• search
चंडीगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

विदेश से हरियाणा-पंजाब में आए 7 हजार लोगों ने बताए गलत एड्रेस, रद्द होंगे इनके पासपोर्ट

|

चंडीगढ़। कोरोना से मचे कोहराम के बीच विदेश से हरियाणा-पंजाब लौटे हजारों लोगों ने सही जानकारी नहीं दी। किसी ने अपने आधार कार्ड का नंबर गलत बताया तो किसी ने ब्यूरो ऑफ इमिग्रेशन को अपने पासपोर्ट का नंबर गलत बता दिया। ऐसे में इन लोगों को खोजना पुलिस-प्रशासन को भारी पड़ गया। क्योंकि, पुलिस-प्रशासन विदेश से आने वाले लोगों को क्वारंटाइन में रखना चाहता था। बाहर से आने वाले ज्यादातर लोग कोरोना से संक्रमित होकर लौट रहे थे। इसलिए, इन्हें ढूंढकर अलग करने का जिम्मे पुलिस-प्रशासन के पास ही रहा। ऐसे लोगों द्वारा दी गई गलत जानकारी के कारण इन्हें तलाशने में भी पुलिस-प्रशासन को परेशानियां झेलनी पड़ीं।

seven thousand people in Haryana-Punjab, those return from abroad told wrong address

किसी ने आधार नंबर गलत बताया तो किसी ने पासपोर्ट नंबर

अब ऐसे लोगों पर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। अधिकारियों के मुताबिक, विदेश से हरियाणा-पंजाब में आए ऐसे करीब 7000 लोगों की डिटेल खंगाली जा चुकी है, जिन्होंने गलत जानकारी दी। इन लोगों के पासपोर्ट रद्द किए जाएंगे। विदेश आने-जाने वाले जिन लोगों ने अपने आधार कार्ड का नंबर या पासपोर्ट का नंबर फर्जी बताया, ताज्जुब ये है कि, उनमें काफी महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। हालांकि, पुलिस-प्रशासन किसी को बख्शने के मूड में नहीं है। हरियाणा और पंजाब की पुलिस ने रीजनल पासपोर्ट ऑफिस चंडीगढ़ में ऐसे लोगों का रिकॉर्ड चेक किया है, इनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगीं।

इधर, सरकार ने हरियाणा में कई जिले हॉट स्पॉट घोषित किए

कोरोना से निपटने के लिए सूबे की सरकार ने जिला उपायुक्तों को अपने-अपने जिलों का कंटेनमेंट प्लान तैयार करने के साथ-साथ विभिन्न विभागों के अधिकारियों की कमेटियां गठित कर इसे जमीनी स्तर पर क्रियान्वित करने के निर्देश दिए हैं। यहां जिन गांवों, मोहल्लों और क्षेत्रों में कोरोना पॉजिटिव केस मिल रहे हैं, वहां कंटनमेंट जोन घोषित की जा रही है। जबकि उसके आस-पास के गांवों व क्षेत्रों को प्रतिबन्धित क्षेत्र (बफर जोन) घोषित किया जा रहा है।

सरकार ने फरीदाबाद के 13 क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। वहीं, नूंह के 104 गांव बफर जोन घोषित किए हैं। पलवल के 15 गांव सील किए गए हैं और गुरुग्राम के सेक्टर-9 को महामारी केन्द्र घोषित किया गया है। गुरुग्राम के एम्मार पाल्म गार्डन, सैक्टर-83 को महामारी केन्द्र मानते हुए वाटिका, रामपुरा गांव, भांगरोला गांव और कासन गांव की मैपिंग कन्टेनमेंट जोन तथा बफर जोन के रूप में चिह्नित किए गए हैं।

शराब की फैक्ट्रियां चलाने की परमिशन पर घिरी हरियाणा सरकार, डिप्टी CM चौटाला ने दी सफाई

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
seven thousand people in Haryana-Punjab, those return from abroad told wrong address
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X