• search
वाराणसी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Varanasi में 'मुर्दा' चला रहा था अस्पताल, जांच करने पहुंचे सीएमओ ने दर्ज कराया मुकदमा

Varanasi से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है, 6 महीने पूर्व मृत डॉक्टर के नाम पर वाराणसी में चल रहे अस्पताल
Google Oneindia News

Varanasi जिले से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। वाराणसी में मृत व्यक्ति के नाम से एक हॉस्पिटल संचालित हो रहा था और चौंकाने वाली बात है कि उस हॉस्पिटल का पंजीकरण भी नहीं कराया गया था। हॉस्पिटल में कोई डॉक्टर रहते नहीं थे बावजूद इसके झोलाछाप चिकित्सकों द्वारा मरीजों का उपचार किया जाता था। मुख्य चिकित्साधिकारी वाराणसी द्वारा गठित टीम जब हॉस्पिटल में जांच करने पहुंची तो वह भी हैरान रह गई। इस मामले में सीएमओ द्वारा अस्पताल संचालक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने के लिए निर्देश दिया गया है।

6 माह पहले डॉक्टर की हो गई थी मौत

6 माह पहले डॉक्टर की हो गई थी मौत

जानकारी अनुसार लंका थाना क्षेत्र के छित्तूपुर इलाके में एसएमएस हेल्थ केयर हॉस्पिटल के नाम से एक अस्पताल संचालित हो रहा था। छित्तूपुर की रहने वाली दासमति देवी नामक महिला द्वारा एक हास्पिटल के खिलाफ सीएमओ से शिकायत की गई थी। शिकायत के बाद मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा गठित टीम मंगलवार को उक्त अस्पताल में निरीक्षण करने के लिए पहुंची। अस्पताल का पंजीकरण नहीं कराया गया था, इसके अलावा बिना किसी चिकित्सक के अस्पताल को चलाया जा रहा था। मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा यह भी बताया गया कि बोर्ड पर डॉक्टर एसपी सिंह का नाम लिखा गया था। पूछताछ में पता चला कि डॉक्टर की मौत करीब 6 माह पहले ही हो चुकी है।

दो मरीजों का चल रहा था उपचार

दो मरीजों का चल रहा था उपचार

जांच के लिए पहुंची टीम जब अस्पताल के अंदर पहुंची तो पाया गया कि अस्पताल में 2 मरीजों को भर्ती किया गया था और उनका उपचार चल रहा था। दोनों मरीजों और उनके परिजनों से जांच टीम1 द्वारा पूछताछ की गई, उसके बाद उन्हें अन्यत्र उपचार कराने के लिए भेजा गया। सीएमओ द्वारा बताया गया कि बिना चिकित्सक के और बिना पंजीयन के चिकित्सकीय कार्य किए जाने के मामले में एसएमएस हेल्थ केयर अस्पताल को तत्काल प्रभाव से बंद कराने का निर्देश दिया गया। इसके अलावा पंजीकरण कराएं बगैर चिकित्सा प्रतिष्ठान संचालित किए जाने और चिकित्सकीय कार्य किए जाने के संबंध में सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज करने के लिए लंका थाने में तहरीर भी दी गई।

जिले में कई अन्य फर्जी अस्पताल भी चल रहे

जिले में कई अन्य फर्जी अस्पताल भी चल रहे

मालूम हो कि वाराणसी जिले में फर्जी अस्पताल संचालकों के खिलाफ मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा अभियान चलाकर कार्यवाही की जा रही है। पूर्व में कई अस्पतालों के खिलाफ कार्यवाही की गई और उन्हें बंद कराया गया। अभी भी वाराणसी जिले के हरहुआ, चौबेपुर, जंसा, चिरईगांव, बाबतपुर चोलापुर सहित अन्य इलाकों में फर्जी अस्पताल चलाए जा रहे हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर संदीप चौधरी द्वारा बताया गया कि बगैर पंजीकरण और बगैर डॉक्टर के जो भी अस्पताल संचालित हो रहे हैं, उन सभी के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जारही है और आगे भी कार्रवाई जारी रहेगी।

Varanasi में मुठभेड़ में मारे गए बिहार के दो शातिर बदमाश, दारोगा को गोली मार कर लूटे थे पिस्टलVaranasi में मुठभेड़ में मारे गए बिहार के दो शातिर बदमाश, दारोगा को गोली मार कर लूटे थे पिस्टल

Comments
English summary
Dead man was running the hospital in Varanasi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X