• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

US Capitol Row: बोले बाइडेन-'ये लोकतंत्र पर सीधा हमला है, संविधान का पालन करें ट्रंप'

|

Democracy Under Assault said Joe Biden on chaos at U.S. Capitol: अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनावी नतीजों को लेकर सियासी घमासान जारी है। इस बीच राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump ) के समर्थकों ने कैपिटल बिल्डिंग में जमकर हंगामा किया है। यह हंगामा ऐसे समय में हुआ जब यहां नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन को चुनाव जीतने का सर्टिफिकेट दिया जाना था, इस पूरे हंगामे में एक महिला समेत 4 लोगों की मौत हो गई है और कई लोग घायल हो गए हैं। इस पूरे प्रकरण को अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने लोकतंत्र पर 'अभूतपूर्व हमला' बताया है।

ये लोकतंत्र पर सीधा हमला है, संविधान का पालन करें ट्रंप
    US Violence : Donald Trump समर्थकों का कैपिटल बिल्डिंग में हंगामा,एक महिला की मौत | वनइंडिया हिंदी

    उन्होंने इस बारे में एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि कैपिटल बिल्डिंग में जो भी हुआ है वो राजद्रोह है, ये किसी भी तरह से स्वीकार्य नहीं है। मैं राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का आह्वान करता हूं कि वह अपनी शपथ पूरी करें और संविधान की रक्षा करें और हंगामे को बंद कराएं। ये कानून न मानने वाले अतिवादियों की छोटी संख्या है, जो किसी भी तरह से सही और उचित नहीं है।

    लोकतंत्र के काम को आगे बढ़ने दें: कमला हैरिस

    मालूम हो कि बाइडन के बाद उपराष्ट्रपति पद के लिए चुनी गईं कमला हैरिस ने भी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों के यूएस कैपिटल से हटने की मांग की है और इस घटना की कड़ी निंदा की है। कमला हैरिस ने अपने ट्वीट में कहा, 'मैं कैपिटल और अपने देश के लोक सेवकों पर हमले के लिए बाइडेन के आह्वान में शामिल हूं जिसमें उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के काम को आगे बढ़ने दें।'

    सत्ता का हस्तांतरण शांतिपूर्ण ढंग से होना जरूरी है: PM मोदी

    तो वहीं इस पूरे प्रकरण पर अब पीएम नरेंद्र मोदी ने भी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने घंटा की निंदा करते हुए एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि लोकतंत्र में सत्ता का हस्तांतरण शांतिपूर्ण ढंग से होना जरूरी है लेकिन इस तरह के प्रदर्शनों के जरिए लोकतांत्रिक प्रक्रिया को नुकसान नहीं पहुंचाया जा सकता है, जो भी हुआ है वो सही नहीं है।

    वॉशिंगटन में कर्फ्यू लगा दिया गया

    आपको बता दें कि अमेरिकी संसद (US Senate) के संयुक्त सत्र में निर्वाचक मंडल के मतों की गणना और उन्हें प्रमाणित करने की प्रकिया बुधवार को आरंभ हुई थी लेकिन इसी बीच ट्रंप समर्थकों (Donald Trump) ने हंगामा शुरू कर दिया। ट्रंप समर्थक पुलिस का घेरा तोड़ कर कैपिटल बिल्डिंग(Capitol building) के भीतर घुस गए और भयानक तोड़फोड़ की गई है। स्थिति को बिगड़ती हुए देख वॉशिंगटन में कर्फ्यू लगा दिया गया। हालांकि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील की है।अमेरिकी सीनेट के अंदर की जो तस्वीरें और वीडियो सामने आए हैं उनमें प्रदर्शनकारी सीनेट चैंबर के पास जमा हुए दिखाई दे रहे हैं, इनमें से कुछ के पास हथियार भी देखे गए हैं।

    यह पढ़ें: Capitol Row: बराक ओबामा ने जारी किया बयान, कहा- 'आज US Senate के इतिहास का काला दिन'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    President-elect Joe Biden denounced the storming of the US Capitol as an insurrection and demanded President Donald Trump go on television to call an end to the violent siege.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X