• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

प्रोटोटाइप इलेक्ट्रिक प्लेन का सक्सेसफुल टेस्ट, कीमत इतनी कम, कि हर करोड़पति कार नहीं, प्लेन खरीदेगा!

Google Oneindia News

वाशिंगटन, 28 सितंबरः जैसे जमीन पर अब इलेकट्रिक गाड़ियों का दौर आ चुका है ठीक उसी तरह अब आसमान में आने वाले वक्त में बस इलेक्ट्रिक हवाई जहाज ही उड़ते दिखेंगे। जी हां। कल मंगलवार को अमेरिका के वाशिंगटन से एक प्रोटोटाइप, ऑल इलेक्ट्रिक हवाई जहाज ने अपनी पहली उड़ान भरी है। सिएटल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, अगर फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन, यात्रियों को ले जाने के लिए ऑल इलेक्ट्रिक हवाई जहाज को मंजूरी देता है तो यह पहला पूरी तरह से इलेक्ट्रिक हवाई जहाज बन सकता है।
image- Tecnam Aircraft twitter

8 मिनट तक हवा में रहा विमान

8 मिनट तक हवा में रहा विमान

चूंकि ये पूरी तरह से इलेक्ट्रिक जहाज है इसलिए इसका नाम ऑल इलेक्ट्रिक प्लेन रखा गया है। इस इलेक्ट्रिक हवाई जहाज को स्टार्टअप एविएशन द्वारा तैयार किया गया है। इस ऑल इलेक्ट्रिक हवाई जहाज को 9 यात्रियों और दो पायलटों को ले जाने के लिए तैयार किया गया है। इस विमान ने मंगलवार को लगभग 8 मिनट तक हवा में उड़ान भरी। कंपनी का लक्ष्य अब ऐसे विमान तैयार करना है जो लगभग 15 हजार फीट (4,572 मीटर) तक की ऊंचाई पर उड़ने वाले कम्पूटर विमान के रूप में कार्य करे।

बाकी जहाजों की तुलना में होगा बेहद सस्ता

बाकी जहाजों की तुलना में होगा बेहद सस्ता

ऑल इलेक्ट्रिक हवाई जहाज को अमेरिका और इजरायल में इंजीनियरों द्वारा डिजाइन किया गया है और यह विमान 21,500 छोटी टेस्ला-स्टाइल बैटरी सेल द्वारा संचालित होती है, जिसका वजन 4 टन है। इलेक्ट्रिक हवाई जहाज आर्थिक रूप से बहुत टिकाऊ है, क्योंकि इसे उड़ाना बाकी हवाई जहाजों की तुलना में बेहद सस्ता है। इस हवाई जहाज को इस तरीके से तैयार किया गया है, कि आम लोग भी आसानी से इसका इस्तेमाल कर सकें। ऑल इलेक्ट्रिक हवाई जहाज काफी सस्ता और कम उत्सर्जन पैदा करने वाला विमान है।

2027 तक विमान तैयार करने का लक्ष्य

2027 तक विमान तैयार करने का लक्ष्य

इस विमान के उड़ान भरने से पहले, एविएशन के सीईओ ग्रेग डेविस ने स्वीकार किया कि मंगलवार को उड़ान भरने वाला प्रोटोटाइप वह डिज़ाइन नहीं है जिसे कंपनी बाद में तैयार करेगी। उन्होंने कहा कि एविएशन को अपने विमानों को व्यावसायिक रूप से व्यवहार्य बनाने के लिए बैटरी प्रौद्योगिकी में अभी और काम करने की जरूरत है। ग्रेग डेविस ने स्वीकार किया कि प्रोटोटाइप विमान की बैटरियां विमान इतनी ऊर्जा पैदा नहीं करती हैं जो विमान को काफी समय तक हवा में उड़ा सके। हालांकि उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा कि 5 से 6 साल के भीतर यह संभव है।

माल ढोने वाले जहाजों के लिए भी होगा तैयार

माल ढोने वाले जहाजों के लिए भी होगा तैयार


विमान के क्षेत्र में भी अब कई क्रांतिकारी आविष्कार किए जा रहे है, जिसका एक उदाहरण ऑल इलेक्ट्रिक हवाई जहाज है। इस समय कंपनियां इतने आधुनिक तकनीक इस्तेमाल कर रही है, जिसके तहत अब हवाई जहाज ईंधन से नहीं, बल्कि इलेक्ट्रिक मोटर से भी चलाए जा सकते है। इनमें से एक है फेडरल एविएशन का इलेक्ट्रिक यात्री विमान जो क्षेत्रीय उड़ान विकास में बाधा डालने वाली संचालन लागत, उत्सर्जन और शोर जैसी समस्याओं को हल करती है। इलेक्ट्रिक यात्री विमान न केवल यात्रियों के लिए, बल्कि माल ढोने वाले विमानों के लिए भी तैयार किया जा रहा है। फेडरल एविएशन, ऑल इलेक्ट्रिक हवाई जहाज 2027 तक व्यावसायिक उपयोग के लिए इस्तेमाल कर सकता है।

9 साल की इस भारतीय लड़की के फैन हुए Apple के CEO टिम कुक, ऐसा ऐप बनाया कि हो गए हैरान9 साल की इस भारतीय लड़की के फैन हुए Apple के CEO टिम कुक, ऐसा ऐप बनाया कि हो गए हैरान

Comments
English summary
First Prototype electric airplane takes first flight in usa
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X