• search

ट्रंप से मुलाकात में यह है किम जोंग उन का एजेंडा

By Bbc Hindi
Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
    डोनल्ड ट्रंप और किम जोंग उन
    Getty Images
    डोनल्ड ट्रंप और किम जोंग उन

    उत्तर कोरिया और अमरीका के शीर्ष नेताओं के बीच होने वाली ऐतिहासिक मुलाकात की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं.

    दोनों देश के नेता यानी अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन मुलाकात के लिए तय जगह सिंगापुर पहुंच चुके हैं.

    अगर सबकुछ तय कार्यक्रम के अनुसार ही चला तो मंगलवार के दिन यह ऐतिहासिक मुलाकात मुकम्मल हो जाएगी.

    अमरीका ने इस मुलाकात से पहले शर्त रखी थी कि उत्तर कोरिया को अपना परमाणु कार्यक्रम बंद कर होगा. लेकिन इसके बदले में उत्तर कोरिया क्या चाहता है यह अभी तक साफ़ नहीं हो पाया था.

    लेकिन अब उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने डोनल्ड ट्रंप के साथ अपनी मुलाकात का एजेंडा कुछ हद तक साफ़ किया है.

    उन्होंने कहा है कि वे ट्रंप के साथ 'पूर्णतः शांति स्थापित करने वाले तरीके' पर बात करेंगे.

    किम ने कहा कि पूरी दुनिया इस मुलाकात की तरफ़ देख रही है. वहीं ट्रंप ने भी कहा है कि उन्हें इस मुलाकात के सकारात्मक रहने का एहसास है.

    उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन के साथ अमरीकी बास्केटबॉल खिलाड़ी डेनिस रॉडमैन
    Getty Images
    उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन के साथ अमरीकी बास्केटबॉल खिलाड़ी डेनिस रॉडमैन

    बदलते युग की शुरुआत

    उत्तर कोरिया के सरकारी समाचार पत्र में प्रकाशित एक संपादकीय में इस बात के संकेत दिए गए हैं कि अमरीका के साथ सामान्य संबंध स्थापित करने की संभावनाओं पर चर्चा होगी.

    सरकारी समाचार पत्र 'रोडोंग सिनमुन' ने अपने संपादकीय में लिखा है कि प्योंगयांग अमरीका के साथ अपने रिश्ते सुधारने की दिशा में काम करेगा.

    संपादकीय में लिखा है, ''भले ही किसी देश के साथ हमारे रिश्ते पहले बेहद ख़राब रहे हों, लेकिन हमारा मानना है कि अगर वह देश हमारी स्वतंत्रता का सम्मान करता है तो हम भी उनके साथ बातचीत के जरिए सामान्य रिश्ते कायम करने पर विश्वास रखते हैं.''

    वहीं उत्तर कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए की तरफ से जारी एक बयान में बताया गया है कि दोनों ही नेता कोरियाई प्रायद्वीप में निश्चित और लंबे वक्त तक स्थापित होने वाली शांति प्रक्रिया पर बात करेंगे, इसके साथ ही कोरियाई प्रायद्वीप के परमाणु निरस्त्रीकरण और अन्य साझा मुद्दों पर भी बात होगी.

    इस बयान में लिखा गया है कि यह एक बदलते हुए युग की शुरुआत है.

    किम जोंग उन के पहुंचने पर सिंगापुर के विदेश मंत्री विवियन बालकृष्णन ने ये फोटो ट्वीट की.
    Reuters
    किम जोंग उन के पहुंचने पर सिंगापुर के विदेश मंत्री विवियन बालकृष्णन ने ये फोटो ट्वीट की.

    ट्रंप की तैयारी?

    बीबीसी के उत्तरी अमरीका के संपादक जॉन सोपेल का कहना है कि आज हम जिस मुलाकात का इंतज़ार कर रहे हैं कि वह पारंपरिक राजनीति के रास्ते तो कभी मुमकिन नहीं हो पाती.

    जॉन सोपेल कहते हैं, ''हम यहां तक इसीलिए पहुंचे क्योंकि राष्ट्रपति ट्रंप ने पारंपरिक कूटनीतिक तरीकों को तोड़कर नए रास्ते अपनाए.''

    जॉन के अनुसार अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा है कि उन्होंने इस मुलाकात के लिए कोई तैयारी नहीं की है.

    कोरियाई प्रायद्वीप का परमाणु निरस्त्रीकरण किस तरह होगा, इसके लिए किस प्रक्रिया का पालन किया जाएगा. यह अभी तय नहीं हुआ है.

    वहीं इसके बदले में अमरीका उत्तर कोरिया से कितने आर्थिक प्रतिबंध हटाएगा और उसकी सुरक्षा की क्या गारंटी रहेगी यह सभी विषय बेहद जटिल हैं.

    जॉन मानते हैं कि चाहे जो भी हो फिलहाल यह मुलाकात एक सकारात्मक कदम है.

    ट्रंप
    Getty Images
    ट्रंप

    रविवार को सिंगापुर पहुंचने के बाद दोनों ही नेता अलग-अलग होटल में ठहरे हुए हैं. एक तरफ जहां किम सिंगापुर के फाइव स्टार होटल सेंट रेजिस में ठहरे हैं तो वहीं ट्रंप उससे थोड़ी ही दूरी पर स्थित शंगरी ला होटल में हैं.

    दोनों नेताओं की मुलाकात सेनटोसा द्वीप के आलिशान कपेले होटल में होनी तय हुई है.

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    BBC Hindi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    In the meeting with Trump its Kim Jong agendas agenda

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X