• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Elon Musk का इंटरनेट धमाका: अब ट्रकों में भी ब्रॉडबैंड कनेक्शन, भारत में 1GBPS प्लान की प्री-बुकिंग जारी

|

वाशिंगटन/नई दिल्ली: इंटरनेट की दुनिया में क्रांति का बिगुल फूंक देने वाले और मंगल पर दुनिया बसाने का ख्वाब देखने वाले एलन मस्क अब एक और नया चमत्कार करने जा रहे हैं। अब एलन मस्क की कंपनी ट्रकों और जहाजों में भी इंटरनेट ब्रॉडबैंड लगाएगी। एलन मस्क की कंपनी स्टारलिंक ने इसके लिए यूएस गवर्नमेंट से इजाजत मांगी है। भारत के लिए एलन मस्क पहले ही प्लान पेश कर चुके हैं और भारत में हाईस्पीड इंटरनेट ब्रॉडबैंड के लिए प्री बूकिंग भी जारी है।

Elon Musk की इंटरनेट क्रांति

Elon Musk की इंटरनेट क्रांति

दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी एलन मस्क ने ठाना है कि अब ट्रकों में ब्रॉडबैंड कनेक्शन लगेगा। तो ठीक है...एलन मस्क की कंपनी स्टार लिंक ने अमेरिकी सरकार से ट्रकों और जहाजों में स्टारलिंक सैटेलाइट इंटरनेट नेटवर्क लगाने की इजाजत मांगी है। आवेदन के मुताबिक बड़ी बड़ी गाड़ियों में स्टारलिंक सैटेलाइट इंटरनेट नेटवर्क लगाने की इजाजत मांगी गई है। एलन मस्क की कंपनी स्टारलिंक सैटेलाइट इंटरनेट नेटवर्क ने यूएस फेडरल कम्यूनिकेशन कमीशन यानि एफसीसी में आवेदन देकर कहा है कि कंपनी का मकसद ग्रामीण इलाकों में भी तेज गति इंटरनेट स्पीड प्रदान करना है। इस आवेदन के मुताबिक स्टारलिंक कंपनी ने पूरी दुनिया के हर कोने में हाईस्पीड इंटरनेट देने की बात की है।

लाइसेंस के लिए आवेदन

लाइसेंस के लिए आवेदन

रिपोर्ट के मुताबिक स्टारलिंक कंपनी ने आवेदन में कहा है कि ‘हमारा आवेदन जनता की सेवा के उद्येश्य से है। हम न्यू क्लास ग्राउंड बेस्ड कम्पोनेट्स सिस्टम के जरिए अपनी ब्रॉडबैंड क्षमता में इजाफा कर रहे हैं। जिसके तहत मूविंग ऑब्जेक्ट्स में भी इंटरनेट कनेक्शन दिया जा सकता है। हमारे स्पेस एक्स सैटेलाइट से अमेरिका समेत, विमानों में, पानी के जहाजों में और पूरी दुनिया में हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्शन दिया जा सकता है'। स्पेसएक्स कंपनी के डायरेक्टर ऑफ सैटेलाइट पॉलिसी डेविड गोल्डमेन ने एफसीसी को लिखी चिट्ठी में इस बात का जिक्र किया है। हालांकि, बाद में एलन मस्क ने अपने ट्वीट में साफ किया है कि टेस्ला की गाड़ियों में सैटेलाइट इंटरनेट कनेक्शन नहीं लगा होगा।

स्टारएक्स का हाईस्पीड इंटरनेट प्लान

स्टारएक्स का हाईस्पीड इंटरनेट प्लान

एलन मस्क ने पिछले महीने कहा था कि स्टारलिंक सैटेलाइट से काफी तेज इंटरनेट स्पीड मिलेगी। उन्होंने कहा था कि ग्रामीण इलाकों में रहने वाले करोड़ों यूजर्स तक स्टारलिंग सैटेलाइट का ब्रॉडबैंड सर्विस पहुंचाना लक्ष्य है। और इसके तहत फिलहाल 300 एमबीपीसी इंटरनेट स्पीड दी जाएगी। स्टारलिंक कंपनी ने इस वक्त 50MBPS से 150MBPS तक इंटरनेट स्पीड देने की घोषणा की है। हालांकि, भारत में अगले साल से स्टारलिंक कंपनी इंटरनेट सर्विस देने जा रही है और भारत को लेकर 1GBPS इंटरनेट स्पीड देने का लक्ष्य कंपनी ने रखा है। एलन मस्क की स्टारलिंक कंपनी ने ऑर्बिट में 12 हजार सैटेलाइट भेजने का लक्ष्य रखा है जिसके तहत पूरी दुनिया को कवर करना है। फिलहाल स्टारलिंक ने एक 1000 सैटेलाइट ऑर्बिट में स्थापित कर दिए हैं।

