• search
झारखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हेमंत सोरेनः राज्य के लोग खुशहाल रहें, यह हमारी प्राथमिकता है

|

दुमका। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सोमवार को दुमका जिले में प्रबुद्ध नागरिकों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि राज्य कीजनता के समर्थन और स्नेह के कारण मैं मुख्यमंत्री के रूप में आपके सामने खड़ा जरूर हूं। लेकिन आप अपनी बातें खुले मन से मेरे समक्ष रख सकते हैं। मुझे आप सभी अपना समझें। आप सभी के कारण ही मुझे प्रदेश का नेतृत्व करने का जिम्मा मिला है। मेरे लिए राज्य का समग्र विकास सबसे महत्वपूर्ण है।

cm-hemant-soren-did-meeting-with-intellectual-people-in-dumka

राज्य के लोग खुशहाल रहें, यह हमारी प्राथमिकता है। सीएम हेमंत सोरेन ने राजभवन में प्रबुद्ध नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार बनते ही कोरोना महामारी ने राज्य के घेर लिया था। फिर भी इस संक्रमण में हमारे सरकारी तंत्रों ने सीमित संसाधनों में डटकर मुकाबला किया और यह पूरे देश में एक मिसाल हैं। सीएम ने कहा कि समस्याएं बहुत हैं लेकिन मैं विश्वास दिलाता हूं कि लोगों की हर समस्याओं को जल्द से जल्द दूर करने का प्रयास करूंगा।

उन्होंने कहा कि झारखंड मजदूर प्रधान राज्य है। देश की अर्थव्यवस्था का चक्का घुमाने का काम हमारे मजदूर करते हैं। झारखंड, बिहार, यूपी, उड़ीसा, बंगाल के मजदूरों को जिस तरह कोरोना काल व्यवस्था ने उपेक्षित किया, वो किसी से छिपा नहीं है। जिन मजदूरों को कोरोना काल में उपेक्षित किया गया, आज उन्हीं मजदूरों को हवाई टिकट उपलब्ध करा ले जाया जा रहा है।

सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि जिस वक्त इन मजदूरों को दुतकारा जा रहा था उसकी वक्त झारखंड सरकार इन मजदूरों को अपने घर पहुंचाने का काम कर रही थी। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा सरकार ने भारत सरकार को पत्र लिखकर मजदूरों की मांग की है और केंद्र सरकार ने इसके लिए झारखंड राज्य को चुना है।

संक्रमण के दौरान राज्य सरकार ने तीन योजनाओं को शुरू किया ताकि प्रवासी मजदूरों को रोजगार मिल सके। सराकार प्रदेश के लोगों को अपने राज्य में ही रोजगार उपलब्ध कराने के लिए तेजी से कार्य कर रही है। सरकार बोलने में कम और कार्य करने पर ज्यादा विश्वास रखती है। सरकार ने कार्य योजना तैयार रखी है, समय के साथ-साथ उन्हें भी धरातल पर उतारा जाएगा।

साथ ही उन्होंने कहा कि लोगों को सरकार का कार्य धरातल पर दिखाई देगा।सरकार बनने के 6 महीने के अंदर ही राज्य में 3 कोरोना टेस्टिंग लैब बनाई गई, जिसमें एक टेस्टिंग लैब दुमका में भी बनायी गयी है। अब यहां के लोगों की कोरोना जांच आपके शहर दुमका में ही हो रही है। अब कोरोना जांच के लिए सैंपल को रांची या कोलकाता भेजने की जरूरत नहीं है।

झारखंडः स्वास्थ्य मंत्री को कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद सीएम हेमंत सोरेन सहित 8 मंत्री होम क्वारंटाइन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
cm hemant soren did meeting with intellectual people in dumka
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X