• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लंदन में बच्चों में फैल रही रहस्यमयी बीमारी से डाक्टरों के उड़े होश, Covid19 से जुड़े हो सकते हैं तार

|
Google Oneindia News

लंदन। ब्रिटेन में बच्चों में तेजी से बढ़ रही एक रहस्यमयी बीमारी से वहां के डाक्टरों के होश फाख्ता हैं, जिसकी चपेट में अब तक कुल 25 से 30 बच्चे आए हैं और ज्यादातर मामले लंदन में हैं। वहां की नेशनल हेल्थ सर्विस के एक वरिष्ठ सलाहकार ने बताया कि ये संख्या भले ही अपेक्षाकृत कम हैं, लेकिन हाल के दिनों में इनमें लगातार तेजी देखी गई है।

mysterious disease

दरअसल, ब्रिटेन में कोरोनोवायरस के लिए पॉजिटिव टेस्ट करने वाले बच्चों की बढ़ती संख्या को लेकर ब्रिटेन भर के डॉक्टरों को एक अलर्ट भेजा गया है। राष्ट्रव्यापी मेडिकल अलर्ट ब्रिटेन में बच्चों में उभर रहे कोरोनोवायरस से संबंधित संक्रमण की बढ़ती चिंता की व्यक्त की गई है।

घटिया चीनी रैपिड टेस्ट किट पर उठे सवाल तो घुटनों पर आया चीन, अब भारत से किया यह आग्रह!घटिया चीनी रैपिड टेस्ट किट पर उठे सवाल तो घुटनों पर आया चीन, अब भारत से किया यह आग्रह!

mysterious disease

इंग्लैंड में पीडियाट्रिक इंटेंसिव केयर सोसाइटी ने एक बयान में कहा कि पिछले तीन हफ्तों में बहु-प्रणाली वाले राज्यों में लन्दन के साथ ब्रिटेन के अन्य क्षेत्रों में गहन देखभाल की आवश्यकता हैं, जहां लगभग सभी उम्र के बच्चों में फैल रही इस रहस्यमय बीमारी में स्पष्ट वृद्धि हुई है।

mysterious disease

वहां की सोसाइटी ने ब्रिटेन में बच्चों में SARS-CoV-2 से संबंधित उत्तेजक सिंड्रोम" पर चिंता व्यक्त की है और चेतावनी दी है कि इन मामलों में जुड़ा कोई एक और अज्ञात संक्रामक रोग रहस्यमयी बीमारी का कारण हो सकता है।

Attention: यहां बिना मास्क पकड़े गए तो भरना पड़ सकता है 4 लाख से अधिक का जुर्माना!Attention: यहां बिना मास्क पकड़े गए तो भरना पड़ सकता है 4 लाख से अधिक का जुर्माना!

mysterious disease

गौरतलब है रहस्यमयी बीमारी की चपेट में आए बच्चों ने कोरोनावायरस के लिए हुए टेस्ट पॉजिटिव आए हैं, लेकिन उन्होंने उनमें मिले लक्षण भिन्न दिखाए हैं। डॉक्टरों का मानना ​​है कि यह ठीक वैसा ही वायरस नहीं हो सकता है जैसा कि वयस्कों को देखा जाता है, भले ही कई बच्चों के टेस्ट परिणाम ने उन्हें कोरोनावायरस पॉजिटिव दिखाया हो।

अमेरिकाः जहां महामारी ले चुकी है अब तक 50,000 से अधिक की जान, वहां खुलने जा रही हैं दुकानें!अमेरिकाः जहां महामारी ले चुकी है अब तक 50,000 से अधिक की जान, वहां खुलने जा रही हैं दुकानें!

mysterious disease

ब्रिटिश एसोसिएशन ऑफ फिजिशियन ऑफ इंडियन ओरिजिन (BAPIO) के अध्यक्ष डॉ रमेश मेहता ने बताया कि बच्चों के रक्त के नमूने गंभीर Covid19 बीमारी वाले लोगों के समान है, लेकिन जैसा कि वयस्कों में देखा जाता है, यह Covid19 हैं या नहीं, हमें यकीन नहीं है।

लॉकडाउन 2.0 में शेष बचे हैं सिर्फ 4 दिन, जानिए क्या भारत अब अपनाएगा हांगकांग मॉडल?लॉकडाउन 2.0 में शेष बचे हैं सिर्फ 4 दिन, जानिए क्या भारत अब अपनाएगा हांगकांग मॉडल?

