• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

आस्था या अंधविश्वास: शरीर पर बोया जवारे, माता ने सपने में आकर किया प्रेरित तो जीभ काटकर मां को चढ़ाई

Google Oneindia News

रीवा, 4 अक्टूबर। जिले में नवरात्रि पर आस्था का ऐसा मामला सामने आया है, जिसे देख हर कोई दंग रह जाता है। शहर में एक भक्त ने ना सिर्फ अपने शरीर जवारे बो लिए, बल्कि मां को जीभ काटकर अर्पण कर दी। भक्त का दावा हैं कि मां ने सपने में आकर आदेश दिया था। वे उसी का पालन कर रहे हैं।

9 दिन से भक्त ने कुछ नहीं खाया पिया

9 दिन से भक्त ने कुछ नहीं खाया पिया

मुख्यालय में एक देवी भक्त ने ना सिर्फ अपने सीने पर जवारे बोए, बल्कि मां को जीभ काटकर अर्पण कर दी। मंदिर में मौजूद लोगों ने इसका वीडियो बना लिया। 9 दिन तक इस शख्स ने कुछ भी नहीं खाया। सिर्फ 3 चम्मच पंचामृत ही पिया है।

रीवा के गुढ़ मार्ग अंतर्गत चिरहुला मंदिर के पास काली मंदिर है। 40 वर्षीय विनोद कुमार साहू यहीं रहते हैं। पेशे से वे सब्जी व्यवसाई हैं। उन्होंने बताया कि वह पिछले 25 वर्षों से माता की भक्ति कर रहे हैं। हर वर्ष नवदुर्गा में उपवास भी रखते हैं।

शर्ट बनाकर शरीर में बोए जवारे

शर्ट बनाकर शरीर में बोए जवारे

नवरात्र के पहले दिन अपने आकार की शर्ट तैयार कर शरीर पर लपेटा। इस पर मिट्टी डालते हुए जवारे के बीज बो दिए। दूसरे दिन दाने अंकुरित हो गए। तीसरे दिन पौधे आना शुरू हुए। फिर चौथे, 5वें और 6वें दिन जवारे ने हरियाली का रूप ले लिया। सप्तमी के दिन मां ने सपने में आकर अंग दान का आदेश दिया। इसके बाद उसी दिन माता को जीभ चढ़ा दी। 9मीं यानी मंगलवार को त्रिशूल की नोंक पर पैदल चलना है। ये जवारे मैहर वाली मां शारदा को भेंट करना है। भक्त ने दावा किया कि जिस तरह मां सपने में आदेश दे रही है। उसी के आज्ञा का पालन कर रहे हैं।

 3 चम्मच पंचामृत पी रहे

3 चम्मच पंचामृत पी रहे

रामकरण कुशवाहा मंदिर से जुड़े ने दावा है कि विनोद कुमार रोज सिर्फ 3 चम्मच पंचामृत पी रहे है। वो भी सुबह 4 बजे। इसके बाद खाना-पीना नहीं लेते। फल फूल तक नहीं लिए। नवरात्र के पहले दिन से 1 ही जगह पर बैठे हैं। यहां तक कि नित्य क्रिया तक के लिए नहीं गए। 24 घंटे सिर्फ माता के नाम जपते रहते हैं।

जीभ काटने के बाद पान का पत्ता खाया

जीभ काटने के बाद पान का पत्ता खाया

विनोद कुमार साहू के मुताबिक 1 श्रद्धालु ने जीभ पकड़कर ब्लेड से ऊपरी हिस्सा काट कर पान में मां को चढ़ा दिया,जीभ कटने के बाद खून की धारा निकलने लगी। मां के आदेश के बाद पान का एक पत्ता खाया।

श्रद्धालुओं का ताता

श्रद्धालुओं का ताता

लोगों को इस खबर की जानकारी लगने के बाद इस भक्तों को देखने के लिए श्रद्धालुओं का ताता लगा हुआ है,
श्रद्धालु मुकेश जयसवाल ने कहा कि विनोद की भक्ति देख यहां भक्तों का आना-जाना बढ़ गया है। यहां लोग कीर्तन भी कर रहे हैं। यहां दशहरे के दिन भंडारे का आयोजन भी किया जाएगा। यहां दिन भर भक्तों का जमावड़ा लगा रहता है।

यह भी पढ़ें- Shardiya Navratri 2022: नवरात्र में मां शारदा देवी धाम की सम्पूर्ण यात्रा, जानें कब और कैसे पहुंचे मैहर मंदिरयह भी पढ़ें- Shardiya Navratri 2022: नवरात्र में मां शारदा देवी धाम की सम्पूर्ण यात्रा, जानें कब और कैसे पहुंचे मैहर मंदिर

Comments
English summary
Rewa News Vinod Kumar Sahu sowed jewels in the body, tongue climbed to the mother
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X