• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

Temples in Goa: क्या आपने गोवा के भव्य मंदिरों के दर्शन किए हैं?

गोवा की एक छवि प्रसिद्द है। लोग यहां सिर्फ मौजमस्ती, पीने-पिलाने, नाच-गाने के लिए आते हैं। पर गोवा में भव्य, प्राचीन सिध्दपीठ मंदिर भी हैं, ये अधिकांश पर्यटकों को नहीं मालूम।
Google Oneindia News

Temples in Goa: "गोवा में मंदिर दर्शन! मैंने तो आज तक कभी नहीं सुना।" बड़ी हैरत से हमारी बेटी ने अपनी मां से कहा। साथ ही उसने कहा, "कोई मंदिर देखने गोवा थोड़े ही जाता है?" उसकी अचरज से भरी आवाज़ सुनकर लगा कि उसका बस चले तो वह हमसे पूछे कि "सब ठीक ठाक है ना?" क्योंकि प्रचलित बात तो यही है कि जो गोवा आकर मंदिर की बात करे तो लोग आमतौर पर यही मानेंगे कि उसके दिमाग का कोई पेच हिल गया है।

top famous temples in Goa you should visit these

हुआ यों कि हम एक विवाह में भाग लेने गोवा गये थे। आजकल दूर जाकर विवाह करने का चलन बढ़ गया है। वर और वधू पक्ष एक जगह ही सगे संबंधियों और बंधु बांधवों को बुला लेते हैं। दो तीन दिन में विवाह के सभी कार्यक्रम संपन्न कर लिए जाते हैं। आजकल की भाषा में इसे 'डेस्टिनेशन वेडिंग' कहा जाता है।

हम भी एक मित्र की बिटिया के विवाह में भाग लेने गोवा पहुंचे और दक्षिण गोवा के एक रिसोर्ट में ठहरे थे। शादी के कार्यक्रम शाम में थे, और हमारे पास दो तीन घंटे का समय था। कमरे में बैठकर सुस्ताना हमारे स्वभाव में नहीं है। तो हमने यूँ ही होटल में पूछ लिया कि गोवा में कैसीनो, बार और समुद्र तट के अलावा क्या और भी कुछ देखने योग्य है? हम अधिक दूर जाना नहीं चाहते थे।

top famous temples in Goa you should visit these

हमें बताया गया कि पास ही में एक भव्य मंदिर है। क्या हम जाना चाहेंगे? सच तो ये है कि बस हमने भी यूँ ही हां कह दिया। कुछ तो औपचारिकता और कुछ 'गोवा में मंदिर' के बारे में कौतूहल के कारण हम चल पड़े।

तब ये सोचा ही नहीं था कि हम कोई अलग अथवा अनूठी जगह देखने जा रहे हैं। आईटीसी होटल से कोई पंद्रह बीस मिनट की यात्रा के बाद जब हम अपनी टैक्सी से उतरे तो मंदिर की विशालता और भव्यता ने हमें सम्मोहित सा ही कर दिया। दीप स्तम्भ के पीछे ढलते सूरज की लालिमा से कत्थई सफ़ेद रंग का मंदिर अत्यंत गरिमापूर्ण लग रहा था। गोधूलि बेला के सूर्य भगवान की रक्ताभ किरणे मंदिर के शिखर को अद्भुत आभा दे रहीं थी।

ये महालसा नारायणी का मंदिर था। यहाँ भगवान विष्णु अपने मोहिनी रूप में विराजमान हैं। मंदिर का मंडप विशाल था और विधान से पूजा की व्यवस्था थी। कहीं कोई आपाधापी, भीड़भाड़ या मारामारी नहीं। सब कुछ शांत, व्यवस्थित और करीने से था। हमें मंदिर में बड़ी शांति मिली और जब हम अर्चना करके आये तो लगा कि एक नई ऊर्जा सी मिली है।

top famous temples in Goa you should visit these

जियो के हमारे गोवा के सहकर्मी तौरप्पा लमानी ने हमारे प्रफुल्लित चेहरों को देखा तो मंदिर की कहानी बताई। उनके अनुसार जब पुर्तगालियों ने गोवा पर कब्ज़ा किया तो उन्होंने कई मंदिरों को ध्वस्त किया। दक्षिण गोवा आज भी घने जंगलों से भरा है। उन दिनों तो ये जंगल और भी गहन थे। तो विधर्मी पुर्तगालियों के अत्याचारों से बचने के लिए अपने भगवान की मूर्तियों को लेकर कुछ भक्त यहाँ भाग आये। कालांतर में भक्तों ने भव्य मंदिर का निर्माण किया।