यह सिर्फ ब्रिटेन में ही नहीं है, कोलकाता और मुंबई में भी देखा गया है

यह सिर्फ ब्रिटेन में ही नहीं है, कोलकाता और मुंबई में भी देखा गया है

उन्होंने बताया कि अब तक केवल 25 से 30 मामलों को देखा गया है, जो ज्यादातर लंदन में हैं। नेशनल हेल्थ सर्विस के एक वरिष्ठ सलाहकार ने कहा कि ये संख्याएँ अपेक्षाकृत कम हैं, लेकिन हाल के दिनों में इनमें तेजी देखी गई है और यह सिर्फ ब्रिटेन में ही नहीं है। डॉ मेहता कहते हैं, बेंगलुरु, कोलकाता और मुंबई में स्थित उनके सहयोगियों का कहना है कि उन्होंने भारत में भी बच्चों की ऐसी समस्याओं को देखा है।

बच्चे में पाए गए Covid19 लक्षण वयस्कों के लक्षण से बिल्कुल अलग होते हैं

बच्चे में पाए गए Covid19 लक्षण वयस्कों के लक्षण से बिल्कुल अलग होते हैं

बकौल डा मेहता, ये बच्चे जो लक्षण दिखाते हैं, वो वयस्कों में पाए जाने वाले लक्षण से अलग होते हैं। पीड़ित बच्चे अचानक गंभीर रूप से बीमार हो जाते हैं, जो पेट में दर्द से शुरू होते हैं और कभी-कभी ऐसा लगता है कि यह एक गंभीर एपेंडिसाइटिस के लक्षण है, लेकिन आगे के परीक्षण में इनमें से अधिकांश बच्चों में हृदय की सूजन की समस्या होती है और बहुत जल्दी सूजन पूरे शरीर में फैल जाता है।

प्रत्येक बच्चों में लक्षण अलग-अलग हैं, लेकिन टेस्ट परिणाम समान हैं

प्रत्येक बच्चों में लक्षण अलग-अलग हैं, लेकिन टेस्ट परिणाम समान हैं

डा मेहता कहते हैं कि प्रत्येक बच्चों में लक्षण अलग-अलग हैं, लेकिन परीक्षण के परिणाम समान हैं, जो कि बेहद चिंताजनक है। डॉक्टरों का मानना ​​है कि वयस्कों से भिन्नता के बावजूद इनमें से कई बच्चों के रक्त के नमूने Covid19 की ओर इंगित करते हैं। उन्होंने कहा, चूंकि यह Covid19 महामारी के बीच में हो रहा है, इसलिए इसका संबंध Covid19 से हो सकता है।

यह बच्चों में एक रहस्यमयी बीमारी है, जो कि बेहद गंभीर किस्म की है

यह बच्चों में एक रहस्यमयी बीमारी है, जो कि बेहद गंभीर किस्म की है

डॉ मेहता कहते हैं, यह बच्चों में एक रहस्यमयी बीमारी है, यह गंभीर है, और उतना ही खतरनाक भी है, लेकिन अब तक की छोटी संख्या को देखते हुए उन्हें नहीं लगता कि सामान्य रूप से यह बच्चों के लिए एक आतंक की स्थिति है। वहीं, चिकित्सा अधिकारियों ने माता-पिता को आश्वस्त किया है कि ऐसे मामले "बहुत दुर्लभ" हैं।

फिलहाल रहस्यमयी बीमारी के बारे में पता लगाने के लिए जांच जारी है

फिलहाल रहस्यमयी बीमारी के बारे में पता लगाने के लिए जांच जारी है

हालांकि अभी रहस्यमय बीमारी के बारे में पता लगाने के लिए जांच जारी है। इंग्लैंड में राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) के चिकित्सा निदेशक स्टीफन पॉविस ने इस सप्ताह की शुरुआत में कहा था, हमने अपने विशेषज्ञों से इस पर तत्काल ध्यान देने के लिए कहा है। उन्होंने कहा, यह पिछले केवल कुछ दिनों में सामने आया है, जिसको हमने रिपोर्ट्स देखा है।

English summary
The Pediatric Intensive Care Society in England said in a statement that intensive care is needed in the last three weeks in multi-system states, with London in other areas of the UK, where this mysterious disease spreading to children of almost all ages is evident developed. At the same time, the Society has expressed concern over "SARS-CoV-2-related inflammatory syndrome" in children in the UK and warned that another unknown infectious disease associated with these cases may be the cause of the mysterious disease.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X