• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

यूक्रेन में महिला सेना के हील्स पर क्यों मचा है हंगामा ? ऊंची हील्स जूती के साथ किया परेड

|
Google Oneindia News

कीव, जुलाई 04: यूक्रेन की महिला सैनिकों की सैंडल वाली नई तस्वीरों ने सोशल मीडिया पर बवाल मचा दिया है। यूक्रेन की महिला सैनिकों की सैंडल पहने परेड करने की तस्वीरें जैसे ही सोशल मीडिया पर वायरल होनी शुरू हुईं, ठीक वैसे ही यूक्रेन की संसद में हंगामा मचना शुरू हो गया। इन तस्वीरों में यूक्रेन की महिला सैनिक हील्स पहने हुए परेड के लिए ट्रेनिंग करती नजर आ रही हैं, जिसके बाद सरकार की काफी आलोचना हो रही है।

हील्स में महिला सैनिकों की परेड

हील्स में महिला सैनिकों की परेड

दरअसल, यूक्रेन अगले महीने अपनी आजादी के 30 साल पूरे होने का जश्न मनाने जा रहा है। जिसके लिए परेड का अभ्यास किया जा रहा है। देश के रक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार को कुछ तस्वीरें साझा कीं हैं, जिनमें महिला सैनिकों को काले रंग की मिड-हील हील्स पहने देखा जा सकता है। रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट आर्मिया इनफॉर्म ने कैडेट इवान्ना मेडविद के हवाले से कहा है कि 'आज पहली बार हील शूज में ट्रेनिंग हो रही है। सेना में हम जो जूते पहनते हैं, उसकी तुलना में यह थोड़ा कठिन है लेकिन हम कोशिश कर रहे हैं।'

महिला सैनिकों ने सैंडल में परेड क्यों

महिला सैनिकों ने सैंडल में परेड क्यों

गार्डियन में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, यूक्रेन के पूर्व राष्ट्रपति पेट्रो पोरोशेंको के करीबी नेता सैंडल के साथ संसद पहुंचे और रक्षा मंत्री से "परेड के लिए ऊँची एड़ी के जूते पहनने" के लिए कहा था। इसके लिए उन्होंने स्वास्थ्य संबंधी मुद्दा उठाया और गोलोस पार्टी की नेता इन्ना सोवसुन ने कहा कि, ''इससे ज्यादा हानिकारक और मूर्खतापूर्ण विचार सोचना मुश्किल है।'' उन्होंने यह भी कहा कि यूक्रेन की महिला सैनिक, पुरुषों की तरह ही अपनी जान जोखिम में डाल रही हैं और वो बिल्कुल भी "मजाक करने लायक नहीं हैं"। वहीं, विधानमंडल की उपाध्यक्ष ओलेना कोंडराट्युक ने अधिकारियों से ''महिलाओं का अपमान करने के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगने और मामले की जांच करने'' को कहा है।

सेना में हैं 31,000 से ज्यादा महिलाएं

सेना में हैं 31,000 से ज्यादा महिलाएं

रिपोर्ट के मुताबिक, यूक्रेन के सशस्त्र बलों में इस वक्त करीब 31,000 से ज्यादा महिलाएं हैं, जिनमें से 4,000 से ज्यादा अधिकारी हैं। सोशल मीडिया और संसद दोनों में हील्स पहनने को लेकर बवाल मचा हुआ है। यूक्रेन के अधिकारियों की मानसिकता को 'पुराना' बताते हुए विटाली पोर्टनिकोव ने फेसबुक पर लिखा कि 'महिलाओं के हील्स पहनने की घटना वास्तव में एक अपमान है।' वहीं, एक और विश्लेषक मारिया शाप्रिन मे कहा कि ''फैशन इंडस्ट्री ने महिलाओं का मजाक बनाकर रख दिया है'। वहीं, मारिया शाप्रानोवा नाम की एक विश्लेषक ने यूक्रेन रक्षा मंत्रालय पर "सेक्सिज्म और मिसोगिनी" का आरोप लगाया है और महिलाओं से माफी मांगने को कहा है।

इस देश में चलती है 'बच्चों की फैक्ट्री', लाखों खर्च कर मनचाहा बच्चा ले जाते हैं लोग, सच है बेदर्दइस देश में चलती है 'बच्चों की फैक्ट्री', लाखों खर्च कर मनचाहा बच्चा ले जाते हैं लोग, सच है बेदर्द

English summary
There has been an uproar in parliament and on social media after Ukrainian women soldiers were paraded in heels.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X