• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारतीय सेना ने PLA जवान को किया चीन के हवाले, LAC पार करने पर किया था गिरफ्तार

|

PLA Soldier Handed Back: लद्दाख। भारतीय सेना ने लद्दाख में 8 जनवरी को गिरफ्तार किए गए चीनी पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के जवान को चीन को सौंप दिया है। पीएलए के जवान को एलएसी के इस पार भारतीय सीमा में मिलने पर भारतीय सेना ने गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद अधिकारी नियमों के मुताबिक चीनी जवान से पूछताछ कर रहे थे। चीन ने एक दिन पहले कहा था कि उसका जवान रास्ता भटककर भारत सीमा में पहुंच गया था और भारत से इसे लौटाने की अपील की थी।

    Ladakh में LAC पर पकड़े गए Chinese Soldier को Indian Army ने लौटाया | वनइंडिया हिंदी

    Ladakh

    प्रतीकात्मक तस्वीर

    भारतीय सेना ने शुक्रवार को 8 जनवरी को एक चीनी पीएलए सैनिक को पूर्वी लद्दाख के चुशुल सेक्टर में गुरुंग हिल के पास घूमते देखा था। जिसके बाद इस चीनी सैनिक को गिरफ्तार कर सेना के उच्च अधिकारियों को सूचना दी गई थी। इस बारे में भारतीय सेना ने शनिवार को बताया था कि 8 जनवरी 2021 की सुबह एक चीनी सैनिक एलएसी पार कर चला गया आया था जिसे भारतीय सैनिकों ने हिरासत में ले लिया था। चीनी सैनिक के साथ नियमों के तहत कार्यवाही की जा रही है।

    चीनी सेना ने की थी मांग

    रविवार को चीन ने भारत से पीएलए जवान को लौटाने की मांग की थी। चीनी सेना के मुखपत्र पीएलए डेली द्वारा संचालित एक न्यूज पोर्ट चाइना मिलिट्री ऑनलाइन पर शनिवार को एक रिपोर्ट प्रकाशित की गई जिसमें लिखा गया था अंधेरे और जटिल भौगोलिक स्थितियों के चलते चीनी पीपल्स लिबलेशन आर्मी (PLA) फ्रंटियर डिफेंस फोर्स का एक जवान चीन-भारत सीमा पर शुक्रवार सुबह रास्ता भटक गया था। न्यूज पोर्टल ने कहा था कि भारत ने सैनिक को पकड़ने जाने की जानकारी दी है और कहा है कि उच्चाधिकारियों से निर्देश मिलने पर उसे वापस कर दिया जाएगा।

    सोमवार को भारतीय सेना ने जानकारी दी है कि गिरफ्तार किए गए चीनी सैनिक को चुशुल-मोल्डो क्षेत्र में सुबह 10:10 बजे चीन को वापस सौंप दिया गया।

    पिछले साल चीन के साथ संघर्ष और चीन द्वारा बड़ी संख्या में एलएसी पर सैनिकों को भेजने के बाद भारत ने भी एलएसी पर भारी मात्रा में सेना की तैनाती की है। दोनों देश के सैनिक एलएसी पर इस कड़ाके की सर्द में जमे हुए हैं। ऐसे में कई बार ये सैनिक रास्ता भटककर दूसरे की सीमा में पहुंच जाते हैं। जिसके बाद इन सैनिकों से पूछताछ की जाती है। पूछताछ में संतुष्ट होने के बाद अधिकारी इन्हें वापस दूसरे देश की सेना को सौंप देते हैं।

    चीन ने भारत से PLA सैनिक को तुरंत वापस करने को कहा, 'अंधेरे में रास्ता भटक गया था'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    pla soldier handed back to china in ladakh at chushul moldi
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X