गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा इलाका, धुआं छटां तो गिरी पड़ी थी लाश

Posted By: Prashant
Subscribe to Oneindia Hindi

मथुरा। उत्तर प्रदेश के मथुरा के थाना कोतवाली वृन्दावन इलाके का गाँव सोमवार की देर शाम गोलियों की आवाज से गूंज उठा। दो पक्षों के बीच हुई फायरिंग में एक व्यक्ति की मौत हो गई। जिसके बाद हुए बबाल में आरोपी पक्ष के 3 मकानों में संदिग्ध परिस्थितियों में आग लग गई।

mathura man murdered home burn

श्री चन्द्र और किशन लाल के परिवार में पिछले कई सालों से नाली को लेकर विवाद चल रहा है। इस विवाद ने 2 साल पहले 2015 के जून महीने में उस समय खूनी रूप ले लिया जब श्री चन्द्र और उसके भाइयों ने मिलकर किशन लाल की गोली मारकर हत्या कर दी । इस मामले में पुलिस ने हरीश चन्द्र को गिरफ्तार कर जेल तो भेज दिया लेकिन उसके भाई गोपीचन्द्र और श्री चन्द्र किशी कारण जेल नहीं जा पाए। सोमवार की देर शाम किशन लाल का भाई रतन लाल अपनी गार्ड की ड्यूटी खत्म कर गांव लौट रहा था कि तभी उसकी गोली मार कर हत्या कर दी।

इस बात की जानकारी जब उसके परिवार को हुई तो वहां कोहराम मच गया और इसी बीच संदिग्ध परिस्थितियों में आरोपी पक्ष के श्री चन्द्र , हरीश चंद्र और गोपी चन्द्र के घरों में आग लग गई। हत्या और 3 घरों को आग लगने की सूचना मिलते ही भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने रतनलाल को अस्पताल भिजवाया जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं कड़ी मशक्कत के बाद दमकल की मौके पर पहुँची 4 गाड़ियों ने आग पर काबू पाया। मृतक रतनलाल के पिता बदन सिंह और भतीजे राजेश ने बताया कि रतनलाल शाम को छुट्टी कर आ रहे थे कि तभी पहले से घात लगाए बैठे श्री चन्द्र , गोपीचन्द्र और अन्य अज्ञात लोगों ने उनको गोली मार दी और खुद अपने घरों में आग लगा दी । दो साल पहले भी किशनलाल की इन लोगों ने नाली के विवाद को लेकर हत्या कर दी थी।

ये भी पढ़ें- हिमाचल के 'इजरायल' में लगती है जिस्म से लेकर नशे तक की मंडी, कोर्ट ने चलाया चाबुक

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
mathura man murdered home burn
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.