• search
कन्नौज न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कार से कुचला मिला था ईश्वर दयाल का शव, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आई ये बात

|

कन्नौज। जिसके साथ सात फेरे लेकर साथ निभाने का वचन दिया था, उसी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर 13 जनवरी को अपने पति की हत्या कर दी। हत्या को हादसा दिखाने के लिए शव पर कार का पहिया चढ़ा दिया। लेकिन पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से घटना का खुलासा हो गया। दरअसल, ईश्वर दयाल की हत्या गला दबाकर की गई थी। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने मामले की विवेचना शुरू की तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ।

राधा देवी ने प्रेमी के साथ मिलकर दिया घटना को अंजाम

राधा देवी ने प्रेमी के साथ मिलकर दिया घटना को अंजाम

दरअसल, ईश्वर दयाल की हत्या की साचिश उसकी पत्नी राधा देवी ने अपने प्रेमी छोटेलाल के साथ मिलकर रची थी। कन्नौज पुसिस ने राधा देवी उसके प्रेमी छोटेलाल को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने हत्या में प्रयोग की ओमनी कार व एक मोबाइल हत्यारोपियों के पास से बरामद किया है। रविवार को कन्नौज के एसएसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने ईश्वर दयाल की हत्या का खुलासा करते हुए बताया कि थाना तिर्वा के महिलापुर राधा देवी पत्नी ईश्वरदयाल के घर गांव के छोटेलाल के यहां आना-जाना था।

    पत्नी ने पति को मार सड़क पर फेंका फिर कार से कुचली लाश, गमछे ने खोला हत्यारी बीवी का राज
    हत्या को हादसा दिखाने के लिए चढ़ा दिया कार का पहिया

    हत्या को हादसा दिखाने के लिए चढ़ा दिया कार का पहिया

    एसएसपी ने बताया कि इस दौरान राधा व छोटेलाल के बीच प्यार हो गया। जानकारी होने पर ईश्वरदयाल ने विरोध किया तो राधा देवी ने प्रेमी छोटेलाल के साथ मिलकर उसकी हत्या की साजिश रची। छोटेलाल ने मैनपुरी थाना किशनी हाल पता छिबरामऊ के निवासी सुघर सिंह व तिर्वा के भुलभुलियापुर निवासी गिरजाशंकर के साथ मिलकर ईश्वर दयाल को बहाने से बुलाकर उसकी हत्या कर दी। शव को कलुआपुर माध्यमिक विद्यालय के सामने रोड पर फेंक दिया। हत्या को हादसा दिखाने के लिए कार का पहिया चढ़ा दिया। पुलिस ने 13 जनवरी को उसका शव बरामद किया था।

    पूछताछ में हुई खुलासा

    पूछताछ में हुई खुलासा

    इधर, मृतक की मां ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। तिर्वा कोतवाली पुलिस को पूछताछ में अन्य तथ्य पता चले तो उन्होंने जांच प्रक्रिया दूसरी तरफ मोड़ी। पुलिस ने मृतक ईश्वरदयाल की पत्नी राधा देवी को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने सारी सच्चाई कबूल दी। बताया वह पति से छुटकारा पाकर प्रेमी छोटेलाल के साथ रहना चाहती थी। इसका ईश्वरदयाल विरोध कर रहा था। इसके चलते उसे रास्ते से हटा दिया।

    गमछे से हुआ था पुलिस को शक

    गमछे से हुआ था पुलिस को शक

    तिर्वा कोतवाली पुलिस को मृतक ईश्वर दयाल के शव के पास से एक गमछा बरामद हुआ। पुलिस ने गमछे के बारे में पूछताछ की तो यह गमछा मृतक का नहीं निकला। इससे पुलिस का शक बढ़ गया। पुलिस ने सर्विलांस से मोबाइल की लोकेशन ट्रेस करवाई तो इस दौरान छोटेलाल का मोबाइल घटनास्थल के पास चालू पाया गया। इससे पुलिस का हादसा नहीं हत्या का शक बढ़ गया।

    ये भी पढ़ें:- गोरखपुर: बच्चा पैदा होते ही नाबालिक रेप पीड़िता ने ले ली जान, शव ठिकाने लगाने में मां ने की मदद

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Kannauj: Post mortem report reveals Ishwar Dayal murder case
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X