हमारी उत्सुकता यह सुनकर कुछ और बढ़ गयी थी। इसलिए अगले दिन हम दक्षिण गोवा में ही दो और मंदिर देखने भी गये। ये थे कवलेम पोंडा में शांता दुर्गा मंदिर और और बांदौरा पोंडा में महालक्ष्मी मंदिर। शांतदुर्गा मंदिर के स्थापत्य पर पुर्तगाली छाप दिखाई दी। दोनों ही मंदिर विशाल और भव्य हैं। बड़े प्रांगण में सामाजिक समागनों जैसे विवाह आदि की व्यवस्था है। अंदर आराध्य के दर्शनों का भी बेहतर इंतज़ाम था।

खास बात ये कि इन सभी मंदिरों के बाहर बड़े बड़े अक्षरों में लिखा हुआ था कि आप दर्शन के लिए बहुत अधिक उघड़े परिधानों में नहीं आ सकते। लिखा था कि महिलाओं के लिए मिनी स्कर्ट, बिनबाजू के ऊपरी वस्त्र, नाभि दर्शना अधोवस्त्र और पुरुषों के लिए अत्यधिक कैज़ुअल परिधानों में मंदिर में आना मना है।

इस दिन दोपहर का समय हो गया था तो भूख भी लगी थी। हमने मंदिर की कैंटीन में भोजन प्रसाद लिया। सिर्फ सत्तर रुपये में भरपेट सात्विक भोजन मिलना आनंददायक था। खाना इतना स्वादिष्ट था कि हमें लगा कि सिर्फ इसी भोजन के लिए भी मंदिर जाया जा सकता था।

हमने और जानकारी ली तो पता चला कि गोवा में अन्य कई बड़े मंदिर भी हैं। तांबड़ी सुरला (गोवा बेंगलूर हाईवे) पर एक प्राचीन शिव मंदिर भी है। सप्तकोटेश्वर मंदिर, कामाक्षी मंदिर, मारुति मंदिर, मंगेशी मंदिर, चंद्रेश्वर भूतनाथ मंदिर और महादेव मंदिर। इनमें कई मंदिर तो अत्यंत प्राचीन है। अभी तक हम सुनते आये थे कि ब्रह्माजी का मंदिर सिर्फ राजस्थान के पुष्कर में है। पर यहाँ पता चला कि गोवा के वालोपी में भी ब्रह्माजी का एक मंदिर हैं।

top famous temples in Goa you should visit these

ये तो रही बड़े बड़े मंदिरों की बात। जब हम अपने रिसोर्ट में सुबह सुबह नाश्ते के लिए निकले तो देखा कि एक कोने से भजन की मधुर आवाज़ आ रही है। नज़दीक गए तो देखा कि कोने में एक छोटा सा सुरम्य मंदिर था। यहां शिवलिंग, नंदी और साथ में गरुड़ की मूर्ति विराजमान थी। रामबहादुर नाम के एक भक्त पूजा कर रहे थे। पास ही के बेल के पेड़ से बिल्बपत्र तोड़कर हमें चढ़ाने के लिए दिए भी।

ये सब गोवा में देखना हमारे लिए बिलकुल नया अनुभव था। गोवा की एक छवि प्रसिद्द है। लोग यहाँ सिर्फ मौजमस्ती, पीने-पिलाने, नाच-गाने के लिए आते हैं। मनोहारी समुद्र तटों के अलावा पर्यटन के लिए पुर्तगाली स्थापत्य पर बने कई पुराने चर्च भी यहाँ मशहूर हैं। परन्तु इससे आगे गोवा का पर्यटन कभी नहीं गया। यह छवि शायद कुछ कारणों से प्रचलित की गयी होगी।

पर गोवा में भव्य, प्राचीन सिध्दपीठ मंदिर भी हैं ये अधिकांश पर्यटकों को नहीं मालूम। गोवा का ये रूप जो हमने देखा वह अनुपम और विलक्षण है। इन आध्यत्मिक रंगों के बिना गोवा पूरा नहीं होता। अगली बार गोवा जाएं तो इन रंगों को भी जरूर देखें।

यह भी पढ़ें: खुदाई के दौरान चर्च के नीचे से निकला भव्य मंदिर, विशालकाए दीवारें देख पुरातत्वविद हैरान

Comments
English summary
top famous temples in Goa you should visit these
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X