• search
जबलपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

जबलपुर एक्सीडेंट : 57 साल के एएसआई ने घायल महिला काे कंधे पर बैठाकर पहुंचाया अस्पताल

|

जबलपुर। सड़क हादसों के बाद अक्सर पुलिस पर लेटलतीफी व लापरवाही के आरोप लगते हैं, मगर कई पुलिसकर्मी भी ऐसे होते हैं, जो इस तरह के संकट के समय किसी मसीहा से कम नहीं होते हैं। ऐसी ही तस्वीरें मध्य प्रदेश के जबलपुर से वायरल हो रही हैं। 57 साल के इन एएसआई ने एक्सीडेंट के बाद घायल महिला मजदूर को कंधे पर बैठाकर अस्पताल पहुंचाया है।

Jabalpur Accident : 57-year-old ASI seated injured woman and rushed to hospital

जानकारी के अनुसार करीब तीन दर्जन खेतिहर मजदूर मिनी ट्रक में सवार होकर कोहला से शाहपुरा मटर तोड़ने के लिए जा रहे थे। रास्ते में घुघरी के पास मिनटी अनियंत्रित होकर पलट गया। इससे सभी मजदूर घायल हो गए। एक्सीडेंट की सूचना पाकर चरगवां पुलिस मौके पर पहुंची। तब तक चालक मौके से भाग गया। पुलिस ने ट्रक मालिक मल्लू राय की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस ने घायलों को आस-पास के लोगों की मदद से स्थानीय सरकारी अस्पताल में पहुंचाया।

DSP ने जिस भिखारी के लिए गाड़ी रोकी वो निकला उन्हीं के बैच का साथी पुलिस अधिकारी, भाई-पिता भी अफसर

अस्पताल में घायल लोगों को वार्ड तक ले जाने के लिए स्ट्रेचर तक नहीं थे। ऐसे में 57 वर्षीय एएसआई संतोष सेन समेत अन्य पुलिसकर्मी घायल मजदूरों को कंधों पर लादकर वार्ड तक ले गए। एएसआई संतोष सेन का हाथ वर्ष 2006 में हुई एक मुठभेड़ के दौरान जख्मी हो गया था। तब से हाथ काम नहीं करता। एक हाथ काम नहीं करने के बावजूद एएसआई द्वारा इस तरह की हिम्मत दिखाने पर हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Jabalpur Accident : 57-year-old ASI seated injured woman and rushed to hospital
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X