• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

श्रीलंका दौरे से पहले इमरान खान को झटका, संसद में पाकिस्तानी पीएम का संबोधन रद्द, सैन्य समझौते से भी इनकार

|

कोलंबो: श्रीलंका ने पाकिस्तान को बड़ा झटका देते हुए इमरान खान सरकार के साथ किसी भी तरह के रक्षा समझौते से साफ इनकार कर दिया है। श्रीलंका सरकार ने बयान जारी करते हुए कहा है कि श्रीलंका, पाकिस्तान के साथ ना ही रक्षा समझौता करेगा और ना ही पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह के मिलिट्री एक्सरसाइज में ही शामिल होगा।

IMRAN KHAN

पाकिस्तान से रक्षा समझौता नहीं

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान 22 फरवरी से 2 दिनों के दौरे पर श्रीलंका जाने वाले हैं और इस यात्रा के दौरान पाकिस्तान ने श्रीलंका के साथ रक्षा समझौता करने की मांग की थी जिससे श्रीलंका सरकार ने साफ मना कर दिया है। श्रीलंकन विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि श्रीलंका सरकार पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह का रक्षा समझौता नहीं करेगी। श्रीलंकन विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि 'पाकिस्तान के साथ श्रीलंका आर्थिक, सांस्कृतिक और दूसरे मुद्दों पर करार करने के लिए तैयार है मगर पाकिस्तान के साथ श्रीलंका किसी भी तरह के रक्षा समझौतों को अंजाम नहीं देगा'

श्रीलंकन विदेश मंत्रालय की तरफ से पाकिस्तानी अखबारों के उस दावे के बाद सफाई पेश की गई है, जिसमें पाकिस्तानी अखबारों ने कहा था कि इमरान खान के श्रीलंका दौरे के दौरान रक्षा समझौते किए जाएंगे। श्रीलंका सरकार ने पाकिस्तान को दो टूक जबाव देते हुए कहा है कि 'हिंद महासागर में श्रीलंका लगातार भारत के साथ SLINEX सीरिज के तहत मिलिट्री युद्धाभ्यास करता है और भविष्य में भी श्रीलंका पाकिस्तान के साथ दो-पक्षीय या बहुपक्षीय, किसी भी तरह का कोई मिलिट्री युद्धाभ्यास नहीं करेगा'

श्रीलंकन संसद में इमरान खान का संबोधन रद्द

श्रीलंका ने पाकिस्तान के साथ मिलिट्री करार करने से तो इनकार किया ही है साथ ही श्रीलंका ने श्रीलंकन पार्लियामेंट में इमरान खान के संबोधन को भी रद्द कर दिया है। श्रीलंका सरकार के इस फैसले की पुष्टि पाकिस्तानी अखबार 'द डॉन' ने भी की है। 'द डॉन' ने लिखा है कि 22 फरवरी से 24 फरवरी के बीच श्रीलंकन संसद में इमरान खान के संबोधन को भी रद्द कर दिया गया है। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान श्रीलंका दौरे के दौरान श्रीलंका के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति से मुलाकात के साथ वहां बिजनेस कॉन्फ्रेंस में शिरकत करेंगे मगर उनका संसद में संबोधन कैंसिल कर दिया गया है।

दरअसल, पाकिस्तान की तरफ से श्रीलंका से कई बार आग्रह किया गया था कि इमरान खान का संबोधन श्रीलंकन संसद में हो। पाकिस्तान ने श्रीलंका से आग्रह करते हुए कहा था कि इमारन खान श्रीलंकन संसद को संबोधित करना चाहते हैं। कई बार आग्रह के बाद श्रीलंका इमरान खान के संसद में संबोधन के लिए तैयार भी हो गया था मगर फिर से उसे रद्द कर दिया गया है। पाकिस्तानी अखबार ने लिखा है कि श्रीलंकन संसद में इमरान खान कश्मीर का मुद्दा उठाने वाले थे, लिहाजा श्रीलंका ने उनका संबोधन रद्द कर दिया है।

हिंद महासागर में सिर्फ भारत दोस्त

श्रीलंका का कहना है कि भारत और श्रीलंका हिंद महासागर में अटूट दोस्त हैं। लिहाजा हिंद महासागर क्षेत्र में श्रीलंका पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह का सैन्य अभ्यास नहीं करेगा। श्रीलंकन विशेषज्ञों का मानना है कि हिंद महासागर में भारतीय वर्चस्व को चुनौती नहीं दी जा सकती है साथ ही भारत हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन को शांत रखने के लिए QUAD का भी सदस्य है, जिसमें जापान, अमेरिका, दक्षिण कोरिया भी हैं। दरअसल, पाकिस्तान लगातार श्रीलंका के साथ हिंद महासागर क्षेत्र में घुसपैठ के लिए श्रीलंका के साथ सैन्य समझौता चाहता है, जिससे श्रीलंका ने साफ इनकार कर दिया है।

UN में पाकिस्तान ने कर दी झूठ की बरसात, आतंकवाद और धार्मिक स्वतंत्रता पर हैरान करने वाले बयान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Sri Lanka has refused to enter into a defense agreement with Pakistan
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X