• search
मेरठ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हरिद्वार की युवती को मेरठ का युवक शादी करके नाइजीरिया ले गया, वहां जहर देकर मार डाला

|

मेरठ। उत्तर प्रदेश में मेरठ के रहने वाले एक युवक की शादी हरिद्वार की युवती से हुई थी। वह युवक नाइजीरिया में जॉब करता था। युवती के घरवालों ने खुशी-खुशी बेटी को उसके साथ विदा कर दिया। हालांकि, शादी के 4 महीने बाद युवती की उस युवक ने कोई खैर-खबर नहीं दी। युवती के घरवालों ने पुलिस से मामले की शिकायत की। जिसके बाद स्थानीय पुलिस ने नाइजीरियन पुलिस से मदद मांगी। पता चला कि युवती की हत्या कर दी गई है। युवती के घर वालों ने युवक पर बेटी को जहर देकर मारने का आरोप लगाया है। युवती के घरवालों का कहना है कि आरोपियों के खिलाफ मुजफ्फरनगर के चरथावल थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने के बावजूद पुलिस जांच के नाम पर हमसे चार-महीने से चक्कर कटवा रही है।

युवक शादी करके युवती को नाईजीरिया ले गया था

युवक शादी करके युवती को नाईजीरिया ले गया था

मंगलवार को उक्त युवती के घरवालों ने एडीजी से शिकायत करते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। हरिद्वार की गंगोत्री कॉलोनी निवासी सीमा रानी ने बताया कि उन्होंने 24 अप्रैल 2018 को अपनी पुत्री आयुषी उर्फ शालू की शादी मुजफ्फरनगर के चरथावल निवासी गौरव के साथ की थी। गौरव नाइजीरिया के लागोस शहर में एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था। शादी के एक महीने बाद गौरव उनकी बेटी आयुषी को अपने साथ नाइजीरिया ले गया। इसके लगभग तीन महीने बाद 19 अगस्त को गौरव ने नाइजीरिया से कॉल करके कहा कि हार्ट अटैक के कारण आयुषी की मौत हो गई है।

मौत के 24 दिन बाद नाइजीरिया से गांव लाई गई लाश

मौत के 24 दिन बाद नाइजीरिया से गांव लाई गई लाश

आयुषी का मामा युवराज और जेठ धीरज उसकी मौत के लगभग 24 दिन बाद नाइजीरिया से उसके शव को लेकर आयुषी के पैतृक गांव पहुंचे और उसका अंतिम संस्कार कर दिया। सीमा ने बताया कि, फिर हम अपने दामाद गौरव से आयुषी के इलाज से जुड़े कागजात और पोस्टमार्टम रिपोर्ट मांगते रहे। मगर, वह टालमटोल करता रहा। जिसके बाद परिवार के लोगों ने विदेश मंत्रालय और तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के संज्ञान में मामला डाला।

कागजात दिखते ही परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई

कागजात दिखते ही परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई

इसी के साथ सभी के संयुक्त प्रयास से आरटीआई के माध्यम से नाइजीरिया से आयुषी के इलाज से जुड़े कागजात और पोस्टमार्टम रिपोर्ट मंगाई गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट हाथ में आते ही परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई। क्योंकि उसमें आयुषी की मौत का कारण जहर बताया गया था।

इसलिए अटक गई जांच

इसलिए अटक गई जांच

परिजनों का आरोप है कि उन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद चरथावल थाने में आयुषी के पति गौरव सहित अन्य ससुराल वालों के खिलाफ दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई। आरोप है की रिपोर्ट दर्ज होने के चार महीने बाद भी चरथावल पुलिस ने अब तक किसी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया है। उधर, आरोपी गौरव फिर से नाइजीरिया भागने की फिराक में है। परिजनों ने बताया कि चरथावल पुलिस का कहना है कि नाइजीरिया के अधिकारियों ने अभी उन्हें आयुषी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट या अन्य कोई संबंधित कागजात नहीं भेजा है, जिसके चलते पुलिस की जांच अटकी हुई है।

यूपी पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं दे रही

यूपी पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं दे रही

परिजनों ने सवाल उठाया कि जिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट को उन्होंने साधारण नागरिक होते हुए हासिल कर लिया, वहीं रिपोर्ट हासिल करने में आखिर यूपी पुलिस क्यों नाकाम है। उन्होंने इस पूरे प्रकरण में चरथावल पुलिस की भूमिका को संदिग्ध बताते हुए आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की। जिसके बाद एडीजी प्रशांत कुमार ने मामले में कार्यवाई के आदेश दिए हैं।

देखिए, देश में सबसे लंबा आदमी है ये, अहमदाबाद में फ्री इलाज कराने के बाद अब खुद चल-फिर रहा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
haridwar girl killed by her husband in nigeria
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X