• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

यूपी: मुस्लिम युवती को रक्षाबंधन पर रांखी बांधना पड़ा महंगा, उलेमाओं ने जताई आपत्ति

|

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में रक्षाबंधन के पर्व पर एक मुस्लिम युवती द्वारा पुलिस अधिकारियों को राखी बांधना भारी पड़ गया। मुस्लिम युवती सना द्वारा पुलिस अधिकारियों को राखी बांधने पर देवबंद के उलेमाओं ने विरोध किया है। वहीं, सना ने कहा है कि पुलिस वाले 365 दिन हमारी रक्षा करते है, मैंने उन्हें राखी बांधी है इसकों धर्म से ना जोड़ा जाये।

Muslim women have to make rakhi tied to police officers in mujaffarnagar

गौरतलब है कि बीती 26 अगस्त को रक्षाबंधन के पर्व पर सना ने नई मंडी कोतवाली पहुंची और पुलिस अधिकारियों को राखी बांधी। जिस पर एसएसपी अनन्त देव तिवारी ने सना को नई मंडी कोतवाली की एक दिन की प्रभारी बना दिया था। अब इस मामले को लेकर सना के खिलाफ देवबंद के उलेमाओं ने मोर्चा खोल लिया है। वहीं, सना और उसके परिवार ने मीडिया को ब्यान देते हुए कहा कि साल के 365 दिन पुलिस वाले हमारी रक्षा करते है और हमने उनको राखी बांधी है। इसकों किसी धर्म से ना जोड़ा जाये। रक्षाबंधन भाई बहन का त्यौहार है जैसे भाई अपनी बहन की रक्षा करता है ऐसे ही पुलिस वाले हमारी रक्षा करते है।

वहीं, सना द्वारा पुलिसकर्मियों को राखी बांधने पर चल रहे इस विवाद एसपी सिटी ओमवीर सिंह का कहना है की रक्षाबंधन पर्व पर डीजीपी कार्यालय से निर्देश पर पुरे प्रदेश के थानों पर आव्हान किया गया था। सभी पुलिसकर्मी अपने थाना क्षेत्रों में सभी माताओं बहनों के साथ इस त्यौहार को मनाये।

ये भी पढ़ें: 'अमर सिंह दलाल और जया प्रदा नाचने वाली' सपा नेता के इस बयान ने लगाई आग

English summary
Muslim women have to make rakhi tied to police officers in mujaffarnagar
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X