• search
जोधपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

राजस्थान बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल को धमकी-'शाम तक लड़की वापस करो, वरना...'

|

जोधपुर। राजस्थान बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल को धमकी दिए जाने का मामला सामने आया है। बेनीवाल के पास धमकी भरे फोन कॉल और व्हाट्सऐप पर मैसेज आए हैं, जिसकी शिकायत उन्होंने जोधपुर सिटी के कमिश्नर से की। इसके बाद संगीता बेनीवाल के घर की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है।

जोधपुर शहर का है मामला

जोधपुर शहर का है मामला

संगीता बेनीवाल को यह धमकी राजस्थान के जोधपुर शहर की रहने वाली 12 साल की एक लड़की को ले दी गई है। धमकी देने वाले ने उनसे कहा कि 'शाम तक लड़की को वापस करो वरना गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे'

एयरफोर्स से रिटायर होने के बाद इस 'खास खेती' से 15 लाख रुपए कमा रहे ओमप्रकाश बिश्नोई

तीन साल की बच्ची को छोड़ा

तीन साल की बच्ची को छोड़ा

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पूरा मामला यह है कि जोधपुर की एक लड़की जब तीन साल की थी तब उसकी मां ने उसे एक गैर सरकारी संस्था के पास छोड़ दियाा था। तब से बच्ची संस्था के पास ही है। अब वह 12 वर्ष की हो चुकी है। संस्था उसका पालन पोषण करने के साथ ही उसे पढ़ा भी रही है।

झोपड़ी से यूरोप तक का सफर, कभी पाई-पाई को थीं मोहताज, फिर 22 हजार महिलाओं को दी 'नौकरी'

 2012 से नवजीवन संस्था के पास है बच्ची

2012 से नवजीवन संस्था के पास है बच्ची

बता दें कि वर्ष 2011 में महिला ने अपनी बच्ची बाल संरक्षण कमेटी को सौंप दी थी। बोला था कि वह बच्ची को पालने में सक्षम नहीं है। इस पर कानूनी प्रक्रिया पूरी करने के बाद मई 2012 में लड़की को गैर सरकारी संस्था 'नवजीवन' को सौंप दिया गया था।

ब्यूटी विद ब्रेन है IPS नवजोत सिमी, ऑफिस में ही IAS तुषार सिंगला से की थी लव मैरिज, देखें तस्वीरें

 फरवरी में मिलवाया था मां-बेटी को

फरवरी में मिलवाया था मां-बेटी को

संगीता बेनीवाल के अनुसार लड़की की मां के चाहने पर फरवरी 2020 में उसको अपनी बेटी से मिलवाया भी गया था, मगर महिला चाहती है कि उसकी बेटी उसे वापस सौंपी जाए। महिला घरेलू नौकर के तौर पर काम करती है। वहीं, बच्ची भी अपनी मां के पास जाना नहीं चाहती है।

पल गहलोत : लाखों की नौकरी छोड़कर ऋषिकेश की वादियों में क्यों रच-बस गई यह इंजीनियर लड़की?

 हस्तक्षेप करने पर आने लगी धमकियां

हस्तक्षेप करने पर आने लगी धमकियां

पूरे मामले में जब बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल ने हस्तक्षेप किया तब समुदाय के कुछ लोग उन्हें फोन कॉल कर और व्हाट्सऐप पर मैसेज कर धमकियां देने लगे हैं। गुरुवार को भेजे गए एक धमकी भरे मैसेज में कहा गया है कि ‘शुक्रवार शाम तक वो लड़की को वापस करे दें वरना उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।' इधर लड़की ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि ‘मैं मां के पास वापस नहीं जाना चाहती।

 पुलिस को ​दी पूरी डिटेल

पुलिस को ​दी पूरी डिटेल

इस मामले में संगीता बेनीवाल ने जोधपुर सिटी के कमिश्नर से एनजीओ और लड़की को सुरक्षा मुहैया कराने की अपील की है। बेनीवाल ने कहा कि 'मैंने पुलिस आयुक्त से मुलाकात कर जांच के लिये सभी नंबर और संदेश साझा किये हैं। मैंने अनाथालय को पुलिस सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की है ताकि लड़की के साथ कोई अप्रिय घटना न हो।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
threat to Sangeeta Beniwal Chairperson of Rajasthan Child Officer Protection Commission
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X