• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारत की वैक्सीन डिप्लोमेसी का मुरीद हुआ UN, चिट्ठी लिखकर कहा- महामारी के दौर में भारत बना ग्लोबल लीडर

|

नई दिल्ली: यूनाइटेड नेशंस ने कोविड वैक्सीन उपलब्ध कराने में अग्रणी देश बनने पर भारत की जमकर तारीफ की है। UN महासचिव एंटोनियो गुटेरस ने कोविड-19 से दुनिया की लड़ाई में भारत के नेतृत्व की तारीफ करते हुए कहा कि भारत बेहद जरूरी और जिंदगी बचाने वाली वैक्सीन की सप्लाई दुनिया को कर रहा है, इसीलिए भारत एक लीडर की तरह कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में सामने आया है।

un chief

भारत के नेतृत्व में कोविड-19 से जंग

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारत ने जिस तरह से बिना भेदभाव किए हर छोटे-बड़े देश को कोरोना वैक्सीन और जरूरी मेडिकल संसाधन उपलब्ध कराने का काम किया है, उसकी वजह से यूनाइडेट नेशंस को भारत की लीडरशिप की तारीफ करने को मजबूर होना पड़ा। यूनाइटेड नेशंस में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस त्रिमुर्ति ने ट्वीट कर कहा कि 17 फरवरी को लिखी चिट्ठी में 'यूएन महासचिव एंटोनियो गुटेरस ने 2 लाख कोरोना वैक्सीन डोज उपलब्ध कराने के लिए भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर की कृतज्ञता जताई है'। यूनाइटेड नेशंस महासचिव ने विदेश मंत्री की कृतज्ञता जताते हुए कहा कि 'कोरोना वायरस महामारी से लड़ाई में भारत विश्व के लिए एक लीडर की तौर पर काम कर रहा है'।

टीएस त्रिमुर्ति ने UN महासचिव एंटोनियो गुटेरस की चिट्ठी ट्विटर पर शेयर किया है। जिसमें यूएन महासचिव गुटेरस ने लिखा है कि 'यकीनन, कोरोना महामारी के खिलाफ इस लड़ाई में भारत एक ग्लोबल लीडर है, जिसने पूरी दुनिया में अति आवश्यक मेडिकल सामान, डायग्नोस्टिक किट, क्रिटिकल मेडिसिन, वेंटिलेटर्स और PPE किट 150 से ज्यादा देशों को उपलब्ध करवाए हैं। भारत ने कोरोना महामारी के खिलाफ बनाए और उत्पादन किए जा रहे दो में से एक वैक्सीन को WHO आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मान्यता दे चुका है, जिसे अब बेहद जरूरी सप्लाई लिस्ट में शामिल किया गया है। यूनाइटेड नेशंस आपके (एस जयशंकर) लगातार सहयोग और कोवैक्स फैसिलिटी को और मजबूत करने के लिए आपका आभार प्रकट करता है'

आपका बता दें कि कोवैक्स (COVAX) एक अंतर्राष्ट्रीय मुहिम है, जिसके तहत हर देश तक कोरोना वैक्सीन पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। दुनिया के लिए भारत वैक्सीन बाजार के तौर पर अपनी पहचान रखता है और इसी हफ्ते भारत ने WHO को कोवैक्स मुहिम के तहत 2 लाख कोरोना वायरस वैक्सीन डोज फ्री में दिए हैं। जिसके बाद WHO और UN भारत की लगातार तारीफ कर रहा है। भारत ने कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर यूनाइटेड नेशंस सिक्योरिटी काउंसिल की बैठक में कहा था कि 'महामारी के दौर में यूनाइटेड नेशंस पीसकीपर्स जो कोरोना के खिलाफ बेहद कठिन लड़ाई लड़ रहे हैं भारत उन्हें 2 लाख कोरोना वायरस वैक्सीन डोज गिफ्ट करता है'

UN में भगवत गीता का जिक्र

यूनाइटेड नेशंस सिक्योरिटी काउंसिल में भगवत गीता के श्लोक का जिक्र करते हुए भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि 'सामाजिक भलाई को ध्यान में रखकर ही भारत अपना काम करता है और भारत के मूल में ही सांसिरक भलाई का उद्येश्य और एकजुट होकर किसी बाधा से निपटने का मंत्र है' यूनाइटेड नेशंस के महासचिव एंटोनियो गुटेरस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने न्यूज एजेंसी PTI के एक सवाल के जबाव में कहा कि 'यूएन महासचिव एंटोनियो गुटेरस भारत के इस पहल से बेहद खुश और आभारी हैं'। आपको बता दें कि भारत ने कई और देशों को मुफ्त में कोविड-19 वैक्सीन उपलब्ध कराया है, जिसको लेकर पूरी दुनिया में भारत की तारीफ की जा रही है। कुछ दिन पहले ही बांग्लादेश, भूटान. दक्षिण अफ्रीका ेने भारत की शान में जमकर कशीदें पढ़े हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
UN Secretary General Antonio Guterres called India a global leader in the fight against the corona virus. India has gifted 2 lakh corona virus vaccine UN
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X