• search
कन्नौज न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कन्नौज हादसे पर अखिलेश यादव का आरोप, बस मालिक है भाजपाई इसलिए नहीं हो रही कार्रवाई

|

कन्नौज। बीते कुछ दिन पहले उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले में हुए बड़े सड़क हादसे में घायल लोगों से मुलाकात करने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पहुंचे। इस दौरान उन्होंने छिबरामऊ अस्पताल और मेडिकल कॉलेज में भर्ती सभी घायलों से भी मुलाकात की। मुआवजे पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि बस का मालिक भाजपा से जुड़ा है इसलिए उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं की जा रही है।

uttar pradesh akhilesh yadav visit kannauj and meet inujured persons in kannau road accident

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव घटनास्थल पर भी पहुंचे। दिनेश शाक्य एडवोकेट, महेश यादव व महेंद्र यादव से प्रकरण की जानकारी ली। हादसे के बाद जली बस को भी देखा। अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार इस हादसे में मौतों का आंकड़ा छिपा रही है। घटना को चार दिन का समय बीत चुका है। अभी तक पुलिस बस मालिक विमल चतुर्वेदी को नहीं पकड़ सकी। शासन व प्रशासन बस मालिक को बचाने का प्रयास कर रहा है।

साथ ही उन्होंने कहा कि बस में मानकों की धज्जियां उड़ाई गई हैं। पीछे के हिस्से में टिन लगी है। यहां कांच लगा होना चाहिए था। कांच लगा होता तो सवारियों की जान बच सकती थी। अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार ने मृतकों को दो-दो लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है। यह कम है। वह सरकार से इन परिवारों को दस- दस लाख रुपये दिए जाने की मांग करेंगे।

इस दौरान पार्टी प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी, पूर्व विधायक अरविंद सिंह यादव, पूर्व ब्लाक प्रमुख नवाब सिंह यादव, एमएलसी पुष्पराज जैन, रामेंद्र यादव प्रधान, रॉबिन सिंह यादव, प्रधान रवी कोरी सहित कई लोग मौजूद रहे। घायलों से मिलने के बाद अखिलेश यादव ने कहा कि बस का मालिक भाजपा से जुड़ा है। इसलिए उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं की जा रही है।

पीड़ितों को मिलने वाली मदद में भेदभाव का आरोप लगाते हुए कहा कि मुआवजे में भी जाति और धर्म देखा जा रहा है। प्रदेश सरकार से पीड़ितों को 10-10 लाख रुपये मदद की मांग की। पूर्व सीएम ने कहा कि सपा की सरकार बनने पर मृतकों के परिजनों को 20-20 लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी।

English summary
uttar pradesh akhilesh yadav visit kannauj and meet inujured persons in kannau road accident
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X