यूके में पिता ने गोरी गर्लफ्रैंड को किया खारिज तो बेटे ने रच डाली हत्या की साजिश, अब सलाखों के पीछे

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लंदन। यूके में भारतीय मूल के युवक को कोर्ट ने आठ साल की सजा सुनाई है, युवक पर आरोप था कि उसने अपने पिता की हत्या के लिए ऑनलाइन विस्फोटक खरीदने की कोशिश कर रहा था, वह अपने पिता की कार में विस्फोटक लगाकर उन्हें जान से मारना चाहता था। वह इसलिए ऐसा करने की साजिश रच रहा था क्योंकि उसके पिता ने लड़के की विदेशी गर्लफ्रैंड को स्वीकार करने से इनकार कर दिया था। आरोपी का नाम गुरतेज सिंह रंधावा है, जिसे पिछले वर्ष मई में गिरफ्तार किया गया था, उसे यूके नेशनल क्राइम एजेंसी के अंडरकवर ऑफिसर ने गिरफ्तार किया था। एनसीए के अनुसार गुरतेज सिंह ने अपने कार बम को दूसरी डिवाइस के साथ बदला था। दरअसल रंधावा ने इस कार बम को पहले ही मंगा लिया था, लेकिन जब दूसरा पार्सल उसके पास आने वाला था तो पुलिस को इसकी जानकारी लग गई।

crime

यह गंभीर अपराध है
रंधावा जिसकी उम्र 19 वर्ष है उसने नवंबर 2017 को पुलिस की हिरासत में बर्मिंघम क्राउन कोर्ट में धमाके की कोशिश की थी, कोर्ट ने रंधावा को इस मामले में दोषी पाया था। अपना फैसला सुनाते वक्त कोर्ट के जज जस्टिस चीमा-ग्रुब ने कहा था कि हमे इसपर किसी तरह का शक नहीं है कि तुमने यह अपनी गर्लफ्रैंड के साथ यूनिवर्सिटी में पढ़ने के लिए यह किया है, अपने इच्छा के लिए तुमनेअपने पिता की कार में विस्फोटक लगाने की साजिश की, जिससे उनकी जान को खतरा हो सकता था, यह चौंकाने वाला गंभीर अपराध है।

क्रिप्टो करेंसी से खरीदा था विस्फोटक
जज ने कहा कि तुम काफी शातिर और समझदार हो और तुम जानबूझकर इस तरह का षड़यंत्र करने के काबिल हो, तुमने अपने परिवार के बारे में अपनी गर्लफ्रैंड व उसके परिवार से कई झूठ कहे, खासकर कि अपने पिता के बारे में। रंधावा ने बम खरीदने के लिए क्रिप्टो करेंसी का इस्तेमाल किया था और इसे अपने घर से दूर डिलिवरी के लिए बुलाया था। दरअसल जब रंधावा की मां को इस बात का पता चला कि वह किसी लड़के के साथ रिलेशनशिप में है तो रंधावा ने विस्फोटक ऑर्डर किया था।

एनसीए ने कहा सख्त सजा दिलाएंगे
एनसीए के अधिकारी टिम जॉर्ज का कहना है कि रंधावा ने ऑनलाइन जिस विस्फोटक को मंगाया था उससे बड़ा धमाका किया जा सकता था, जिससे कई लोगों की जान जा सकती थी अगर वह इसका इस्तेमाल करने में सफल हो जाता। हालांकि वह संगठित अपराध या किसी संगठन में शामिल नहीं है, लेकिन उसकी इस हरकत से लोगों की जान को खतरा है। रंधावा जैसे लोग जोकि अवैध रूप से हथियार रखते हैं या विस्फोटक मंगाते हैं उन्हे पकड़ना हमारी शीर्ष वरीयता है, हम पूरी कोशिश करेंगे कि ऐसे लोगों को सख्त से सख्त सजा मिले।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Teenager jailed in UK conspired to kill his father who refused to accept his white girlfriend. He was arrested last year.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.