• search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

अनाथ छात्रा नेहा अनुरागी बनाना चाहती है थानेदार, IPS सचिन शर्मा ने बना दिया पुलिस अधीक्षक!

|

छतरपुर। मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में बीए फर्स्ट ईयर में पढ़ने वाली छात्रा नेहा अनुरागी थानेदार बनना चाहती है, मगर जब आईपीएस सचिन शर्मा ने उन्हें एसपी बना दिया। पुलिस अधिकारी बनने का ख्वाब पूरा होने पर नेहा अनुरागी की खुशी का ठिकाना नहीं रहा।

14 वर्षीय भाई के साथ रहने लगी नेहा

14 वर्षीय भाई के साथ रहने लगी नेहा

दरअसल, हुआ यूं कि छतरपुर के कड़ा की बरिया मोहल्ला निवासी नेहा अनुरागी के माता-पिता की काफी समय पहले मौत हो गई थी। इसके बाद वह अपने 14 वर्षीय भाई के साथ रहने लगी। अनाथ हो जाने के बाद नेहा ने न केवल छोटे भाई को संभाला बल्कि खुद की पढ़ाई भी जारी रखी थी।

कुर्सी पर बैठाकर उसका हौसला बढ़ाया

कुर्सी पर बैठाकर उसका हौसला बढ़ाया

वर्तमान में बीए की पढ़ाई कर रही नेहा ने बताया कि वह पुलिस सेवा में जाना चाहती है। पुलिस विभाग में भर्ती होकर देश व समाज की सेवा करना चाहती है। वो अपने इसी जज्बे और सपने को लेकर छतरपुर पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा से मिलने गई थी। तभी पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा ने पुलिस सेवा में जाने के उसके जुनून व जज्बे के बारे में पता चला तो उन्होंने नेहा को अपने चेंबर में बुलवाया और अपनी कुर्सी पर बैठाकर उसका हौसला बढ़ाया।

छतपरपुर एसपी साहब ने पुलिसिंग के बारे में बताया

छतपरपुर एसपी साहब ने पुलिसिंग के बारे में बताया

नेहा ने बताया कि छतपरपुर एसपी साहब ने मुझे पुलिसिंग के बारे में बताया। इसके बाद मैं अपना लक्ष्य पाने के लिए और मेहनत कर सकूंगी। वहीं, इस मामले में सचिन शर्मा का कहना है कि नेहा के दृढ़संकल्प वाले जज्बे ने उन्‍हें इंप्रेस किया। इसलिए अपनी चेयर पर बैठाकर उसे महसूस कराया है कि पुलिस के आदर्श और भूमिका कैसे निभाई जाती है। गौरतलब है कि पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा संकल्प अभियान के तहत बेसहारा बुजुर्गों और गरीब लोगों की मदद करके लोगों का सहारा बनने के लिए चर्चित हैं। इस छात्रा को थोड़ी देर के लिए ही पुलिस आफिसर बनाकर उन्होंने एक और मिसाल पेश की है।

पत्नी को परीक्षा दिलाने के लिए झारखंड से ग्वालियर 1176 KM दूर स्कूटी से आए, अब फ्लाइट से जाएंगे घर

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Orphan student Neha becomes Superintendent of Police of Chhatarpur Madhya Pradesh
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X