ईयरफोन लगाकर ट्रैक्टर चला रहे नाबालिग ने मां-बाप, दो बच्चों को कुचला

Subscribe to Oneindia Hindi

मिर्जापुर। ईयरफोन लगाकर ईंट लदा ट्रैक्टर चला रहे नाबालिक चालक ने रविवार की सुबह मिर्जापुर जिले के जिगना थना क्षेत्र के इलाहाबाद-मिर्जापुर मार्ग पर पाली गांव के पास बाइक सवार दंपती और उसके दो मासूम बच्चों को कुचल दिया।

Read Also: यूपी': प्राइवेट स्कूल में कोच ने दो छात्रों से किया दुष्कर्म, हत्या की धमकी

हादसे मं मां-बच्ची की मौके पर मौत

हादसे मं मां-बच्ची की मौके पर मौत

इस हादसे में विवाहिता 22 वर्षीय कविता और एक साल की पुत्री अंशिका की दर्दनाक मौत हो गयी। बाइक चला रहे 25 वर्षीय बबलू गुप्ता और दो वर्षीय पुत्र अंश बच गए। घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने ट्रैक्टर चालक के खिलाफ रपट और मुआवजे की मांग को लेकर मिर्जापुर-इलाहाबाद मार्ग पर शव रखकर जाम लगा दिए। जाम के ढ़ाई घंटे बाद मौके पर पहुंचे एसडीएम सदर के आश्वासन पर जाम छूटा। पंचनामा के बाद शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया।

परिवार को लेकर जा रहा था ससुराल

परिवार को लेकर जा रहा था ससुराल

सास को सर्प के डस लेने की खबर सुनकर जिगना थाना क्षेत्र के बजटा गांव निवासी 25 वर्षीय बबलू गुप्ता पत्नी कविता, दो साल का लड़का अंश और एक साल की बच्ची अंशिका को बाइक से लेकर इलाहाबाद जिले के मेजा थाना क्षेत्र के राम नगर स्थित ससुराल जा रहा था। सुबह दस बजे गांव से मात्र दो किमी की दूरी पर बाइक सवार दंपती बच्चों को लेकर पहुंचे ही थे कि पास लेते समय ईंट लदे ट्रैक्टर ट्राली ने दाहिने तरफ जाकर बाइक में धक्का मार दिया।

ट्रैक्टर से बाइक को मारा धक्का

ट्रैक्टर से बाइक को मारा धक्का

धक्का लगने से बाइक सवार असंतुलित हो कर सड़क पर गिर गया। इस हादसे में बच्ची अंशिका व उसकी मां कविता ट्राली के चक्के के नीचे आ गयी। दोनों की घटना स्थल पर ही मौत हो गयी। कार्रवाई की मांग को लेकर ग्रामीणों ने सडक जाम कर दिया था। एसडीएम सदर अविनाश त्रिपाठी ने बताया कि दुर्घटना बीमा के साथ भट्ठा मालिक से मृतका के परिजनों को मुआवजा दिलाया जायेगा। साथ ही मुकदमा दर्ज करके नियमानुसार कार्रवाई की जायेगी। इसके बाद जाम समाप्त हुआ।

घटना को बाद लोगों में आक्रोश

घटना को बाद लोगों में आक्रोश

जिगना थानान्तर्गत पाली गांव के पास हुई सड़क दुर्घटना से ईंट भट्ठा संचालकों के साथ इलाकाई पुलिस की लापरवाही उजागर हो रही है। ग्रामीणों के मुताबिक, नाबालिग लड़का कान में ईयरफोन लगाकर ईंट लदा ट्रैक्टर ट्राली चला रहा था। इसके चलते यह घटना हुई। इससे साफ प्रतीत होता है कि भट्ठा मालिक कम पैसे देकर नाबालिग लड़कों से ट्रैक्टर चलवा रहे है वहीं इलाकाई पुलिस जांच के नाम पर सिर्फ कोरम पूरा कर रही है। ग्रामीणों ने इसकी भी जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की।

Read Also: खजाने के लिए घर में खोदा कुआं, गिरकर फंसा तो क्रेन से निकाला गया

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Four family member crushed by tractor driven by minor in Mirzapur, Uttar Pradesh.
Please Wait while comments are loading...