के वुडलैंड्स अस्पताल में एडमिट कराया था। सौरव गांगुली की तीन आर्टरी 70 प्रतिशत तक ब्‍लॉक हो गईं थीं, जिसके बाद उनकी एंजियोप्‍लास्‍टी की गई। फिलहाल वे स्वस्थ्य हैं।

अमेजन CEO जेफ बेजोस बने साल 2020 के सबसे बड़े दानवीर, इतने हजार करोड़ का दिया दान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Adani Wilmar paused cooking oil ads featuring former Indian cricketer Sourav Ganguly endorsing
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X