भारत में कीमत और जानकारी

भारत में कीमत और जानकारी

स्पेसएक्स की सैटेलाइट बेस्ट इंटरनेट सर्विस काफी तेज इंटरनेट की सुविधा देने वाली है लिहाजा इसकी कीमत भी ज्यादा है। रिपोर्ट के मुताबिक अभी भारत में स्टारलिंक इंटरनेट ब्रॉडबैंड के लिए आपको हर महीने 99 डॉलर यानि करीब 7300 रुपये खर्च करने पड़ेंगे। हालांकि, स्टारलिंक कंपनी भारत के उपभोक्ताओं को अपनी सर्विस अगले साल यानि 2022 से देना शुरू करेगी मगर इसकी इतनी ज्यादा डिमांड है कि प्री बुकिंग अभी से शुरू हो चुकी है।

भारत में स्टारलिंग की टेस्टिंग चल रही है जो बीटा फेज में है। इंटरनेट सर्विस के बारे में जानकारी देते हुए स्पेस एक्स ने कहा है कि 'आज की दुनिया में ज्यादातर आदमी वर्क फ्रॉम होम काम कर रहे हैं इसके साथ ही ज्यादातर छात्रों की पढ़ाई ही ऑनलाइन हो रही है, लिहाजा तेज इंटरनेट सर्विस होना बेहद जरूरी है और स्टारलिंक कंपनी अपने उपभोक्ताओं को तीव्र इंटरनेट स्पीड देंगे। हम उन एरिया में जल्द से जल्द इंटरनेट पहुंचा देंगे जहां तक अभी भी इंटरनेट नहीं पहुंचा है।' स्पेस एक्स कंपनी ने ट्वीट में कहा है कि 'स्टारलिंक के सैटेलाइट दूसरी कंपनियों के सैटेलाइट की तुलना में पृथ्वी से 60 गुना ज्यादा नजदीक हैं, जिसकी वजह से हम बेहत तेज स्पीड इंटरनेट सर्विस प्रोवाइड करने में कामयाब हो रहे हैं। स्टारलिंक इंटरनेट के जरिए वीडियो कॉल से लेकर ऑनलाइन गेमिंग भी बेहद आसान हो जाएगी'

इंटरनेट स्पीड और डिटेल्स

इंटरनेट स्पीड और डिटेल्स

स्टारलिंक कंपनी ने दावा किया है कि कंपनी 1GBPS इंटरनेट डाउनलोडिंग और अपलोडिंग स्पीड देगी। इस वक्त स्टारलिंक की स्पीट 150MBPS है, जो टेस्टिंग के दौरान बढ़कर 300 MBPS हो जाएगी। वहीं, कंपनी का कहना है कि इसकी इंटरनेट का दायरा 20 मीटर से 40 मीटर के बीच का होगा। अगर आप भी स्टारलिंक कंपनी का इंटरनेट ब्रॉडबैंड लेना चाहते हैं तो आपको कंपनी के वेबसाइट पर जाकर ऑर्डर करना होगा। वहीं, कंपनी ने कहा कि अगर वो शर्त के मुताबिक इंटरनेट उपलब्ध कराने में नाकाम होती है, तो उपभोक्ताओं को पैसे वापस कर दिए जाएंगे। अगर आप इंटरनेट लेना चाहते हैं तो आपको www.starlink.com वेबसाइट पर जाना होगा, जहां से आप प्री बुकिंग कर सकते हैं।

गर्व की बात: ISRO ने कर ली भारत की सुरक्षा की धमाकेदार तैयारी, 28 मार्च से सेना के जवानों की टेंशन खत्म!गर्व की बात: ISRO ने कर ली भारत की सुरक्षा की धमाकेदार तैयारी, 28 मार्च से सेना के जवानों की टेंशन खत्म!

English summary
Elon Musk's company will also install Internet broadband in trucks and ships. Elon Musk's company Starlink has sought permission from the US government for this.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X