• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

कोरोना से डर गया चीन! अब मछलियों,केकड़ों का भी किया जा रहा है Covid टेस्ट

चीन का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। खबर के मुताबिक, चीन में कोरोना महामारी का डर इस कदर फैल गया है कि, अब लोग केकड़ा और मछलियों का भी कोरोना टेस्ट कर रहे हैं।
Google Oneindia News

शंघाई, 20 अगस्त : दुनिया मानती है की कोरोना महामारी की उत्पत्ति चीन के वुहान शहर से हुई है। इसको लेकर अभी भी जांच जारी है। खबरों के मुताबिक, वुहान शहर के शी फूड मार्केट से कोरोना महामारी का प्रसार हुआ था। जिसके बाद से जो परिस्थितियां उत्पन्न हुईं ये बताने की अब जरूरत ही नहीं है। हालांकि, 2020 की तुलना में अब भारत समेत कई देशों में कोरोना महामारी के मामले कम हो रहे हैं, लेकिन डर अभी भी बरकरार है। क्योंकि, कोरोना अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। इसका असर भारत, चीन समेत दुनिया के अधिकांश देशों में है। चीन में आज कोरोना का कहर बरकरार है। लोग अब डर के कारण इतने सतर्क हो गए हैं कि, वे मछली और केकड़ों का कोरोना टेस्ट करा रहे हैं।

मछली, केकड़ों का कोविड टेस्ट

मछली, केकड़ों का कोविड टेस्ट

चीन में अभी भी कोरोना (Corona) का डर इस कदर फैला हुआ कि इंसानों के साथ-साथ जानवरों का भी कोविड टेस्ट (Covid Test) किया जा रहा है। खबर के मुताबिक, चीन (China) के किसी शहर से एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें स्वास्थ्य कर्मियों को समुद्र से पकड़ी गई और व्यापार के जरिए लाई गई मछलियों, केकड़ों का टेस्ट (Fish Covid Test) करने के लिए उनका सैंपल लेते हुए देखा जा सकता है।सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर इन दिनों कोरोना से संबंधित एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।

कोरोना से डर गया चीन?

कोरोना से डर गया चीन?

मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक, ये वीडियो चीन के ज़ियामेन शहर का बताया जा रहा है। इस शहर में कोरोना के कई सारे आसपास मामले सामने आने के बाद लगभग पांच मिलियन से अधिक लोगों को कोविड-19 परीक्षण से गुजरने का आदेश दिया गया था। अब इंसानों के साथ-साथ यहां जानवरों का भी कोविड टेस्ट किया जा रहा है। एक आधिकारिक नोटिस में कहा गया है कि नए कोविड परीक्षण अभियान में कुछ समुद्री जीवों के भी शामिल होने की उम्मीद है।

मछुआरों के साथ-साथ समुद्री जीवों का कोरोना टेस्ट

हाल के सप्ताहों में ज़ियामेन की जिमी समुद्री महामारी नियंत्रण जिला समिति ने एक नोटिस जारी करते हुए कहा कि जब मछुआरे अपने बंदरगाहों पर लौटते हैं तो मछुआरे और उनके समुद्री भोजन दोनों का कोविड टेस्ट किया जाना चाहिए। इसके बाद सोशल मीडिया पर कई वीडियो सामने आई, जिसमें जिसमें चिकित्सा अधिकारियों को जीवित मछली और केकड़ों का कोविड-19 पीसीआर टेस्ट करते हुए देखा गया।

जानवरों के कोविड टेस्ट

जानवरों के कोविड टेस्ट

चीन की कई मीडिया समुद्री जीवों में कोरोना वायरस होने की जानकारी देता रहा है। कोविड-19 (Covid-19) की शुरूआत मध्य चीनी शहर वुहान (Wuhan) से हुई थी. तब कहा गया था कि वुहान के समुद्री भोजन बाजार से ये वायरस निकला है. हालांकि जानवरों से कोरोना फैलने की बात साबित नहीं हुई है. बहरहाल पिछले दो वर्षों में चीन (China) के इस अभियान के दौरान मछली ही नहीं बल्कि अन्य जानवरों का भी कोविड-19 परीक्षण किया गया है. इससे पहले पूर्वी झेजियांग के हुझोउ में वन्यजीव पार्क में परीक्षण किए जा रहे एक हिप्पो के फुटेज को प्रसारित किया गया था।

ये भी पढ़ें :पीएम शेख हसीना अगले महीने भारत का दौरा करेंगी, PM मोदी से करेंगी मुलाकात, आपसी हितों पर चर्चा संभवये भी पढ़ें :पीएम शेख हसीना अगले महीने भारत का दौरा करेंगी, PM मोदी से करेंगी मुलाकात, आपसी हितों पर चर्चा संभव

Comments
English summary
As Covid-19 infections are increasing in China, the country has found unique ways to grapple with the situation. Recently, a video went viral on social media where Chinese authorities could be seen increasing the scope of the PCR test beyond human beings.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X