• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दुनिया कोरोना से लड़ रही थी तब पाकिस्तान महिलाओं पर अत्याचार करने में लगा था- रिपोर्ट

|

Violence Against Women In Pakistan: इस्लामाबाद। साल 2020 में जब पूरी दुनिया में कोरोना महामारी अपना कहर बरपा रही थी और दुनिया भर में लोग महामारी से बचने के लिए अपने घरों में बंद होने को मजबूर हो गए थे उसी समय पड़ोसी देश पाकिस्तान में महिलाओं पर अत्याचार के मामले तेजी से बढ़ गए थे।

गैर सरकारी संगठन ने जारी की रिपोर्ट

गैर सरकारी संगठन ने जारी की रिपोर्ट

पाकिस्तान के 25 जिलों से मिले आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल जनवरी से दिसम्बर के बीच इन जिलों में महिलाओं के खिलाफ हिंसा के 2297 मामले दर्ज किए गए। इस्लामाबाद स्थित महिला अधिकार संगठन ने ये रिपोर्ट जारी की है।

औरत फाउंडेशन ने एक गैर सरकारी संगठन के साथ मिलकर कोविड-19 महामारी के दौर में महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ हिंसा शीर्षक से रिपोर्ट जारी की है जिसमें महामारी के दौरान पाकिस्तान में महिलाओं के ऊपर बढ़ी हिंसा के गंभीर आंकड़ों का खुलासा किया गया है।

संगठन की इस रिपोर्ट में पाकिस्तान के विभिन्न अखबारों में रिपोर्ट किए गए महिलाओं के खिलाफ हिंसा के मामलों को आधार बनाया गया है। 25 जिलों से लिए गए इस डेटा की प्रामाणिकता के लिए उन जिलों में पुलिस विभाग से भी इसकी छानबीन करने के बाद इसे जारी किया गया।

पंजाब में सबसे ज्यादा मामले

पंजाब में सबसे ज्यादा मामले

इसके अलावा महिलाओं के खिलाफ हिंसा के 14 मामलों का अध्ययन किया गया है और प्रांतों में महिलाओं के लिए बने आयोगों में अधिकारियों के कई सारे साक्षात्कारों का विश्लेषण भी किया गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक कुल मामलों में 57 प्रतिशत मामले केवल पंजाब प्रांत से रिपोर्ट किए गए हैं, 27 प्रतिशत मामले सिंध से थे जबकि खैबर पख्तूनख्वा से 8 प्रतिशत केस दर्ज किए गए हैं। पाकिस्तान द्वारा अवैध रूप से कब्जा किए गए गिलगिट बाल्टिस्तान से 6 प्रतिशत केस हुए हैं वहीं अशांत क्षेत्र बलोचिस्तान से 2 प्रतिशत मामले दर्ज किए गए हैं।

पाकिस्तान में महिलाओं पर हिंसा करने वाले राज्य में पहले नम्बर पर रहे पंजाब में सबसे अधिक मामले हत्या, बलात्कार, आत्महत्या, एसिड फेंकने और अपहरण के साथ ही घरेलू हिंसा व जबरन विवाह के मामले मिले हैं। सिंध में झूठी शान के नाम होने वाली ऑनर किलिंग के सबसे ज्यादा मामले देखे गए।

पाकिस्तान में महिलाओं की स्थिति

पाकिस्तान में महिलाओं की स्थिति

पाकिस्तान में महिलाओं की स्थिति दुनिया के कई देशों के मुकाबले खराब है। पाकिस्तानी न्यूज चैनल जियो न्यूज की 2020 की एक रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान में हर रोज 11 महिलाओं के साथ बलात्कार की घटनाएं होती हैं। पिछले छह साल में पाकिस्तान में रेप के 22 हजार मामले दर्ज किए गए हैं।

2015 से अभी तक यौन उत्पीड़न के 22,037 मामले दर्ज किए गए हैं जिनमें से 4,060 मामले अभी भी कोर्ट में पेंडिंग हैं। अभी तक 18 प्रतिशत मामले में ही सुनवाई हो सकी है।

पाकिस्तान में अहमदी डॉक्टर की गोली मारकर हत्या, चुन-चुनकर निशाना बनाए जा रहे हैं अहमदिया मुसलमान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
violence against women pakistan reached peak in corona pandemic
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X