• search
वाराणसी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Mulayam Singh yadav Jayanti पर दीपदान करेंगे सपाई, वाराणसी सेंट्रल जेल में छह दिन बंद रहे मुलायम सिंह यादव

वाराणसी में समाजवादी पार्टी के नेताओं का कार्यकर्ताओं द्वारा 22 मई को Mulayam Sing yadav की Jayanti मनाई जा रही है। जयंती के उपलक्ष्य में वाराणसी में सपा नेताओं द्वारा दीपदान किए जाएंगे इसके अलावा वाराणसी समेत पूर्वांंच
Google Oneindia News

समाजवादी पार्टी के संस्थापक और सुबह के पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय Mulayam Singh yadav की Jayanti को लेकर पूरे प्रदेश में जगह-जगह समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा तरह-तरह के आयोजन कर मुलायम सिंह यादव को याद किया जा रहा है। इसी कड़ी में वाराणसी में समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा सभी विधानसभा में मुलायम सिंह यादव की जयंती मनाई जाएगी। इसके लिए पूर्व में ही वाराणसी के अर्दली बाजार में स्थित समाजवादी पार्टी के कार्यालय मैं कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार कर ली गई थी और सभी निवर्तमान विधानसभा अध्यक्षों और विधानसभा से जुड़े नेताओं को इसकी जिम्मेदारी भी दे दी गई थी। वाराणसी के रविदास घाट के समीप सपाइयों द्वारा मंगलवार को सायं काल 2500 दीपदान किए जाएंगे।

Mulayam Singh Yadav

मुलायम सिंह का वाराणसी से था विशेष लगाव
यह भी बता दें कि मुलायम सिंह यादव का वाराणसी से विशेष लगाव था। समाजवादी पार्टी के स्थापना के ठीक पहले देवरियां जिले के रामकोला मिल गोलीकांड में मृत किसानों और जेल में बंद किसानों से मिलने जाते समय मुलायम सिंह यादव को गिरफ्तार कर लिया गया था। उसके बाद फोर्स उन्हें हिरासत में लेकर वाराणसी पहुंची तथा वाराणसी के शिवपुर में स्थित सेंट्रल जेल में उनको बंद कर दिया गया। जेल में वाराणसी जिले के नेताओं ने उनसे मुलाकात की। सेंट्रल जेल में ही मुलायम सिंह यादव द्वारा समाजवादी पार्टी की स्थापना करने की बात की गई थी। मुलायम सिंह यादव सेंट्रल जेल से 14 अक्टूबर 1992 को रिहा हुए, रिहा होने के बाद उन्होंने समाजवादी पार्टी की स्थापना की।

Recommended Video

    Akhilesh Yadav और चाचा Shivpal Yadav की तस्वीरों ने दिए नए संकेत | Samajwadi Party | वनइंडिया हिंदी

    आखिरी कार्यकाल में ब्रिज का किए शिलान्यास
    अखिरी बार सीएम रहने के दौरान मुलायम सिंह यादव ने वाराणसी में तीन पुलों की सौगात दी थी। जिसमें वाराणसी के रामनगर-सामनेघाट पुल को उन्होंने खुद शिलान्यास किया था। इसके अलावा वरुणा नदी पर शिवपुर से लोहता- लहरतारा इलाके को जोड़ने के लिए पिसौर पुल और हरहुआ मोहनसराय मार्ग पर कोईराजपुर गांव में कौरौत पुल का शिलान्यस भी 2006 में मुलायम सिंह द्वारा ही किया गया था। इन पुलों के बन जाने के चलते कई इलाकों का तेजी से विकास हुआ।

    Varanasi में मुठभेड़ में मारे गए बिहार के दो शातिर बदमाश, दारोगा को गोली मार कर लूटे थे पिस्टलVaranasi में मुठभेड़ में मारे गए बिहार के दो शातिर बदमाश, दारोगा को गोली मार कर लूटे थे पिस्टल

    Comments
    English summary
    SP leader will celebrate Mulayam singh yadav jayanti by donating lamp in Ganga in Varanasi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X