• search
रायपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

छत्तीसगढ़ के रूरल इण्डस्ट्रियल पार्क योजना को लगेंगे पंख, हार्वर्ड विश्वविद्यालय से मिलेगा सहयोग

छत्तीसगढ़ के रूरल इण्डस्ट्रियल पार्क योजना को पंख लगने वाले हैं।हार्वर्ड विश्वविद्यालय डिजाइनिंग लैब के प्रतिनिधि इसमें सरकार का सहयोग करेंगे।
Google Oneindia News

छत्तीसगढ़ सरकार की योजनाओ की चर्चा विदेशो तक है। अमेरिका की हार्वर्ड विश्वविद्यालय अब छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी 'रूरल इंडस्ट्रियल पार्क' (रीपा) योजना में सहयोग करेगी। राज्य योजना आयोग एवं ट्रांसफार्मिंग रूरल इंडिया फांउडेशन के बीच संपादित हुए एमओयू के माध्यम से हार्वर्ड विश्वविद्यालय के डिजाइन लैब द्वारा योजना आयोग भवन में दो दिवसीय 'कम्युनिटी डिजाईन फेसिलिटेटर' विकसित करने हेतु कार्यशाला का आयोेजन किया जा रहा है।

rural indusrial park cg

मिली जानकारी के मुताबिक कार्यशाला के गुरुवार को पहले दिन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सलाहकार प्रदीप शर्मा समेत योजना आयोग के उपाध्यक्ष अजय सिंह, हार्वर्ड विश्वविद्यालय से डॉ. एन्द्रे नौगेरिया, रीपा के नोडल अधिकारी गौरव सिंह एवं टीआरआईएफ के प्रबंध निदेशक अनिश कुमार ने अपने महत्वपूर्ण विचार रखे और गौठानों से जुड़े अधिकारियों एवं स्व-सहायता समूह के सदस्यों को अच्छे कार्य करने के लिए प्रेरित किया।

प्रदीप शर्मा ने रीपा योजना में सहयोग के लिए हार्वर्ड विश्वविद्यालय प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि रीपा गांव की समृद्धि को एक नया आयाम देने वाली योजना है, जिसकी प्लानिंग गंभीरता से की जा रही है। इसके विविध पहलुओं पर ध्यान देते हुए योजना में नॉनफार्म गतिविधियों पर भी विशेष जोर दिया जा रहा है। इसके लिए डिजाईन थिंकिंग से योजना क्रियान्वयन हेतु हार्वर्ड की मदद महत्वपूर्ण होगी। उन्होंने कहा कि रीपा योजना के अंतर्गत विविध क्षेत्र जैसे वनोपज, सेवा आधारित उद्योग, एफएमसीजी इत्यादि को भी प्राथमिकता दी जा रही है।

डॉ. एन्द्रे नौगेरिया ने समारोह में जिलों से आए गौठान समिति के सदस्य एवं इनके साथ आए नोडल अधिकारियों को डिजाईन थिंकिंग फ्रेमवर्क को कैसे सोसियल, पब्लिक पॉलीसी में उपयोग किया जा सकता है इसके बारे में विस्तार से समझाया। योजना आयोग के उपाध्यक्ष अजय सिंह ने शासन की महत्वपूर्ण योजना रीपा में सहयोग करने के लिए हार्वर्ड विश्वविद्यालय को बधाई दी। उन्होंने कार्यशाला में उपस्थित सहभागियों से रीपा को सफल बनाने के लिए बेहतर प्लान के साथ काम करने के लिए महत्वपूर्ण सुझाव दिए। उन्होंने कहा कि देश के विकास के लिये समाज के सभी वर्गो की भागीदारी आवश्यक है। जो विकास की मुख्यधारा से छुटे हुये हैं उसको सम्मिलित करना इस योजना का एक महत्वपूर्ण उद्देश्य है। राज्य योजना आयोग इस महत्वपूर्ण योजना की सफलता के लिये हर तरह से सहायता देने का प्रयास करेगा ।

कार्यशाला में रायपुर, रायगढ़, कांकेर एवं बस्तर जिले के चयनित ग्राम गोठान समिति के सदस्य, प्रतिभाशाली उद्यमी एवं स्वसहायता समूह के सदस्यों तथा बिहान के सीईओ एलीस लकड़ा तथा एसपीएम एवं डीपीएम ने जमीनी स्थिति के बारे में अवगत कराया। कार्यक्रम में मुक्तेश्वर सिंह, प्रशांत चिन्नापानवर, श्रीश कल्याणी, निरजा कुद्रीमोती, अभय तिवारी एवं यामिनी लहरे मौजूद थीं। कार्यक्रम का संचालन राजीव त्रिपाठी एवं धन्यवाद ज्ञापन राज्य योजना आयोग के सदस्य अनुप श्रीवास्तव द्वारा किया गया।

यह भी पढ़ें छत्तीसगढ़ विधानसभा में कल होगा आरक्षण विधेयक पारित, प्रदेशभर में खुशियां मनायेगी कांग्रेस

Comments
English summary
Chhattisgarh's Rural Industrial Park scheme will get wings, cooperation will be received from Harvard University
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X