अमेरिका में भारतीय नागरिक को जहरीला इंजेक्शन देकर मौत की नींद सुलाने की तारीख तय

Posted By: Amit J
Subscribe to Oneindia Hindi

वॉशिंगटन। अमेरिका में रह रहे भारतीय कैदी रघुनंदन यंदमुरी को अगले महीने मृत्युदंड दिया जाएगा, जिसकी तारीख भी तय हो गई है। यंदमुरी ने 2012 में 10 साल की एक बच्ची और उसकी दादी की हत्या कर दी थी, जिसके बाद उसे मृत्युदंड की दंड की सजा सुनाई गई थी। यंदमुरी ने अमेरिका के पेन्सिल्वेनिया में 61 साल की भारतीय महिला और उनकी 10 महीने की नातिन को अगवाकर हत्या कर दी थी। पेन्सिल्वेनिया संघीय सरकार ने इसे जघन्य अपराध मानते हुए, रघुनंदन यंदमुरी को मौत की सजा सुनाई थी।

जहरीला इंजेक्शन देकर मौत की नींद सुला दिया जाएगा

जहरीला इंजेक्शन देकर मौत की नींद सुला दिया जाएगा

32 वर्षीय रघुनंदन यंदमुरी को जहरीला इंजेक्शन देकर हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया जाएगा। कोर्ट ने जहरीला इंजेक्शन लगाने की तारीख 23 फरवरी तय की है। यंदमुरी पहले भारतीय अमेरिकी होंगे, जिन्हें वहां की सरकार मौत की सजा देगी। यंदमुरी पर दोष साबित होने के बाद 2014 में संघीय सरकार ने मौत की सजा सुनाई थी।

क्या था रघुनंदन यंदमुरी का गुनाह?

क्या था रघुनंदन यंदमुरी का गुनाह?

रघुनंदन यंदमुरी ने 2012 में दादी और पोती फिरौती के लिए अगवा कर दिया था। स्थानीय पुलिस के मुताबिक, रघुनंदन ने अपहरण की घटना को अंजाम तो दे दिया था, लेकिन मामला सार्वजनिक होने जाने की वजह से वो इसे क्राइम को संभाल नहीं पाया और गुस्से में दोनों की हत्या कर दी।

टल सकती है मौत की सजा?

टल सकती है मौत की सजा?

रघुनंदन यंदमुरी मूल रूप से आंध्र प्रदेश के रहने वाले हैं, जो एच1बी वीजा से अमेरिका गए थे। यंदमुरी ने इलेक्ट्रिकल और कंप्युटर साइंस में डिग्री ली है। बताया जाता है कि 2014 में अपनी मौत की सजा के खिलाफ यंदमुरी ने कोर्ट में अपील भी की थी, लेकिन बाद में उनकी अपील को रद्द कर दिया गया। हालांकि, संभावना यह भी जताई जा रही है कि यंदमुरी मौत की सजा से बच भी सकते हैं, क्योंकि पेनसिल्विनिया के गवर्नर टॉम वुल्फ ने कैपिटल पनिशमेंट पर रोक लगा रखी है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
First Indian-origin death-row prisoner in US to be executed on February 23

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.