'फर्जी बाबाओं' की लिस्ट पर उफन गया ये बाबा, उठा लिया बड़ा कदम

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। कुछ दिन पहले ही अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने 14 फर्जी बाबाओं की लिस्‍ट जारी की थी। अब उन्‍हीं लिस्‍ट में से एक बाबा ने आखड़ा परिषद के अध्‍यक्ष नरेंद्र गिरि को नोटिस भेजा है। आपको बता दें कि जिन बाबाओं को फर्जी करार दिया गया है उनके अर्द्धकुंभ में आने पर रोक लग सकती है। इस संबंध में आखड़ा परिषद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को इन बाबाओं की सूची सौंपने वाली है। गौरतलब है कि 2015 में नासिक कुंभी में राधे मां को जाने से रोका जा चुका है।

'फर्जी बाबाओं' की लिस्ट पर उफन गया ये बाबा, उठा लिया बड़ा कदम

जानकारी के मुताबिक अखाड़ा परिषद ने इलाहाबाद की जिस सिद्धेश्‍वरी गुप्‍त महापीठ के महंत कुश मुनि को इतवार को फर्जी बाबा घोषित किया था, आज उन्‍होंने परिषद के अध्‍यक्ष नरेंद्र गिरी को कानूनी नोटिस भेज दिया। कुश मुनि की वकील ज्‍योति गिरी ने नरेंद्र गिरी को लिखा है कि, आपने निराधार तथ्‍यों के आधार पर मेरे मुवक्किल आचार्य कुश मुनि को फर्जी बाबाओं की सूची में रखा है, ऐसा आपने मेरे मुवक्किल से बदला लेने के लिए किया है।

Read Also- बाबाओं की ब्‍लैकलिस्‍ट: सेक्‍स रैकेट, रेपिस्‍ट, अश्‍लीलता में डूबे 14 फर्जी सतों का चिट्ठा

यदि आप उनका नाम उस सूची से नहीं हटाते हैं तो आपके ऊपर क्‍यों न मानहानि का मुकदमा किया जाएगा। वहीं कुश मुनि का कहना है कि 'मैं नरेंद्र गिरी के कहने से फर्जी नहीं हो जाउंगा। वो देख लें कि उनके अखाड़ों के कितने महंतों पर आपराधिक मुकदमें चल रहे हैं। खुद नरेंद्र गिरी की छवि कोई अच्‍छी नहीं है। मैंने उनको नोटिस भेज दिया है. मैं इनसे न्‍यायालय में निपटूंगा।'

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Legal notice to Akhara Parishad by so called fake baba Kush Muni.
Please Wait while comments are loading...