संतोष गंगवार ने किया अखिलेश की पेंशन योजना में आवेदन, 15 हजार महीना और रोडवेज में फ्री यात्रा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बरेली। केंद्र सरकार में सत्ता का सुख भोग रहे वित्त राज्य मंत्री संतोष गंगवार ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सरकार द्वारा चलाई जा रही लोकतंत्र रक्षक सेनानी पेंशन के लिए आवेदन किया है। आवेदन में जो जानकारी दी गई है उसके तहत उन्होंने अपना स्थाई पता मकान नम्बर 55, चौधरी तालाब और अस्थायी पता भारत सेवा ट्रस्ट, कोहाड़ापीर बताया है। इस पेंशन योजना के अंतर्गत मंत्री जी पंद्रह हजार रुपए के साथ मुफ्त में रोडवेज से यात्रा का मजा ले सकेंगे। मंत्री संतोष गंगवार के आवेदन को लोकतंत्र रक्षक सेनानी वीरेंदर कुमार अटल, डॉक्टर राजेंदर चौधरी ने प्रमाणित किया है। मिली जानकारी के अनुसार वित्त राज्य मंत्र संतोष गंगवार को स्थानीय प्रशासन संस्तुति के बाद जल्द पेंशन मिलने लगेगी।

santosh gangwar संतोष गंगवार ने किया अखिलेश की पेंशन योजना में आवेदन, 15 हजार महीना और रोडवेज में फ्री यात्रा
ये भी पढ़ें- शिवपाल-अखिलेश खेमा मथुरा में आमने-सामने, जूतमपैजार की आ रही नौबत

​​इमरजेंसी के दौरान मंत्री जी एक साल जेल में बंद रहे। वर्ष 1975 के मार्च माह में शादी हुई और जुलाई में जेल भेजे गए। इस दौरान उन्होंने तमाम तरह के अत्याचार सहे। लोकतंत्र रक्षक सेनानी पेंशन से मंत्री जी प्रत्येक माह 15 हजार रुपए मिलने के साथ यूपी रोडवेज की बसों में कहीं भी एक सहयात्री के साथ यात्रा कर सकेंगे। साथ ही, किसी भी दुखद हालात में यह राशि उनकी पत्नी तमाम सुविधाओं के साथ पा सकती हैं। लोकतंत्र रक्षक सेनानी पेंशन प्राप्त करने के लिए प्रशासन को एक आवेदन भेजा जाता है साथ ही दो लोकतंत्र रक्षक सेनानी से यह लिखवाया जाता है कि अमुख व्यक्ति इस पेंशन को प्राप्त करने का अधिकार रखता है और उस व्यक्ति ने उनकी ही तरह परेशानियां सही हैं। 

ये भी पढ़ें- सहारा डायरी से राहुल ने पीएम पर लगाया आरोप, शीला ने बताया फर्जी

लोकतंत्र रक्षक सेनानी वीरेंद्र कुमार अटल के अनुसार वित्त मंत्री संतोष गंगवार स्वयं इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं। उन्होंने स्वयं आवेदन को भरा था। हालांकि, यह आवेदन 28 फरवरी 2016 को अटल जी द्वारा एडीएम सिटी के दफ्तर में जमा किया गया था। लेखपाल द्वारा पते का वेरफिकेशन नहीं किए जाने के कारण अभी तक पेंशन नहीं मिल पाई है, लेकिन अब सभी बाधाएं दूर हो गई हैं। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी देश की समर्थ जनता से एलपीजी से लेकर तमाम सब्सिडी छोड़ने की अपील कर रही है, ताकि सरकारी योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ जरूरतमंदों को मिल सके। वहीं दूसरी ओर, उन्हीं की सरकार के वित्त राज्य मंत्री ने लोकतन्त्र रक्षक सेनानी पेंशन मांगी है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
santosh gangwar applied for loktantra rakshak senani pension scheme of up government
Please Wait while comments are loading...