India
  • search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

पैंगबर पर नूपुर शर्मा के विवादित बयान पर मुस्लिम धर्मगुरु बोले-कानून के दायरे में विरोध करें

|
Google Oneindia News

बरेली, 11 जून: भाजपा की पूर्व राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता नूपुर शर्मा के द्वारा दो हफ्ते पहले पैंगबर मोहम्‍मद पर की गई टिप्‍पणी को लेकर जमकर बवाल मचा हुआ है। बीते शुक्रवार को कई जगहों पर मारपीट और बवाल भी हुआ। वहीं अब निलंबित भाजपा नेता नूपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल द्वारा पैगंबर मुहम्मद पर विवादास्पद टिप्पणियों पर नाराजगी के बीच एक मुस्लिम धर्मगुरु ने शनिवार को लोगों से कानून के दायरे में विरोध करने की अपील की।

    Nupur Sharma के Prophet Muhammad वाले बयान पर Ulema-e-Islam की नसीहत | वनइंडिया हिंदी | News
    barily

    बरेली स्थित अखिल भारतीय तंजीम उलेमा-ए-इस्लाम के राष्ट्रीय महासचिव मौलाना शहाबुद्दीन रिजवी ने कहा

    "पैगंबर मुहम्मद ने कहा कि एक अच्छा मुसलमान वह है जो अपने हाथों (कर्मों) या जीभ (शब्दों) से किसी को दर्द नहीं देता है। ... इसलिए मैं सभी से कानून के दायरे में विरोध करने की अपील करता हूं।"

    रिजवी की अपील रांची और हावड़ा सहित कई शहरों में पैगंबर पर विवादास्पद टिप्पणी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के हिंसक होने के एक दिन बाद आई है।

    कल, ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) ने मुस्लिम विद्वानों को सलाह दी कि वे उन टीवी चैनलों की बहस में हिस्‍सा ना लें। जिनका उद्देश्य केवल 'इस्लाम का उपहास करना और मुसलमानों का मजाक बनाना है।रिजवी की अपील रांची और हावड़ा सहित कई शहरों में पैगंबर पर विवादास्पद टिप्पणी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के हिंसक होने के एक दिन बाद आई है।

    शुक्रवार को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) ने मुस्लिम विद्वानों को सलाह दी कि वे उन टीवी चैनलों की बहस में भाग न लें जिनका उद्देश्य केवल 'इस्लाम का उपहास करना और मुसलमानों का मजाक बनाना है।

    मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने अपने बयान में कहा कार्यक्रमों में भाग लेकर, वे इस्लाम और मुसलमानों की कोई सेवा नहीं करते हैं, लेकिन परोक्ष रूप से इस्लाम और मुसलमानों का अपमान और उपहास करते हैं, इन कार्यक्रमों का उद्देश्य रचनात्मक के माध्यम से किसी निष्कर्ष पर पहुंचना नहीं है। चर्चा। बल्कि यह इस्लाम और मुसलमानों का उपहास और बदनामी करना है।

    बोर्ड ने अपने बयान में कहा कि ये चैनल अपनी तटस्थता साबित करने के लिए एक मुस्लिम चेहरे को भी बहस में शामिल करना चाहते हैं। हमारे उलेमा और बुद्धिजीवी अज्ञानतावश इस साजिश के शिकार हो जाते हैं, अगर हम इन कार्यक्रमों और चैनलों का बहिष्कार करते हैं, तो इससे न केवल उनकी टीआरपी कम होगी, बल्कि वे अपने उद्देश्य में बुरी तरह विफल भी होंगे।

    जुमे की नमाज के बाद हुए उपद्रव को लेकर सख्त हुए योगी, जानिए क्यों कहा माहौल बिगाड़ने वाला एक भी न बचेजुमे की नमाज के बाद हुए उपद्रव को लेकर सख्त हुए योगी, जानिए क्यों कहा माहौल बिगाड़ने वाला एक भी न बचे

    Comments
    English summary
    Muslim religious leader said on Nupur Sharma's controversial statement on Pangbar - protest within the ambit of law
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X