• search

कभी चूहे पकड़ने का काम करते थे व्लादीमिर पुतिन आज हैं रूस के बादशाह

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
      Vladimir Putin चौथी बार बनें Russia President, 76 % मिले Vote | वनइंडिया हिन्दी

      मॉस्को।व्लादीमिर पुतिन रविवार को एक बार फिर से रूस के बादशाह साबित हुए हैं। यहां हुए चुनावों के बाद आए एग्जिट पोल्स के नतीजों के बाद चुनाव आयोग ने पुतिन को देश का अगला राष्ट्रपति घोषित कर दिया है। अब पुतिन अगले छह वर्ष तक फिर से रूस पर राज करेंगे और इसके साथ ही वह इस देश पर स्टालिन के बाद सबसे ज्यादा समय तक शासन करने वाले राष्ट्रपति बन जाएंगे।अब जबकि पुतिन को एक बार फिर से रूस की कमान मिली है तो उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ ऐसी चीजें भी हैं जिन्हें जानना आज आपके लिए काफी अहम होती है। उदाहरण के लिए क्‍या आप जानते हैं कि राष्‍ट्रपति पुतिन के अंग्रेजी बोलने में घबराहट होती है और राष्‍ट्रपति बनने से पहले वह अमेरिका में रूस के जासूस के तौर पर रह चुके हैं। अगर नहीं तो जानिए पुतिन की जिंदगी से जुड़े कुछ ऐसे ही सीक्रेट।

      यह भी पढ़ें-पुतिन का वो मास्टर स्ट्रोक जिसने केजीबी एजेंट से बनाया मिस्टर प्रेसिडेंट!

      चूहे पकड़ने पेट भरने वाले राष्‍ट्रपति पुतिन

      चूहे पकड़ने पेट भरने वाले राष्‍ट्रपति पुतिन

      राष्‍ट्रपति पुतिन का जीवन बेहद गरीबी में बिता था। एक गरीब सोवियत परिवार में जन्‍म लेने वाले पुतिन का परिवार सेंट पीट्सबर्ग के एक अपार्टमेंट के ब्‍लॉक में तीन और परिवारों के साथ रहता था। आत्‍मकथा में पुतिन ने बताया है कि वह बचे हुए समय में चूहों को पड़ककर बाहर छोड़ने का काम करते थे।

      16 वर्ष तक की अमेरिका की जासूसी

      16 वर्ष तक की अमेरिका की जासूसी

      जीं हां, यह सच है। रूस के राष्‍ट्रपति और प्रधानमंत्री बनने से पहले पुतिन रूस की इंटेलीजेंस एजेंसी केजीबी के एजेंटे थे। यहां पर रहकी उन्‍होंने वर्ष 1975 से 1991 तक पूर्वी जर्मनी की जासूसी की। पुतिन की जिम्‍मेदारी थी ऐसे विदेशियों की नियुक्ति करना जिन्‍हें अमेरिका की जासूसी के लिए वहां भेजा जा सके।

      ब्‍लैक बेल्‍ट वाले राष्‍ट्रपति

      ब्‍लैक बेल्‍ट वाले राष्‍ट्रपति

      पुतिन ने एक चौंकाने वाले खुलासा किया था। उन्‍होंने बताया था कि जब वह 18 वर्ष के थे तो उन्‍होंने जूडो सीखना शुरू किया था। इसकी वजह थी कि उनकी उम्र से कम लड़के तो उम्र की परिपक्‍वता को हासिल कर चुके थे लेकिन पुतिन उनसे पीछे रह गए थे। पुतिन रूस मार्शल आर्ट सांबो के मास्‍टर हैं।

      अंग्रेजी से घबराते हैं

      अंग्रेजी से घबराते हैं

      पुतिन को जर्मन भाषा में महारत हासिल है लेकिन वह मानते हैं कि अंग्रेजी में बात करने को लेकर उन्‍हें बहुत ही घबराहट होती है। उन्‍होंने कई बार इंटरव्‍यू में कहा है कि वह सबके सामने अंग्रेजी में बात नहीं कर सकते हैं।

       शेर को किया बेजान

      शेर को किया बेजान

      पुतिन ने वर्ष 2008 में एक टेलीविजन क्रू की जान उस समय बचाई जब साइबेरियन टाइगर उस पर हमला करने आ रहा था। वैसे आपको बता दें कि पुतिन के पास एक नहीं दो नहीं बल्‍कि चार साइबेरियन टाइगर्स हैं।

      दो बेटियों के पिता

      दो बेटियों के पिता

      पुतिन की दो बेटियां हैं- मारिया और टेकटरीना पुतिन। दोनों का जन्‍म पूर्वी जर्मनी में 1980 के मध्‍य में हुआ था। लेकिन पुतिन के बारे में यह बात शायद कम लोग ही जानते हैं क्‍योंकि पुतिन ने आज तक अपनी व्‍यक्तिगत जिंदगी को सबसे छिपाकर रखा।

      मार्केल को कुत्‍तों से डराया

      मार्केल को कुत्‍तों से डराया

      जनवरी 2007 में जब जर्मन चासंलर एंजेला मार्केल और पुतिन की मुलाकात हुई तो पुतिन अपनी ब्‍लैक लैब्राडोर कोनी को लेकर वहां पहुंचे थे। पुतिन को यह बात मालूम थी कि मार्केल को कुत्‍तों से डर लगता है।

