• search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

VIDEO: ट्रेन के सामने जान देने जा रहा थी लड़की, तभी मसीहा बनकर आया ऑटो ड्राइवर

|
Google Oneindia News

बैतूल, सितंबर 28: मध्य प्रदेश के बैतूल जिले से दिल दहला देने वाला एक वीडियो सामने आया है। ट्रेन के सामने आकर आत्महत्या करने की कोशिश कर रही युवती को ऑटो चालक की सतर्कता और हिम्मत ने बचा लिया। अगर कुछ सेंकेंड की देरी हो जाती तो वह युवती तेज आ रहे ट्रेन की चपेट में आ जाती। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। युवती को बचाने वाले ऑटो ड्राइवर की सीएम शिवराज चौहान ने तारीफ की है। उन्होंने लिखा कि, मैं ऑटोरिक्शा चालक मोहसिन को बेटी का जीवन बचाने के लिए धन्यवाद देता हूँ।

बैतूल में ट्रेन के सामने जान देने पहुंची युवती

बैतूल में ट्रेन के सामने जान देने पहुंची युवती

बैतूल के सोनाघाटी रेलवे गेट पर सोमवार को 11बजे के आसपास एक युवती ट्रेन के सामने आत्महत्या करने पहुंची थी। एक युवती नकाब पहने बन्द रेलवे गेट के एक तरफ काफी देर से खड़ी थी। युवती बार बार अपना मोबाइल देख रही थी और ट्रेन के आने का इंतजार कर रही थी। इसी दौरान एक ऑटो चालक सवारी लेकर वहां पहुंचा। ऑटो में बैठा एक शख्स उस लड़की का वीडियो बनाने लगा। ऑटो चालक को आभास हो रहा था कि युवती कोई आत्मघाती कदम उठा सकती है।

अगर चंद सेकेंड की देरी हो जाती तो चली जाती जान

अगर चंद सेकेंड की देरी हो जाती तो चली जाती जान

कुछ देर बाद युवती गेट पार कर पटरियों के बीच पहुंच जाती है। ऑटो चालक ने बिना समय गंवाए दौड़ लगा दी और फौरन युवती को खींचकर ट्रैक से हटाकर किनारे ले आया। ट्रेन और युवती के बीच कुछ ही सेकंड का फासला रह गया था। अगर ऑटो चालक बहादुरी नहीं दिखाता तो युवती की जान जा सकती थी। ट्रेन के गुजर जाने के बाद युवती रोने लगी। इस बीच रेलवे गेट के कर्मचारी भी आ गए और उन्होंने युवती के मोबाइल से उसके परिजनों को फोन करके बुलाया। युवती के परिजन उसे अपने साथ ले गए।

ड्राइवर की हो रही है तारीफ

ड्राइवर की हो रही है तारीफ

युवती की जान बचाने वाले ड्राइवर का नाम मोहसिन है। ऑटो चालक मोहसिन शाह का कहना है कि सोमवार सुबह वह सवारियां लेकर पॉलिटेक्निक कॉलेज की ओर जा रहा था। ट्रेन के आने से पहले सोनाघाटी की रेलवे गुमटी बंद होने से वह रुक गया। पास में ही एक युवती मुंह पर स्कार्फ लपेटे हुए रो रही थी। ट्रेन का हॉर्न सुनाई देते ही उसने मोबाइल पर किसी से बात की और फौरन ही गेट में लगे लोहे के पोल के नीचे से निकल कर पटरी पर जाकर खड़ी हो गई।

मध्य प्रदेश : महिला बोली-'पहले खाते में दस लाख रुपए डलवाओ फिर लगवाऊंगी कोरोना वैक्सीन'मध्य प्रदेश : महिला बोली-'पहले खाते में दस लाख रुपए डलवाओ फिर लगवाऊंगी कोरोना वैक्सीन'

इस कारण से जान देने आई थी युवती

मोहसिन ने बताया कि, इस पर मैं उसे बचाने के लिए दौड़ा। उसे पकड़कर खींचने लगा, लेकिन वह हटने को तैयार नहीं थी। जैसे-तैसे उसे पकड़कर हटाया। इसके बाद उसे बाहर लेकर आए तो वह रोने लगी। उसे समझाया भी, लेकिन वह सुनने को तैयार नहीं थी। फिर युवती ने परिवार के बारे में बताया। उन्हें फोन कर मौके पर बुलाया गया। जानकारी के मुताबिक, युवती MBA पास है। लंबे समय से वह सेहत से जुड़ी परेशानियों से जूझ रही है। जॉब नहीं मिलने के कारण वह डिप्रेशन में चल रही है।

English summary
auto driver saved girl's life in Betul Madhya Pradesh
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X