• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नासा ने चंद्रमा की सतह पर पहली बार खोजा पानी, आर्टेमिस प्रोग्राम के लिए वरदान

|

वॉशिंगटन। अमेरिका, भारत, चीन समेत दुनिया के कई देश चंद्रमा पर जीवन के संकेतों की खोज कर रहे हैं। अब नासा ने चंद्रमा पर जीवन से जुड़े एक बड़े रहस्य का खुलासा किया है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने चंद्रमा की सतह पर पानी की खोज की है। सोमवार को नासा की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि, चंद्रमा की सतह पर यह पानी सूरज की किरणें पड़ने वाले इलाके में खोजी गई है। बड़ी खोज से चंद्रमा पर मानव मिशन के नए रास्ते खुलने की संभावना है।

    NASA ने Moon पर ढूंढा Water, Video में देखिए कैसे चांद की सतह पर गिर रहीं बूंदें | वनइंडिया हिंदी
    चंद्रमा के क्लेवियस क्रेटर में मिला पानी

    चंद्रमा के क्लेवियस क्रेटर में मिला पानी

    नासा के स्ट्रेटोस्फियर ऑब्जरवेटरी फॉर इंफ्रारेड एस्ट्रोनॉमी (सोफिया) ने चंद्रमा के सनलिट(सूरज की किरणें पड़ने वाले इलाके) सरफेस पर पानी होने की पुष्टि की है। नासा के मुताबिक, सोफिया ने क्लेवियस क्रेटर में पानी के मॉलिक्यूल H2O का पता लगाया है। क्लेवियस क्रेटर चंद्रमा के दक्षिणी गोलार्ध में स्थित पृथ्वी से दिखाई देने वाले सबसे बड़े क्रेटरों में से एक है। पहले के हुए अध्ययनों में चंद्रमा की सतह पर हाइड्रोजन के कुछ रूप का पता चला था, लेकिन पानी को पहली बार खोजा गया है।

    अंतरिक्ष यात्रियों के लिए यह अच्छी खबर है

    अंतरिक्ष यात्रियों के लिए यह अच्छी खबर है

    भविष्य के चंद्र ठिकानों पर अंतरिक्ष यात्रियों के लिए यह अच्छी खबर है। इसका उपयोग पीने और रॉकेट ईंधन उत्पादन के लिए भी किया जा सकेगा। वॉशिंगटन में नासा मुख्यालय में विज्ञान मिशन निदेशालय में एस्ट्रोफिजिक्स डिवीजन के निदेशक पॉल हर्ट्ज ने कहा कि हमारे पास पहले से संकेत थे कि H2O जिसे हम पानी के रूप में जानते हैं, वह चंद्रमा के सतह पर सूर्य की ओर मौजूद हो सकता है। अब नई रिसर्च में पानी की उपस्थिति का पता चल चुका है।

    आर्टेमिस कार्यक्रम के लिए अहम साबित होगी ये खोज

    आर्टेमिस कार्यक्रम के लिए अहम साबित होगी ये खोज

    उन्होंने कहा कि, यह खोज चंद्र सतह की हमारी समझ को चुनौती देती है और गहन अंतरिक्ष अन्वेषण के लिए प्रासंगिक संसाधनों के बारे में पेचीदा सवाल उठाती है। नासा ने कहा गहरे स्पेस में पानी एक अनमोल संसाधन है और जीवन का एक महत्वपूर्ण घटक है जैसा कि हम जानते हैं। क्या चन्द्रमा पर पानी आसानी से उपयोग के लिए सुलभ है ? यह अभी अध्ययन का विषय है। हम अभी तक यह नहीं जानते हैं कि क्या हम इसे एक संसाधन के रूप में उपयोग कर सकते हैं, लेकिन चंद्रमा पर पानी की खोज हमारे आर्टेमिस प्रोग्राम के लिए महत्वपूर्ण है।आर्टेमिस कार्यक्रम 2024 में पहली महिला और अगले आदमी को चंद्र सतह पर भेजने की योजना है।

    भारत-अमेरिका बीच होगा अहम रक्षा समझौता, मिलिट्री सेटेलाइटों का डेटा मिलेगा सेना को

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Water discovered on the moon for the first time, NASA says
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X