• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

'गरीब तबके का कल्याण मुफ्त की सौगात नहीं', रेवड़ी कल्चर पर बोलीं TRS नेता कविता कल्वाकुंतला

|
Google Oneindia News

हैदराबाद: मुफ्त की संस्कृति पर चल रही बहस के बीच तेलंगाना में सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) की विधान पार्षद (एमएलसी) कविता कल्वाकुंतला ने मंगलवार को कहा कि समाज के गरीब तबके का कल्याण 'मुफ्त की सौगात' नहीं है। कविता ने कहा कि सरकार की कल्याणकारी योजनाएं जारी रहनी चाहिए। कविता ने कहा कि यह राज्य और केंद्र की निर्वाचित सरकारों की जिम्मेदारी है कि वह गरीबों का ख्याल रखे। उन्होंने कहा कि तेलंगाना की टीआरएस सरकार करीब 250 कल्याणकारी योजनाएं चलाती है। उन्होंने कहा क‍ि अब कल्याणकारी योजना को 'मुफ्त की सौगात' का तमगा देने की परिपाटी चल पड़ी है। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र, राज्य सरकार पर इन योजनाओं को बंद करने का दबाव बना रहा है।

TRS MLC Kavitha

बयान में मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की बेटी कविता ने कहा क‍ि टीआरएस इसका विरोध करती है, क्योंकि गरीब लोगों का कल्याण सरकार की जिम्मेदारी है और जिस तरह से आज पूरे देश में माहौल बनाया जा रहा है कि कल्याण मुफ्त की सौगात है, सही नहीं है। उन्होंने कहा कि करोड़ों रुपयों का कर्ज माफ करना वास्तव में मुफ्त की सौगात है।

देशभक्ति के रंग में रंगा तेलंगाना, आजादी के अमृत महोत्सव में कई कार्यक्रम आयोजितदेशभक्ति के रंग में रंगा तेलंगाना, आजादी के अमृत महोत्सव में कई कार्यक्रम आयोजित

कविता ने कहा क‍ि मेरा मनना है कि मुफ्त की सौगात वह है जो भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सरकार ने अब किया है, उसने फर्जीवाड़ा करने वाली एजेंसियों के 10 लाख करोड़ रुपये के कर्ज को माफ कर दिया है।यह मुफ्त की सौगात है।गरीबों का कल्याण मुफ्त की सौगात नहीं हो सकती। यह हमारी सामजिक जिम्मेदारी है और सरकार की भी।

Comments
English summary
TRS MLC Kavitha Kalvakuntla said welfare of poor section of the society is not a 'free gift'
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X