• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

वर्जिनिटी और धर्म के नाम पर इस चीयरलीडर को किया जा रहा है परेशान

By Bbc Hindi

वर्जिनिटी और धर्म के नाम पर इस चीयरलीडर को किया जा रहा है परेशान

अमरीकी फुटबॉल टीम मियामी डॉल्फिन्स की पूर्व चीयरलीडर ने अपनी टीम के ख़िलाफ़ आधिकारिक तौर पर शिकायत दर्ज़ कराई है.

जिसमें उनका कहना है कि उनके धर्म और वर्जिनिटी के कारण उन्हें परेशान किया गया है.

क्रिस्टन एन वेर 27 साल की है. वे कहती है 2016 में टीम के डायरेक्टर के साथ एक इंटरव्यू के बाद से उन्होंने डांस ग्रुप को छोड़ दिया था, इस बातचीत में उनसे उनके सेक्शुअल जीवन पर बात की गई थी.

हालांकि वे ऐसी पहली चीयरलीडर नहीं हैं जिन्होंने इस तरह के वातावरण की शिकायत की है.

फुटबॉल टीम न्यू ऑरलेंस सेंट्स की पूर्व चीयरलीडर का भी कहना है कि उन्होंने अंडरवियर पहने अपनी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी, जिसके कारण उन्हें काम से निकाल दिया गया था.

सबके लिए बेहतर जगह बनाने की कोशिश

वेर ने बीबीसी को अपनी शिकायत के बारे में बताया कि शिकायत को उन्होंने बुधवार को फ्लोरिडा के ह्यूमन रिलेशन कमीशन को दी है और इसे अमरीकी फुटबॉल टीम पर हमले के तौर नहीं देखा जाए.

उन्होंने शुक्रवार को टेलीफ़ोन पर दिये इंटरव्यू में बताया, ''मैं उनके ख़िलाफ़ नहीं हूं. मैं चीयरलीडर्स के लिए इसे बेहतर जगह बनाना चाहती हूं.''

वेर ने तीन साल बाद टीम को छोड़ दिया है. उनका दावा है कि लंदन में कोच बस में एक घटना हुई और वो उत्पीड़न का कारण बन गई.

वेर अपनी शिकायत में कहती है, जब 2015 में वेम्बली स्टेडियम में न्यू यॉर्क जेट्स टीम खेली तो साथ में डांस करने वाले आपस में 'सेक्स प्लेलिस्ट' के बारे में बात कर रहे थे.

वेयर बताती हैं, "मुझ पर पर जोर दिया गया कि मैं अपनी प्लेलिस्ट दूं." तब उन्होंने इन लोगों को अपने वर्जिन होने के बारे में बताया.

वर्जिनिटी

शिकायत में उनके वकील सारा ब्लैकवॉल की दलील है, 'क्रिस्टन ने अपनी टीम के साथियों को कहा था कि वे शादी होने तक का इंतजार कर रही है क्योंकि भगवान के साथ उनके कुछ ख़ास संबंध हैं.'

बाद में सालाना परफोर्मेंस रिव्यू के दौरान जब चीयरलीडर्स को अपने काम के पुन: आवेदन करना होता है तब टीम डायरेक्टर डोरी ग्रोगन से उनका आमना सामना हुआ.

वे दावा करती हैं कि डायरेक्टर ने उनसे कहा, ''चलो तुम्हारे वर्जिनिटी के बारे में बात करते हैं.''

उनके वकील के अनुसार, वेयर ने अपनी वर्जिनिटी के बारे में आगे से कोई भी बात करने के लिए मना कर दिया था.

टीम के एक स्रोत ने बीबीसी को बताया कि 2016 में हमें चीयरलीडर के साथ होने वाली एक घटना के बारे में पता चला था, जब हमारे चीयरलीडरों का प्रदर्शन उम्मीद से कम था.

"हमने तुरंत इस मुद्दे को उठाया और सुपरवाइज़र को हटा दिया, जिन्होंने बाद में पूरी टीम से माफ़ी मांगी."

धर्म

अमरीकी मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गोगन अभी भी अपने उसी भूमिका में काम कर रही है.

उनके दावों में ये भी कहा गया है कि वेर का तर्क है कि टीम के इंस्टाग्राम अकाउंट पर की उनकी वो पोस्ट नहीं डाली जाती है, जिसमें उनके ईसाई धर्म से जु़ड़े होने का जिक्र होता है.

वे ये भी कहती है कि जब वे टीम के लिए अपने ऑडिशन के बारे में डॉल्फिन ब्लॉग के लिए ''मोटिवेशन मंडे'' लिखती है, तो उसमें गॉड और क्राइस्ट के उल्लेख को संपादित कर दिया जाता है.

मियामी डॉल्फिन ने बीबीसी न्यूज़ को दिए स्टेटमेंट में कहा, "हम संगठन के साथ जुड़े सभी लोगों के लिए एक सकारात्मक कार्य का वातावरण देने के लिए गंभीरता से प्रतिबद्ध हैं."

"हम अपने संगठन के हर सदस्य को एक ही मानकों पर रखते हैं. लिंग, जाति और धार्मिक के कारण कोई भेदभाव नहीं करते."

अमरीकी मीडिया के स्टेटमेंट में नेशनल फुटबॉल लीग (एनएफ़एल) का कहना है कि संगठन और उसकी टीम "जॉब करने वालों में किसी तरह का भेदभाव नहीं करती."

इस बयान में एनएफ़एल ने कहा है, 'चीयरलीडर्स के साथ जो भी एनएफ़एल के लिए काम करता है, जिसमें चीयरलीडर भी शामिल हैं, उसके पास सकारात्मक और सम्मानजनक वातावरण में काम करने का अधिकार है. जो किसी भी प्रकार के उत्पीड़न और भेदभाव से मुक्त है और ये राज्य और केंद्रीय कानून के तहत आता है.

'छात्रा को पुलिस ने फ्री सेक्स कराने की धमकी दी'

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
This cheerleader is being harassed in the name of virginity and religion
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X