• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

WHO प्रमख ने कहा-कोई गलती न करें, कोरोना वायरस लंबे वक्त तक रहेगा हमारे साथ

|

जिनेवा। पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना वायरस महामारी से जूझ रही है, पूरे विश्व में अब तक कोरोना से 25 लाख 60 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और 1 लाख 77 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है, भारत में भी कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है, स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, भारत में कोरोना वायरस पॉजिटिव मामलों की संख्या 20,471 हो गई है और 652 लोगों की मौत हुई है। देश में इस समय 15,859 एक्टिव केस हैं। 3,959 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं।

'कोरोनावायरस लंबे वक्त तक रहेगा हमारे साथ'

'कोरोनावायरस लंबे वक्त तक रहेगा हमारे साथ'

तो वहीं इस बीच महामारी को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि यह इतनी जल्दी दुनिया का पीछा छोड़ने वाला नहीं है, दुनिया को कोरोना से छुटकारा पाने में लंबा वक्त लगेगा, बुधवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि दुनिया कोरोनावायरस से निपटने के अपने शुरुआती दौर में है, विश्व स्वास्थ्य संगठन महानिदेशक टेड्रोस अदनोम ने कहा कि जिन देशों को लग रहा है कि उन्होंने कोरोनावायरस पर काबू पा लिया है वहां मामले दोबारा बढ़ रहे हैं, अफ्रीका, अमेरिका में कोरोनावायरस मामलों के बढ़ने में मामले लगातार तेजी देखी जा रही है जो खतरे की घंटी है।

यह पढ़ें: Lockdown: इस मशहूर अभिनेत्री ने कैंसर मरीजों की मदद के लिए मुंडवा लिया अपना सिर, देखें Video

    Coronavirus: Donald Trump ने रोकी WHO को Funding, अब China देगा अतिरिक्त फंड | वनइंडिया हिंदी
    30 जनवरी को हुई थी वैश्विक आपातकाल की घोषणा

    30 जनवरी को हुई थी वैश्विक आपातकाल की घोषणा

    उन्होंने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 30 जनवरी को वैश्विक आपातकाल की घोषणा की थी, जिससे कि सभी देश कोरोनावायरस महामारी के खिलाफ योजना बना सकें और तैयारी करें, इससे पहले भी टेड्रोस अदनोम ने कहा था कि इससे भी बुरा वक्त अभी आने वाला है।

    'हालात आगे चल कर बद से बदतर होंगे'

    'हालात आगे चल कर बद से बदतर होंगे'

    ऐसे हालात पैदा होने के संदर्भ में उन्होंने कहा कि कुछ देश ऐसे हैं जिन्होंने अब पाबंदियां लगानी शुरू की हैं, डब्ल्यूएचओ के निदेशक टेड्रोस एडेहनम ग्रेब्रेयेसुस ने हालांकि यह नहीं बताया कि उन्हें ऐसा क्यों लगता है कि हालात आगे चल कर बद से बदतर होंगे।

    'कोरोना वायरस चीन में जानवरों से उत्पन्न हुआ'

    'कोरोना वायरस चीन में जानवरों से उत्पन्न हुआ'

    विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से मंगलवार को एक बयान जारी करके कहा गया था कि जो तथ्य हमारे पास मौजूद हैं उसके आधार पर कहा जा सकता है कि कोरोना वायरस चीन में जानवरों से उत्पन्न हुआ है, नाकि इसे किसी लैब में तैयार किया गया है। इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि उनकी सरकार यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि यह वायरस चीन के वुहान की लैब में तैयार हुआ है, जहां से यह पूरी दुनिया में फैल गया और वैश्विक महामारी बन गया।

    यह पढ़ें: मिथुन चक्रवर्ती के पिता का मुंबई में निधन, Lockdown के कारण बेंगलुरु में फंसे अभिनेता

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Make no mistake: we have a long way to go. This virus will be with us for a long time said WHO chief Tedros Adhanom Ghebreyesus.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X