• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

क्रॉसिंग पर बैठी बेटी की ट्रेन की टक्‍कर से मौत, मां ने रेलवे पर ठोंका 20 लाख का केस

|

लंदन। यूनाइटेड किंगडम में एक अजीबो-गरीब केस सामने आया है। यहां पर एक मां ने अपनी बेटी की मौत हो जाने की वजह से नेटवर्क रेल पर केस ठोंक दिया है। इस मां का दावा है कि 'साइलेंट नाइट ट्रेन' की वजह से उनकी बेटी की मौत हो गई है। घटना दिसंबर 2014 की है और जिस लड़की की मृत्‍यु हुई थी उसकी उम्र 16 वर्ष थी।

यह भी पढ़ें-संसदीय चुनावों से जुड़ी हर खबर पढ़ें यहां

दोस्‍त के साथ ट्रैक पर कर रही थी बात

दोस्‍त के साथ ट्रैक पर कर रही थी बात

घटना वेस्‍ट यॉर्कशायर की है जहां पर स्‍टूडेंट मिलेना गैगिक अपनी दोस्‍त एमिलिया हस्‍टविक के साथ देर रात हिप्‍परहोम, हालिफाक्‍स में क्रॉसिंग पर बातचीत करने के लिए निकली थीं। मिलना को लगा था कि दोस्‍त के साथ हैंग आउट करने के लिए यह जगह काफी अच्‍छी है। सेंट्रल लंदन के काउंटी कोर्ट के हवाले से ब्रिटिश मीडिया ने यह जानकारी दी है। मिलना और उनकी दोस्‍ती एमिलिया दोनों ट्रेन ट्रैक्‍स पर बैंठी थीं। दोनों इस बात को लेकर निश्चिंत थीं कि अब वहां रात में कोई ट्रेन नहीं आएगी। दोनों दोस्‍त बातचीत कर रही थीं और जोक्‍स पर हंस रही थीं।

रात 11 बजे से सुबह सात बजे तक ट्रेन के हॉर्न पर बैन

रात 11 बजे से सुबह सात बजे तक ट्रेन के हॉर्न पर बैन

दोनों लड़कियों उसी इलाके में कई वर्षों से रह रहीं थीं और उनका मानना था कि अगर कोई ट्रेन आएगी तो वह हॉर्न जरूर बजाएगी। लेकिन बैरिस्‍टर स्‍टीफन ग्‍लेन के मुताबिक साल 2007 से रात के समय को शांति का समय मानकर ट्रेनों के हॉर्न को रात 11 बजे से लेकर सुबह सात बजे तक के लिए बैन कर दिया गया था। मिलना की मां लियान गैगिक ने अब नेटवर्क रेल इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर लिमिटेड पर 22,124 पौंड का केस ठोंका है। उनके वकील का कहना है कि लियान का केस किसी रकम की लालच में नहीं हैं।

कंपनी ने अपनी ड्यूटी पूरी नहीं की

कंपनी ने अपनी ड्यूटी पूरी नहीं की

लियान का कहना है कि नेटवर्क रेल लोगों को नाइट ट्रेन्‍स के आने से पहले लोगों को आगाह करने की अपनी ड्यूटी पूरी करने में असफल रही है। उसे लोगों को इस बात के लिए आगाह करना था कि वह हिप्‍परहोम में हॉर्न नहीं बजाएंगी जहां पर लोगों को दिन में 100 ट्रेनों के हॉर्न सुनने पड़ते हैं। नेटवर्क रेल ने इस बात से साफ इनकार कर दिया है कि वह किसी भी तरह से अपनी ड्यूटी को पूरी करने में असफल रही है।

अपनी गलती से हादसे का शिकार

अपनी गलती से हादसे का शिकार

कंपनी का कहना है मिलेना अपनी गलती की वजह से हादसे का शिकार हुई थी। कंपनी का कहना है कि उसकी ओर से कराई कई स्‍टडी में इस बात के सुबूत हैं लड़कियों ने लापरवाही दिखाई थी। मिलेना अपनी ए-लेवल की स्‍टडी कर रही थीं। उसका सपना जूलॉजिस्‍ट बनना था। नेटवर्क रेल ब्रिटेन का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है और सालइ 2002 से यूके में लोगों को रेलवे की सुविधाएं देता आ रहा है।

यह भी पढ़ें-नॉर्थ ईस्‍ट राज्‍य अरुणाचल प्रदेश में लोकसभा चुनावों का समीकरण

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Mum of a student, 16, killed by train sues network rail for £22,000 in UK.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X