ग्राम प्रधान ने शिक्षकों की मदद से कराया गरीब लड़की का धूमधाम से निकाह

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बहराइच। बहराइच के बोझिया गांव में प्रधान ने एक मुस्लिम युवती का विवाह कराया और प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने दान-दहेज का सामान दिया। ग्राम प्रधान व शिक्षकों के इस काम की चारों तरफ सराहना हो रही है। क्षेत्र में हिंदू-मुस्लिम एकता की चर्चा हर तरफ हो रही है। निकाह के बाद युवती को दूल्हे के साथ विदा किया गया। विकास खंड अंतर्गत कोतवाली मुर्तिहा के ग्राम पंचायत बोझिया बढ़हिनपुरवा गांव में हिंदू-मुल्सिम एकता की मिसाल देखने को मिली। गांव निवासी शमशुद्दीन पेशे से मजदूर हैं। उन्होंने अपनी बेटी संगीता खातून का विवाह संतकबीरनगर जिले के सेमरियांवा गांव निवासी इसराइल के साथ तय किया था लेकिन विवाह में दहेज व बारातियों की आव भगत के लिए पैसे नहीं थे। इस पर उन्होंने ग्राम प्रधान शिवसागर से तीन दिन पूर्व सहयोग मांगा। ग्राम प्रधान ने विवाह में सहयोग का आश्वासन दिया था।

Poor girl been married by Gram Pradhan with the help of teachers in Bahraich

धूमधाम से हुई लड़की की शादी

इसके बाद तय कार्यक्रम के मुताबिक संतकबीरनगर से बारात आई। यहां पर मौलवी की मौजूदगी में संगीता खातून का निकाह हुआ। इसके बाद बारातियों की आव भगत की गई। दहेज का सामान भी दिया गया। नाश्ता व खानापानी होने के बाद विवाहिता को युवक के साथ रुखसत किया गया। ग्राम प्रधान शिवसागर के इस काम की गांव के लोग सराहना कर रहे हैं। वहीं हिंदू-मुस्लिम एकता की इस प्रतीक की चर्चा चारों तरफ हो रही है।

शिक्षक व आंगनबाड़ी कर्मियों ने दिया दहेज का सामान

प्राथमिक विद्यालय के बोझिया में शिक्षक अजय यादव व पूर्व माध्यमिक विद्यालय बोझिया के शिक्षकों ने कपड़े और बर्तन दिए। वहीं कृष्ण लघु माध्यमिक विद्यालय, छोटी बोझिया के प्रबंधक दिवाकर यादव ने दहेज में अलमारी दी। बोझिया गांव के चार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने कुर्सी व मेज दहेज में दिया। प्राथमिक विद्यालय शिवपुर गोलहना के शिक्षकों ने अनाज रखने का ड्रम दिया। जिससे दहेज में काफी सामान हो गया।

Read more: एशिया के इस ऐतिहासिक खेल की फिर लौटी रौनक, युवाओं में उत्साह

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Poor girl been married by Gram Pradhan with the help of teachers in Bahraich
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.