      जैज सिंगिंग के शौकीन

      जैज सिंगिंग के शौकीन

      बीटल्‍स के मुरीद दिसंबर 2010 में पुतिन जब एक कार्यक्रम में थे तो उन्‍होंने कुछ एक्‍टर्स के साथ जैज गाने पर परफॉर्म किया था। इसके बाद एक इंटरव्‍यू में पुतिन ने खुद इस बात को कुबूल किया कि उन्‍हें जैज म्‍यूजिक काफी पंसद है। जैज के शौकीन पुतिन बीटल्‍स के बहुत बड़े फैन हैं।

      फाइटर पायलट पुतिन को बाइक का क्रेज

      फाइटर पायलट पुतिन को बाइक का क्रेज

      अगस्‍त 2010 में वेस्‍टर्न रूस के जंगलों में भयानक आग लग गई थी। इस दौरान पुतिन ने फाइटर पायलट बने। को-पायलट बन पुतिन ने उस समय जंगलों की आग बुझाने में एक बड़ा योगदान दिया। फाइटर पायलट उड़ाने वाले पुतिन जुलाई 2010 में राष्‍ट्रपति पुतिन हार्ले-डेविडसन बाइकर्स फेस्टिवल में भी शामिल हुए थे। बाइक्‍स के लिए पुतिन का शौक इस कदर है कि फिनलैंड में प्रतिबंधित लोगों की लिस्‍ट में उनका नाम शामिल हो गया है। सिर्फ इतना ही नहीं राष्‍ट्रपति ने इसी वर्ष 240 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पर एक फॉर्मूला वन कार को भी टेस्‍ट किया था।

      पुतिन के नाम पर वोदका

      पुतिन के नाम पर वोदका

      वर्ष 2003 में मॉस्‍को डिस्‍टलरी क्रिस्‍टल कंपनी ने राष्‍ट्रपति पुतिन के नाम और उनकी लोकप्रियता को भुनाने के लिए उनके नाम पर वोदका लांच की। देखते-ही देखते इस वोदका की लोकप्रियता भी बढ़ने लगी और वर्ष 2004 में यह ब्रांड उस वर्ष का सुपरब्रांड बन गया। वर्ष 2006 में साथ ही वोदका कैटेगरी में इसे नेशनल अवॉर्ड भी मिला।

      पुतिन के नाम पर और कौन-कौन से ब्रांड

      पुतिन के नाम पर और कौन-कौन से ब्रांड

      राष्‍ट्रपति के नाम पर लांच वोदका के लांच होने के बाद रूस में राष्‍ट्रपति के नाम पर कैन्‍ड फूड गोरबुशा पुतिना कैवियर ब्रांड लांच किया गया। वोदका की ही तरह आज यह भी रूस का एक सुपरहिट कैन्‍ड फूड ब्रांड बन गया है। ब्रांड पुतिन का अंदाजा आप इस बात से ही लगा सकते हैं कि रूस में कोई भी यंगस्‍टर ऐसा नहीं है जिसके पास पुतिन के फोटो और उनके नाम वाली टीशर्ट न हो। करीब सात वर्ष पहले जब यह टी-शर्ट लांच हुई थी तो कुछ लोगों ने इसकी आलोचना की थी लेकिन फिर राष्‍ट्रपति पुतिन ने ही इसकी मंजूरी दे दी।

      पुतिन न होते तो जोक्‍स न होते

      पुतिन न होते तो जोक्‍स न होते

      रूस में अक्‍सर लोग यह बात करते हैं कि अगर राष्‍ट्रपति पुतिन न होते तो रूस में कोई भी चुटकुला बनता ही नहीं। आज राष्‍ट्रपति के नाम पर कई जोक्‍स तो हैं ही साथ ही साथ उनके नाम पर कॉमिक्‍स का एक ब्रांड भी बच्‍चों में काफी हिट है।

      पुतिन न होते तो जोक्‍स न होते

      पुतिन न होते तो जोक्‍स न होते

      रूस में अक्‍सर लोग यह बात करते हैं कि अगर राष्‍ट्रपति पुतिन न होते तो रूस में कोई भी चुटकुला बनता ही नहीं। आज राष्‍ट्रपति के नाम पर कई जोक्‍स तो हैं ही साथ ही साथ उनके नाम पर कॉमिक्‍स का एक ब्रांड भी बच्‍चों में काफी हिट है।

      पूर्व राष्‍ट्रपति लेनिन के घर नाना थे कुक

      पूर्व राष्‍ट्रपति लेनिन के घर नाना थे कुक

      पुतिन की मां के पिता यानी उनके नानाजी रूस के पूर्व प्रधानमंत्री व्‍लादीमिर लेनिन के यहां पर कुक का काम करते थे। हालांकि पुतिन जब राष्‍ट्रपति बने तो उन्‍होंने लेनिन की सरकार को रूस के लिए टाइम बम जैसी स्थिति के लिए जिम्‍मेदार ठहरा दिया।

      सेम सेक्‍स मैरिज के खिलाफ

      सेम सेक्‍स मैरिज के खिलाफ

      अमेरिकी राष्‍ट्रपति ओबामा से अलग पुतिन मानते हैं सेम सेक्‍स मैरिज शैतान की पूजा करने जैसा है। आज तक विशेषज्ञ कहते हैं कि उन्‍हें पुतिन के यह ख्‍याल कभी समझ नहीं आते हैं।

      जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

      देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
      English summary
      Vladimir Putin is all set to rule over Russia as its President for next 6 years know all about him.

      Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
      पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

      X
      We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more